होम /न्यूज /धर्म /December 2022 Vrat Tyohar: आज से दिसंबर माह प्रारंभ, जानें कब है मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती, खरमास?

December 2022 Vrat Tyohar: आज से दिसंबर माह प्रारंभ, जानें कब है मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती, खरमास?

दिसंबर 2022 के व्रत एवं त्योहारों में मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती, अन्नपूर्णा जयंती आदि महत्वपूर्ण हैं.

दिसंबर 2022 के व्रत एवं त्योहारों में मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती, अन्नपूर्णा जयंती आदि महत्वपूर्ण हैं.

December 2022 Vrat Tyohar: साल 2022 के अंतिम माह दिसंबर का प्रारंभ आज से हुआ है. इस माह में मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती, ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

इस माह में ही खरमास प्रारंभ होगा, जिसकी वजह से मांगलिक कार्यों पर रोक लग जाएगी.
मोक्षदा एकादशी और गीता जयंती एक ही तिथि को होती है.

December 2022 Vrat Tyohar: साल 2022 के अंतिम माह दिसंबर का प्रारंभ आज से हुआ है. इस माह में मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती, सोम प्रदोष व्रत, मार्गशीर्ष पूर्णिमा, अन्नपूर्णा जयंती, दत्तात्रेय जयंती, अखुरथ संकष्टी चतुर्थी, धनु संक्रांति, सफला एकादशी, मासिक शिवरात्रि, पौष अमावस्या, विनायक चतुर्थी जैसे महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार आने वाले हैं. इस माह में ही खरमास प्रारंभ होगा, जिसकी वजह से विवाह, गृह प्रवेश, मुंडन आदि जैसे मांगलिक कार्यों पर रोक लग जाएगी. फिर मकर संक्रांति 2023 से मांगलिक कार्य प्रारंभ होंगे. इस माह में ही ईसाई समुदाय का सबसे बड़ा त्योहार क्रिसमस भी आने वाला है. तिरुपति के ज्योतिषाचार्य डॉ. कृष्ण कुमार भार्गव से जानते हैं दिसंबर के व्रत एवं त्योहारों के बारे में.

दिसंबर 2022 के व्रत एवं त्योहार

03 दिसंबर, दिन: शनिवार: मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती

05 दिसंबर, दिन: सोमवार: सोम प्रदोष व्रत

7 दिसंबर, दिन: मंगलवार: दत्तात्रेय जयंती

08 दिसंबर, दिन: गुरुवार: मार्गशीर्ष पूर्णिमा, अन्नपूर्णा जयंती

ये भी पढ़ें: आज शाम से लग रहा है अग्नि पंचक, 5 दिन नहीं होंगे ये काम

09 दिसंबर, दिन: शुक्रवार: पौष माह प्रारंभ

11 दिसंबर, दिन: रविवार: अखुरथ संकष्टी चतुर्थी

16 दिसंबर, दिन: शुक्रवार: धनु संक्रांति, खरमास प्रारंभ, सूर्य का राशि परिवर्तन

19 दिसंबर, दिन: सोमवार: सफला एकादशी

21 दिसंबर, दिन: बुधवार: प्रदोष व्रत, मासिक शिवरात्रि

23 दिसंबर, दिन: शुक्रवार: पौष अमावस्या

25 दिसंबर, दिन: रविवार: क्रिसमस, बड़ा दिन

ये भी पढ़ें: सिरहाने के पास नहीं रखें ये वस्तुएं, दांपत्य जीवन में आती हैं समस्याएं

26 दिसंबर, दिन: सोमवार: विनायक चतुर्थी

मोक्षदा एकादशी और गीता जयंती साथ
हर साल मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष एकादशी को मोक्षदा एकादशी और गीता जयंती मनाई जाती है. मोक्षदा एकादशी मोक्ष प्रदान करने वाली है. इस व्रत को सभी को करना चाहिए. वहीं महाभारत काल में भगवान श्रीकृष्ण ने मोक्षदा एकादशी को गीता का उपदेश दिया था, इसलिए इस तिथि को गीता जयंती मनाते हैं. इस साल मोक्षदा एकादशी और गीता जयंती 03 दिसंबर को है.

खरमास प्रारंभ 2022
दिसंबर माह में खरमास का प्रारंभ 16 तारीख को शुक्रवार से हो रहा है. जिस तरह से व्रत और त्योहार का महत्व है, वैसे ही खरमास का महत्व है क्योंकि इस समय में कोई भी मांगलिक कार्य नहीं करते हैं.

Tags: Dharma Aastha, Lord krishna, Lord vishnu

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें