Holi 2021: होलिका दहन के समय करें ये काम, दूर होगी धन की कमी


Holika Dahan 2021 Do These Remedies For Happy Life: होलिका दहन 28 मार्च यानी कि कल है. होलिका की अग्नि काफी शक्तिशाली मानी जाती है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, होलिका की अग्नि में सारी परेशानियां और नकारात्मकता जल कर भस्म हो जाती है. होलिका की अग्नि बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है. होलिका विष्णु भक्त प्रह्लाद के प्राण लेने के लिए उसे लेकर अग्नि में बैठी थी. अग्नि में ना जलने के वरदान के बावजूद वो जल कर राख हो गई क्योंकि होलिका के विचार गलत थे. होलिका दहन के दिन यदि कुछ विशेष काम किए जाएं तो आपको जीवन की कई परेशानियों का हल मिल सकता है...
 (File)

Holika Dahan 2021 Do These Remedies For Happy Life: होलिका दहन 28 मार्च यानी कि कल है. होलिका की अग्नि काफी शक्तिशाली मानी जाती है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, होलिका की अग्नि में सारी परेशानियां और नकारात्मकता जल कर भस्म हो जाती है. होलिका की अग्नि बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है. होलिका विष्णु भक्त प्रह्लाद के प्राण लेने के लिए उसे लेकर अग्नि में बैठी थी. अग्नि में ना जलने के वरदान के बावजूद वो जल कर राख हो गई क्योंकि होलिका के विचार गलत थे. होलिका दहन के दिन यदि कुछ विशेष काम किए जाएं तो आपको जीवन की कई परेशानियों का हल मिल सकता है... (File)

Holi 2021 Do These Remedies While Holika Dahan For Money- होलिका दहन के समय कुछ ख़ास काम करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, धन की कमी दूर होती है, जीवन में सुख-शांति आती है...

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 11:16 AM IST
  • Share this:
Holi 2021 Do These Remedies While Holika Dahan For Money- होलिका दहन 28 मार्च को है और रंगभरी होली 29 मार्च को है. हिंदू धर्म में इस त्योहार का विशेष महत्व है. हर साल फाल्गुन पूर्णिमा के दिन होलिका जलाई जाती है और होलिका माई की पूजा अर्चना की जाती है. होलिका दहन को बुराई पर अच्छाई की जीत के रूप में मनाया जाता है.

कई लोग होलिका दहन के समय कुछ ख़ास काम भी करते हैं जिससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, धन की कमी दूर होती है, जीवन में सुख-शांति आती है. आइए जानते हैं होलिका दहन के समय किन कामों को करने से धन की कमी दूर होगी और जीवन में खुशियां और सकारात्मकता आएगी...

इसे भी पढ़ें: हिरण्यकशिपु ने प्रह्लाद को मारने होलिका को भेजा, होलिका दहन की पौराणिक कथा जानें

होलिका दहन से पहले करें ये काम
● होलिका दहन के पूर्व, परिवार के सभी सदस्यों को सरसों तेल और हल्दी मिलाकर, उसका उबटन पूरे शरीर पर लगाना चाहिए.

● फिर उसके सूख जाने के बाद, इस पूरे उबटन को छुड़ा कर किसी कागज या कपड़े पर जमा कर लें.

● अब इस पूरे उबटन को पूजन सामग्री के साथ ही, होलिका में अर्पित कर दें.



● इसके बाद होलिका की परिक्रमा सपरिवार अवश्य करें. क्योंकि ऐसा करने से व्यक्ति को उसके सभी प्रकार के रोग, कष्ट और दोष से मुक्ति मिलती है.

● होलिका दहन करने से पूर्व घर के उत्तर दिशा में शुद्ध घी के सात दिये जरुर जलाएं. ऐसा करने से घर में धन, वैभव आता है और बाधाएं दूर होती हैं.

● होलिका दहन से पूर्व पूजा करने से पहले, अपने मस्तक पर हल्दी का पीला तिलक जरुर लगाएं.

● फिर होलिका दहन की रात्रि में घर पर सुंदर कांड अथवा विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ करने से भी, परिवार के सभी संकट दूर होते हैं.

● होलिका दहन की रात्रि वेला में, कई तांत्रिक अनुष्ठान एवं बंगलामुखी अनुष्ठान भी किए जा सकते हैं.

● होलिका दहन की रात्रि अपने वजन के बराबर अनाज एवं खाद्य सामग्रियों का दान करना, बेहद उचित व फलदायी माना गया है.

● मान्यता अनुसार इस दिन किए जाने वाले पान-पुण्य से कभी धन की कमी नहीं होती.

● होलिका दहन के दिन निर्धन बच्चों के बीच अबीर, गुलाल एवं वस्त्र वितरण करने से भी, व्यक्ति को असीम पुण्य और धन-वैभव की प्राप्ति होती है.

● होलिका दहन के समय फेरे लगाते हुए होलिका की अग्नि में चना, मटर, गेहूं, अलसी जरूर अर्पित करें. ऐसा करने से धन लाभ होता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज