• Home
  • »
  • News
  • »
  • dharm
  • »
  • EID UL FITR 2021 WHEN IS EID AND HOW DO WE CELEBRATE THIS FESTIVAL OF HAPPINESS DLNK

Eid-Ul-Fitr 2021: जानिए कब है ईद और कैसे मनाते हैं खुशियों का यह त्‍योहार

Eid-Ul-Fitr 2021: खुशियों के इस त्‍योहार पर सब करते हैं अपने रब का शुक्रिया...

Eid-Ul-Fitr 2021: ईद को मीठी ईद (Meethi Eid) भी कहते हैं. इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक शव्वाल महीने की पहली तारीख को ईद-उल-फितर कहा जाता है. खुशियों के इस त्‍योहार (Festival Of Happiness) पर लोग एक-दूसरे को मुबारकबाद देते हैं.

  • Share this:
    Eid-Ul-Fitr 2021: रमज़ान (Ramadan/Ramzan) का बरकतों वाला मुबारक महीना बस खत्‍म होने ही वाला है. अलविदा (Alvida) हो चुकी है और अब ईद-उल-फितर आने ही वाली है. ईद को कुछ लोग मीठी ईद (Meethi Eid) भी कहते हैं. इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक शव्वाल महीने की पहली तारीख को ईद-उल-फितर कहा जाता है. एक महीने के रोजे़ पूरे होने के बाद यह खुशी का मौका होता है जब लोग एक दूसरे से गले मिलते हैं और ईद मनाते हैं. ईद का त्योहार चांद देखकर मनाया जाता है. ऐसे में ईद का त्योहार (Festival) कब मनाया जाएगा यह चांद (Moon) देख कर ही तय होगा. यानी अगर 12 मई को चांद दिख गया तो ईद 13 मई को मनाई जाएगी, अगर 13 मई को चांद नजर आया तो ईद 14 मई को होगी.

    मिठास से भरा है यह खास त्‍योहार
    हालांकि बीते साल की तरह इस साल भी कोरोना संक्रमण को देखते हुए मस्जिदों में सीमित लोग ही जा सकेंगे. वहीं सोशल डिस्‍टेंसिंग के इस समय में गले मिलना और कोई आयोजन करना भी संभव नहीं होगा. बहरहाल, खुशियों का यह त्‍योहार ईद हर साल मीठे पकवान, सेवइयां आदि बनाकर और दोस्‍तों, परिचितों से गले मिल कर मनाया जाता है. भाईचारे का संदेश देते इस खास दिन अपने हों या गैर सब गले मिल कर एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद देते हैं.

    ये भी पढ़ें - Ramadan 2021: जानें माहे-रमज़ान में नमाज़े-तरावीह की अहमियत, मिलता है सवाब

    गरीबों को दी जाती है जकात
    ईद उल फितर के दिन लोग सुबह जल्‍दी उठ कर नहा-धोकर नए कपड़े पहन कर मस्जिदों में ईद की नमाज के लिए जाते हैं, जहां सब कई सफों में इकट्ठा होकर अल्‍लाह की बारगाह में अपने गुनाहों की माफी मांगते हैं और अपने रब का शुक्रिया अदा करते हैं कि उन्‍हें अपने अल्‍लाह की ओर से रमज़ान के पाक महीने में इबादत करने का मौका मिला. इस मौके पर मुसलमान अमन-चैन और सबकी बेहतरी की दुआ करते हैं. इसके अलावा ईद के इस मुबारक मौके पर गरीबों, बेसहारा लोगों को जकात दी जाती है.
    Published by:Naaz Khan
    First published: