होम /न्यूज /धर्म /

12 राशि के 12 अलग-अलग रत्न पहुंचाएंगे आपको लाभ, मिलेगी हर समस्या से निजात

12 राशि के 12 अलग-अलग रत्न पहुंचाएंगे आपको लाभ, मिलेगी हर समस्या से निजात

मेष राशि के जातकों को मूंगा, माणिक्य, पुखराज रत्न धारण करना चाहिए.

मेष राशि के जातकों को मूंगा, माणिक्य, पुखराज रत्न धारण करना चाहिए.

रत्नों को धारण करने के लिए रत्न शास्त्र में कई प्रक्रियाएं बताई गई है. इन रत्नों को कुंडली में ग्रह नक्षत्र की स्थिति को देखते हुए धारण करने की सलाह दी जाती है, जिससे आपके बिगड़े हुए ग्रहों के दुष्प्रभाव को सामान्य किया जा सके. किस राशि के लिए कौन सा रत्न शुभ है, इस विषय में हर व्यक्ति को जानकारी होना चाहिए.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

वृषभ राशि वालों को माता लक्ष्मी, भगवान गणेश, माता दुर्गा की आराधना करनी चाहिए.
सिंह राशि के स्वामी सूर्य देव हैं.

Gemstone According To Zodiac : रत्नों का मनुष्य जीवन पर गहरा प्रभाव पड़ता है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मानव जन्म 12 राशियों में जन्म लेते हैं. इन राशियों की कुंडली में अच्छे और बुरे योग बनते रहते हैं. कुंडली में किसी दोष या किसी ग्रह के अशुभ प्रभाव को कम करने के लिए रत्नों को धारण किया जा सकता है. सभी 12 राशि के लोग अपनी राशि के अनुसार इन रत्नों को धारण कर सकते हैं. आज हमें भोपाल निवासी ज्योतिषी एवं पंडित हितेंद्र कुमार शर्मा बता रहे हैं कि किस राशि के जातक कौन सा रत्न धारण करके अपनी समस्याओं से निजात पा सकते हैं.

  • मेष राशि के ग्रह स्वामी मंगल ग्रह है. मेष राशि वालों को हनुमान जी की पूजा मंगलवार का व्रत सूर्य चालीसा आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करना चाहिए. साथ ही, गुरुवार का व्रत, विष्णु जी का पूजन करने के साथ ही मूंगा, माणिक्य, पुखराज रत्न धारण करना चाहिए.
  • वृषभ राशि के स्वामी शुक्र हैं. वृषभ राशि वालों को माता लक्ष्मी, भगवान गणेश, माता दुर्गा की आराधना करना चाहिए. साथ ही लक्ष्मी चालीसा, दुर्गा चालीसा और गणेश चालीसा का पाठ भी करते रहना चाहिए. इसके अलावा, वृषभ राशि वालों को शुक्रवार के दिन विधि विधान के साथ हीरा धारण करना चाहिए.

यह भी पढ़ें – क्या आप जानते हैं सफेद मूंगा धारण करने के फायदे और नियम? यहां पढ़ें

  • मिथुन राशि के ग्रह स्वामी बुध हैं. मिथुन राशि वालों को भगवान गणेश माता, लक्ष्मी और देवी काली की उपासना करने के साथ पन्ना, हिरा और नीलम रत्न पहनना शुभ होता है.
  • कर्क राशि की ग्रह स्वामी चंद्रमा होते हैं. इस राशि वाले लोगों को भगवान शिव, हनुमान और भगवान विष्णु की आराधना करना चाहिए. इसके अलावा कर्क राशि वाले मोती मूंगा और पुखराज रत्न धारण कर सकते हैं.
  • सिंह राशि के स्वामी सूर्य देव हैं. सिंह राशि वालों को भगवान सूर्य, भगवान विष्णु और हनुमान की आराधना करनी चाहिए. इसके अलावा सिंह राशि वाले जातक माणिक, मूंगा और पुखराज रत्न धारण कर सकते हैं.
  • कन्या राशि के स्वामी बुध ग्रह को माना जाता है. कन्या राशि वाले लोगों को भगवान गणेश, माता दुर्गा और माता लक्ष्मी की आराधना करनी चाहिए. इसके अलावा कन्या राशि के जातक पन्ना, नीलम और हीरा धारण कर सकते हैं.
  • तुला राशि के ग्रह स्वामी शुक्र हैं. तुला राशि वालों को माता लक्ष्मी, माता काली, मां दुर्गा और भगवान गणेश की आराधना करनी चाहिए. इसके अलावा तुला राशि वाले जातक हीरा, नीलम और पन्ना रत्न धारण कर सकते हैं.
  • वृश्चिक राशि के स्वामी मंगल ग्रह हैं. वृश्चिक राशि वाले जातक को हनुमान, भगवान विष्णु और भगवान शिव की आराधना करना शुभ होता है. इसके अलावा इस राशि के लोग मूंगा, पुखराज और मोती रत्न धारण कर सकते हैं.
  • धनु राशि के ग्रह स्वामी बृहस्पति देव माने जाते हैं. धनु राशि वाले लोगों को भगवान विष्णु, भगवान हनुमान और सूर्य देव की आराधना करनी चाहिए. इसके अलावा इस राशि के जातक पुखराज, मूंगा और माणिक धारण कर सकते हैं.
  • मकर राशि के ग्रह स्वामी शनि देव माने जाते हैं. मकर राशि के जातकों को शनि देव, हनुमान, माता दुर्गा, माता लक्ष्मी के अलावा भगवान गणेश की आराधना करना शुभ माना जाता है. इसके अलावा इस राशि के जातक नीलम, हीरा और पन्ना रत्न धारण कर सकते हैं.
  • कुंभ राशि के स्वामी भी शनि देव होते हैं, इसलिए इस राशि के लोगों को शनि देव, माता काली, भगवान गणेश, मां दुर्गा और मां लक्ष्मी की आराधना करनी चाहिए. इसके अलावा इस राशि के जातक नीलम, पन्ना और हीरा रत्न धारण कर सकते हैं.


यह भी पढ़ें – Janmashtami 2022: राशि के अनुसार करें भगवान श्रीकृष्ण की पूजा, होगी हर मनोकामना पूरी

  • मीन राशि मीन राशि के ग्रह स्वामी बृहस्पति देव होते हैं. इस राशि के जातकों को भगवान विष्णु भगवान शिव और हनुमान की आराधना करना शुभ फलदाई होता है. इस राशि के जातक पुखराज, मोती और मूंगा रत्न धारण कर सकते हैं.

Tags: Dharma Aastha, Religion

अगली ख़बर