Home /News /dharm /

Chhath Puja 2021: छठ पूजा के दौरान जरूर करें ये काम, छठी मैया पूरी करेंगी हर मनोकामना

Chhath Puja 2021: छठ पूजा के दौरान जरूर करें ये काम, छठी मैया पूरी करेंगी हर मनोकामना

छठ पूजा में सफाई का बहुत अधिक ध्यान रखना पड़ता है. इसलिए बिना साफ-सफाई के पूजा की कोई भी चीज नहीं छूनी चाहिए. Image-shutterstock.com

छठ पूजा में सफाई का बहुत अधिक ध्यान रखना पड़ता है. इसलिए बिना साफ-सफाई के पूजा की कोई भी चीज नहीं छूनी चाहिए. Image-shutterstock.com

Chhath Puja 2021: तिथि के अनुसार, छठ पूजा 4 दिनों की होती है. इस दौरान व्रतधारी लगातार 36 घंटे का व्रत रखते हैं. व्रत के दौरान वह पानी भी ग्रहण नहीं करते हैं. यह व्रत संतान प्राप्ति के साथ-साथ परिवार की सुख-समृद्धि के लिए भी रखा जाता है. छठ पूजा के दौरान बहुत ही विधि-विधान के साथ पूजा की जाती है. इस दिन विधि-विधान से पूजा करने के साथ-साथ कई नियमों का पालन करना भी बहुत जरूरी होता है. यह व्रत जितना कठिन होता है उतने ही कठिन इसके नियम होते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    Chhath Puja 2021: छठ पूजा (Chhath Puja) कार्तिक शुक्ल पक्ष की षष्ठी को बड़ी ही धूमधाम से मनाई जाती है. इस वर्ष छठ पूजा 10 नवंबर (बुधवार) को है. छठ पूजा का प्रारंभ दो दिन पूर्व चतुर्थी तिथि को नहाय खाय से होता है, फिर पंचमी को लोहंडा और खरना होता है. उसके बाद षष्ठी तिथि को छठ पूजा होती है, जिसमें सूर्य देव (Surya dev) को शाम का अर्घ्य अर्पित किया जाता है. इसके बाद अगले दिन सप्तमी को सूर्योदय के समय उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देते हैं और फिर पारण करके व्रत पूरा किया जाता है. तिथि के अनुसार, छठ पूजा 4 दिनों की होती है. इस दौरान व्रतधारी लगातार 36 घंटे का व्रत रखते हैं. व्रत के दौरान वह पानी भी ग्रहण नहीं करते हैं. यह व्रत संतान प्राप्ति के साथ-साथ परिवार की सुख-समृद्धि के लिए भी रखा जाता है.

    छठ पूजा (Chhath Puja) के दौरान बहुत ही विधि-विधान के साथ पूजा की जाती है. इस दिन विधि-विधान से पूजा करने के साथ-साथ कई नियमों का पालन करना भी बहुत जरूरी होता है. यह व्रत जितना कठिन होता है उतने ही कठिन इसके नियम होते हैं.

    जानें छठ पूजा के दौरान किन 10 नियमों का पालन करना बहुत जरूरी होता है-

    Chhath Puja 2021- छठ पूजा के जरूरी नियम
    -मान्यताओं के अनुसार प्याज और लहसुन का सेवन करना इन 4 दिनों में वर्जित माना जाता है.
    -छठ पूजा में सफाई का बहुत अधिक ध्यान रखना पड़ता है. इसलिए बिना साफ-सफाई के पूजा की कोई भी चीज नहीं छूनी चाहिए.

    इसे भी पढ़ेंः Chhath 2021 Songs : छठी मईया के 5 पारंपरिक गीत जो बरसों से बसे हैं व्रतियों के जेहन में, यहां पढ़ें गानों के बोल

    -जो महिलाएं यह व्रत करती हैं वह इन दिनों में पलंग या चारपाई पर नहीं सोती बल्कि जमीन पर चादर बिछाकर सोती हैं.
    -सूर्य भगवान को अर्ध्य देना बहुत ही जरूरी माना जाता है. इसलिए कभी भी पूजा के लिए चांदी, स्टील, प्लास्टिक के बर्तनों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.
    -प्रसाद तैयार करते समय खुद कुछ नहीं खाना चाहिए.
    -जिस जगह आप प्रसाद बना रहे हैं, वहां पर पहले खाना न बनता हो.
    -पूजा के समय हमेशा साफ-सुथरे और धुले हुए कपड़े ही पहनें.

    ये भी पढ़ें: Chhath Puja 2021: छठ पूजा की तैयारियों में इन गलतियों को करने से बचें, वरना भुगतना पड़ सकता है गंभीर परिणाम

    -अगर आपने व्रत रखा है तो बिना सूर्य को अर्घ्य दिए जल या फिर किसी और चीज का सेवन न करें.
    -छठ व्रत के दौरान शराब, अल्कोहल और मांसाहारी खाने से दूरी बनाकर रखें.
    -पूजा के दिनों में किसी को भी फलों का सेवन नहीं करना चाहिए. पूजा समाप्त होने के बाद फलों का सेवन कर सकते हैं.

    (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    Tags: Bihar Chhath Puja, Chhath Puja, Chhath Puja 2021, Religion, धर्म

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर