Home /News /dharm /

ganga dusshera 2022 har samasya ke liye asan upay kee

गंगा दशहरा पर करें ज्योतिष के ये उपाय, हर समस्या से हो जाएंगे मुक्त

हिंदू धर्म में गंगा दशहरे का अत्यंत महत्व है. (Image-Canva)

हिंदू धर्म में गंगा दशहरे का अत्यंत महत्व है. (Image-Canva)

गंगा दशहरा हर वर्ष जेष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार गंगा दशहरे (Ganga Dusshera) के दिन मां गंगा पृथ्वी पर अवतरित हुईं थीं. मान्यता है कि गंगा दशहरे के दिन गंगा नदी में स्नान करने से सारे पाप धुल जाते हैं.

अधिक पढ़ें ...

Ganga Dusshera 2022: हिंदू पंचांग के अनुसार गंगा दशहरा हर वर्ष जेष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है. हिंदू धर्म में गंगा नदी को मां गंगा कहा जाता है. इन्हें पूजा जाता है और इनके पवित्र जल का उपयोग हर शुभ कार्य में किया जाता है. गंगा जल के उपयोग के बिना कोई भी मांगलिक कार्य पूर्ण नहीं माना जाता. हिंदू धर्म में गंगा दशहरे का अत्यंत महत्व इसलिए है क्योंकि इस दिन गंगा नदी में स्नान कर व्यक्ति अपने पापों से मुक्ति पा सकता है.

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार गंगा दशहरे पर ही गंगा नदी का अवतरण हुआ था. राजा भागीरथ कड़ी तपस्या के बाद अपने पूर्वजों की आत्मा के उद्धार के लिए मां गंगा को पृथ्वी पर लेकर आए थे. गंगा दशहरे के दिन कुछ विशेष उपाय करने से हर तरह की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं. इसके बारे में हमें बता रहे हैं भोपाल के रहने वाले पंडित हितेंद्र कुमार शर्मा, ज्योतिष.

गंगा दशहरा तिथि और स्नान मुहूर्त

9 जून 2022 को पड़ने वाला गंगा दशहरा सुबह 8:21 से आरंभ होकर अगले दिन 10 जून 2022 को शाम 7:25 तक रहेगा. 10 जून को उदया तिथि प्राप्त हो रही है. जिसकी वजह से गंगा दशहरा 10 जून को मनाया जाएगा. इस दिन हस्त नक्षत्र और व्यतिपात योग भी रहेगा. इस योग में स्नान और दान करना अत्यंत शुभ माना जाता है.

यह भी पढ़ें – June 2022 Vrat Tyohar List: कब है गंगा दशहरा, निर्जला एकादशी, वट पूर्णिमा व्रत, देखें जून के व्रत त्योहार

कर्ज मुक्ति का उपाय
यदि आपने किसी से कर्ज ले रखा है और आपको मुक्ति नहीं मिल रही है तो गंगा दशहरे के दिन सुबह के समय अपनी हाइट जितना काला धागा लें उसे एक नारियल पर लपेट कर शिवलिंग के पास रख दें और अपनी मनोकामना कहें. उसके बाद शाम के समय इस नारियल को उठाकर बहते जल में प्रवाहित करें और पीछे मुड़ के ना देखें. कुछ ही दिनों में आपकी समस्या का समाधान हो जाएगा.

नौकरी पाने का उपाय
यदि आप लंबे समय से नौकरी की तलाश कर रहे हैं और आपको सफलता नहीं मिल रही है, तो गंगा दशहरे के दिन एक मिट्टी का घड़ा लेकर उसमें कुछ बूंदे गंगा जल की डालें और थोड़ी सी शक्कर डालकर इस घड़े को पानी से भर दें. अब इस घड़े को किसी जरूरतमंद को दान करें यह उपाय आपकी नौकरी की अड़चन को दूर करेगा.

रोग से मुक्ति का उपाय
यदि आपके घर में कोई लंबे समय से बीमार है और उसे आराम नहीं हो रहा है तो गंगा दशहरे के दिन उसे गंगा नदी में स्नान कराएं. उसके बाद ‘विष नाशिन्यै, जीवनायै नमोऽस्तु ते, ताप त्रय संहन्त्र्यै, प्राणेश्यै ते नमो नमः’ मंत्र का 11 बार जाप करें. गंगा नदी तक जाना संभव ना हो तो घर के साधारण पानी में कुछ बूंदे गंगाजल की मिलाकर नहाएं और फिर 11 बार इस मंत्र का जाप करें.

यह भी पढ़ें- Ganga Dussehra 2022: जानें गंगा दशहरा पर पूजा और दान में 10 संख्या का महत्व

धन आगमन का उपाय
अगर आप आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं, तो गंगा दशहरे के दिन स्नान करने के बाद शिवलिंग का गंगाजल से अभिषेक करें और थोड़ा सा जल अपने कलश में बचा कर घर ले आएं. जल से पूरे घर में छिड़काव करें. आपके घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी और धन आगमन के रास्ते खुल जाएंगे.

Tags: Dharma Aastha, Ganga river, Gangajal, Religion

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर