चाहते हैं मां लक्ष्‍मी को प्रसन्‍न करना तो बिल्‍कुल न करें ये काम, बरसेगी कृपा

पूरी श्रद्धा से देवी लक्ष्‍मी की आराधना की जाए तो वे प्रसन्न होती हैं.

पूरी श्रद्धा से देवी लक्ष्‍मी की आराधना की जाए तो वे प्रसन्न होती हैं.

शुक्रवार (Friday) के दिन जो भक्त मां वैभव लक्ष्मी (Maa Vaibhav Laxmi) की पूजा करते हैं, उन्हें सुख-शांति की प्राप्ति होती है. शास्त्रों में लक्ष्मी मां को धन की देवी माना गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 7:35 AM IST
  • Share this:
हिंदू धर्म में देवी लक्ष्‍मी का खास स्‍थान है. शुक्रवार (Friday) का दिन मां वैभव लक्ष्मी (Maa Viabhav Laxmi) को समर्पित है. इस दिन जो भक्त मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं, उन्हें सुख-शांति की प्राप्ति होती है. शास्त्रों में लक्ष्मी मां को धन की देवी माना गया है. मान्यता है कि शुक्रवार के दिन उनकी पूजा आराधना करने से भक्‍तों पर उनका आशीर्वाद बना रहता है. साथ ही सारे कष्ट दूर होते हैं. साथ ही पैसों की तंगी से छुटकारा मिलता है और घर में सुख-समृद्धि आती है. हालांकि इस दिन कुछ चीजों को करने की मनाही भी होती है. कुछ काम जो इस दिन नहीं करने चाहिए. वरना मां लक्ष्‍मी रुष्‍ट हो जाती हैं. आइए जानें इस दिन कौन सी चीजें नहीं करनी चाहिए.

शुक्रवार को भूलकर भी न करें ये काम

-कभी किसी को भूलकर भी शुक्रवार के दिन पैसे न दें और न ही उधार लें. मान्यता है कि शुक्रवार के दिन दिया गया धन वापस लौटकर नहीं आता है. इसदिन किसी को कर्ज देने से मां लक्ष्मी नाराज होती हैं और रिश्ते भी खराब होते हैं.

इसे भी पढ़ेंः ऐसे घरों में नहीं होता है मां लक्ष्मी का वास, जानें सही पूजा विधि
-वैसे तो कभी भी किसी का अपमान नहीं करना चाहिए लेकिन शुक्रवार के दिन इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए. इस दिन भूलकर भी महिलाओं, कन्याओं और किन्नरों का अपमान नहीं करना चाहिए. उनके बारे में अपशब्द नहीं बोलने चाहिए. महिलाओं में मां लक्ष्मी का वास होता है और उनके अपमान करने से मां लक्ष्मी भी नाराज हो जाती हैं.

-शुक्रवार के दिन मांसाहार और अल्कोहल के सेवन से परहेज करना चाहिए. इस दिन पूर्ण सात्विक भोजन करना चाहिए. अगर संभव हो सके तो इसको आप अपनी आदत भी बना लें।.

-शुक्रवार के दिन भूलकर भी चीनी किसी को भी नहीं देनी चाहिए. ज्योतिष में चीनी का संबंध शुक्र और चंद्र दोनो से है. इसलिए शुक्रवार के दिन चीनी देने से शुक्र कमजोर होता है और शुक्र भौतिक सुखों का स्वामी है. शुक्र के नाराज होने से भौतिक सुख-सुविधाओं में कमी आती है और आर्थिक स्थिति भी खराब होती है.



-शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी के साथ नारायण की भी पूजा करनी चाहिए. लक्ष्मी के साथ नारायण की पूजा करने से सभी देवी-देवता प्रसन्न होते हैं और दोनों का आशीर्वाद भी बना रहता है. अगर संभव हो सके तो सुबह या शाम किसी भी एक समय घर में मीठा जरूर बनाना चाहिए और उसको सबसे पहले घर की स्त्री को देना चाहिए.

-शुक्रवार के दिन किसी से अपशब्‍द न बोलें. ऐसा करने से मां लक्ष्‍मी रुष्ट होती हैं और फिर धन संबंधी समस्‍याएं शुरू हो जाती हैं. घर में अपव्‍यय बढ़ जाता है. लोग बीमार रहने लगते हैं. व्‍यापार धंधे में भी नुकसान होने लगता है.

इसे भी पढ़ेंः शुक्रवार को ये 4 चीजें पत्नी को देने से मां लक्ष्मी होती हैं खुश

-साफ-सुथरे किचन में मां लक्ष्मी का वास होता है. इससे घर में वैभव और सुख-शांति का प्रवाह निरंतर होता रहता है. भूलकर भी रात के समय किचन में गंदे बर्तन नहीं छोड़ने चाहिए, इससे लक्ष्मी मां रूठ जाती है और घर में अशांति फैलती है. साथ ही हेल्थ के खराब रहने की आशंका बनी रहती है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज