Durga Ashtami 2020 Date: नवरात्रि में अष्टमी और नवमी तिथि का क्या है महत्व, जानें पूजा मुहूर्त

हिन्दू धर्म के कई समुदाए अपनी कुल परंपरा के अनुसार अष्टमी और नवमी तिथि के दिन ही कन्या पूजन करते हैं.
हिन्दू धर्म के कई समुदाए अपनी कुल परंपरा के अनुसार अष्टमी और नवमी तिथि के दिन ही कन्या पूजन करते हैं.

Durga Ashtami 2020 Date : नवरात्रि (Navaratri 2020) में अष्टमी (Ashtami) और नवमी (Navami) तिथि का महत्व विशेष होता है. हिन्दू धर्म के कई समुदाए अपनी कुल परंपरा के अनुसार अष्टमी और नवमी तिथि के दिन ही कन्या पूजन (Kanya Pujan) करते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2020, 9:59 PM IST
  • Share this:
Durga Ashtami 2020 Date: शारदीय नवरात्रि (Navaratri 2020) का दस दिवसीय पावन पर्व, देश ही नहीं बल्कि दुनियाभर में बेहद धूमधाम के साथ मनाया जाता है. इस दौरान भक्त देवी शक्ति व मां दुर्गा (Maa Durga) के समस्त नौ रूपों की आराधना कर, उनकी असीम कृपा प्राप्त करते हैं. यह पर्व हर वर्ष अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से आरंभ होता है, जो नवमी तक चलता है और इस बार अष्टमी (Ashtami) तिथि 23 अक्टूबर (शुक्रवार) की सुबह 06:58:53 बजे से 24 अक्टूबर (शनिवार) सुबह 07:01:02 बजे तक रहेगी. वहीं नवमी (Navami) तिथि 24 अक्टूबर (शनिवार) को 07:01:02 बजे से शुरू होगी जो अगले दिन 25 अक्टूबर (रविवार) को 07:44:04 बजे तक रहेगी. इस नवरात्रि का आगमन शरद ऋतु में होता है, इसलिए इसे शारदीय नवरात्रि कहा गया है. इन दोनों ही दिन मां दुर्गा के दो अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है.

-अष्टमी तिथि को देवी महागौरी की आराधना का विधान है.
-नवमी तिथि मां दुर्गा के सिद्धिदात्री स्वरूप को समर्पित होती है.

इसे भी पढ़ेंः Durga Puja 2020: जानें दुर्गा पूजा के सभी दिनों के शुभ मुहूर्त और तिथि
अष्टमी और नवमी पूजा का महत्व


नवरात्रि में अष्टमी और नवमी तिथि का महत्व विशेष होता है. हिन्दू धर्म के कई समुदाए अपनी कुल परंपरा के अनुसार अष्टमी और नवमी तिथि के दिन ही कन्या पूजन करते हैं. इसके साथ ही कई अन्य मांगलिक कार्यक्रम जैसे मुंडन, अन्नप्राशन संस्कार और गृह प्रवेश भी इन तिथि पर किया जाना शुभ माना जाता है. शारदीय नवरात्रि 2020 में अष्टमी और नवमी पूजन 24 अक्टूबर (शनिवार) को किया जा रहा है.



अष्टमी और नवमी तिथि पर अनोखा संयोग
ज्योतिष वेबसाइट एस्ट्रोसेज के अनुसार इस बार 24 अक्टूबर (शनिवार) को महानवमी का उत्तम संयोग पड़ेगा. शास्त्रों ने इस संयोग को त्रिलोकों में दुर्लभ बताया है.

अष्टमी और नवमी पूजा का शुभ मुहूर्त
हिन्दू पंचांग के अनुसार इस वर्ष 2020 में, जहां शारदीय नवरात्रि की अष्टमी तिथि 23 अक्टूबर को 06:58:53 के बाद से ही प्रारम्भ होगी, जो अगले दिन 24 अक्टूबर को 07:01:02 पर तक रहेगी. वहीं नवमी तिथि का आरंभ 24 अक्टूबर को 07:01:02 बजे से होगा, जो अगले दिन 25 अक्टूबर को 07:44:04 बजे तक रहेगी.

इसे भी पढ़ेंः Navratri 2020: शारदीय नवरात्रि पर मां दुर्गा के इन मंदिरों में जरूर करें दर्शन, पूरी होगी मनोकामना

अष्टमी पूजन का शुभ मुहूर्त
अक्टूबर 23, 2020- 06:58:53 से अष्टमी आरम्भ
अक्टूबर 24, 2020- 07:01:02 पर अष्टमी समाप्त

नवमी पूजन का शुभ मुहूर्त
अक्टूबर 24, 2020- 07:01:02 से नवमी आरम्भ
अक्टूबर 25, 2020- 07:44:04 पर नवमी समाप्त

शारदीय नवरात्रि पारण मुहूर्त
25 अक्टूबर 2020 (रविवार)- सुबह 07:44:04 के बाद से (साभार- Astrosage.com)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज