हज यात्रा के दौरान इन नियमों का जरूर करें पालन

सऊदी एयरपोर्ट पर जांच के वक्त अगर किसी भी तरह की कोई भी नशीली चीज यात्री के पास से मिलती है, तो उसे हज नहीं करने दिए जाने से लेकर 14 साल के जेल की सजा दी जाएगी

News18Hindi
Updated: July 24, 2019, 4:37 PM IST
हज यात्रा के दौरान इन नियमों का जरूर करें पालन
सऊदी एयरपोर्ट पर जांच के वक्त अगर किसी भी तरह की कोई भी नशीली चीज यात्री के पास से मिलती है, तो उसे हज नहीं करने दिए जाने से लेकर 14 साल के जेल की सजा दी जाएगी
News18Hindi
Updated: July 24, 2019, 4:37 PM IST
इस साल हज 4 जुलाई से 14 सितंबर तक चलेगा, लेकिन मुख्य हज अवधि 8 से 14 अगस्त तक ही होगी. इस दौरान दुनिया भर के मुसलमान मक्का और आसपास के पवित्र स्थलों में हज की रस्में अदा करेंगे. लेकिन पवित्र हज यात्रा करते वक्त कई नियमों का पालन करना पड़ता है. सऊदी अरब की सरकार ने यह सुनिश्चित करने के लिए कड़ा रुख अख्तियार किया है. सऊदी अरब जा रहे हज यात्रियों को-

- किसी भी तरह का नशीला पदार्थ ले जाना प्रतिबंधित है.

- सऊदी एयरपोर्ट पर जांच के वक्त अगर किसी भी तरह की कोई भी नशीली चीज यात्री के पास से मिलती है, तो उसे हज नहीं करने दिए जाने से लेकर 14 साल के जेल की सजा दी जाएगी.

- इसके पूर्व यात्री अपने साथ खशखश लेकर हज नहीं जाते थे क्योंकि सऊदी में हज यात्री के पास खशखश मिलने पर मौत की सजा का प्रावधान है.

- केवल 45 साल से बड़ी 4 या 4 से ज्यादा महिलाएं ग्रुप में बिना मर्द के जा हज करने आ सकती हैं. इसके लिए भी उन्हें अपने पिता या शौहर से 'नो ऑबजेक्शन' सर्टिफिकेट ललेना पड़ेगा. इसके पूर्व तो किसी भी वर्ग की महिलाओं को अकेले, बिना किसी पुरुष साथी के हज करने की अनुमति नहीं थी.

- हज पर कितने लोग जायेंगे यह सऊदी अरब ही तय करता है. हर देश के लिए सऊदी अरब लोगों का अलग-अलग कोटा तय करता है. वैसे हज पर जाने के दो रास्ते होते हैं. पहला रास्ता होता है सरकारी कोटे का. और दूसरा होता है प्राइवेट.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
First published: July 24, 2019, 4:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...