Durga Puja Aarti: घर बैठे मुंबई के बांद्रा में आरती देखें लाइव

घर बैठे मुंबई के बांद्रा में आरती देखें लाइव
घर बैठे मुंबई के बांद्रा में आरती देखें लाइव

Bandra Durga Puja Aarti Live Telecast: नि: शुल्क पंजीकरण के बाद,भक्तों को 23-26 अक्टूबर तक होने वाली सुबह की आरती में शामिल होने के लिए हर दिन 9 बजे तक एक एसएमएस प्राप्त होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2020, 1:20 PM IST
  • Share this:
Durga Puja Aarti: आज नवरात्रि की षष्ठी है. षष्ठी से ही बंगाली समुदाय के सबसे बहुप्रतीक्षित पांच दिवसीय उत्सव दुर्गा पूजा की शुरुआत होती है. कोरोना काल में कई भक्त माता रानी के दर्शन के लिए पंडाल में आने में सक्षम नहीं हैं. ऐसे में मुंबई के बांद्रा दुर्गा पूजा समित आपको घर बैठे दुर्गा पूजा देखने का सुनहरा मौक़ा दे रही है. ऐसे में आप माता रानी की आरती और दर्शन दोनों ही कर सकते हैं.

नूनपल्ली सरबजोनीन दुर्गोत्सव समिति, जिसे बांद्रा दुर्गा पूजा के रूप में भी जाना जाता है, अपने पंडाल से लाइव आरती की स्ट्रीमिंग करेगी. इस आरती को ज्वाइन करने के लिए सभी को www.bandradurgapuja.com पर एक बार पंजीकरण करना होगा. नि: शुल्क पंजीकरण के बाद,भक्तों को 23-26 अक्टूबर तक होने वाली सुबह की आरती में शामिल होने के लिए हर दिन 9 बजे तक एक एसएमएस प्राप्त होगा.

इस दुर्गा पूजा का शुभारंभ 48 साल पहले प्रमोद चक्रवर्ती, शक्ति सामंत और बसु चटर्जी जैसी फिल्मी हस्तियों ने किया था. पूजा समिति के एक सदस्य सौप्टिक दास ने कहा, 'हम इस टाई-अप से बहुत प्रसन्न हैं. इसके जरिए हम कई लोगों तक पहुंच सकते हैं. इससे केवल मुंबई के भक्त ही नहीं बल्कि मुंबई के अलावा देश के कोने कोने में भक्त माता रानी की आरती और दर्शन कर सकते हैं.



बता दें कि, आज आज नवरात्रि (Navratri 2020) का 6वां दिन है. आज मां नव दुर्गा के छठे रूप मां कात्यायनी देवी की पूजा-अर्चना (Maa Katyayani Puja) की जाती है. मान्यता है कि मां का यह स्वरूप सुख और शांति प्रदान करने वाला है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, देवी कात्यायनी की पूजा करने से मन की शक्ति मजबूत होते है और साधक इन्द्रियों को वश में कर सकता है. अविवाहितों को देवी की पूजा करने से अच्छे जीवनसाथी की प्राप्ति होती है. धर्म ग्रंथों के अनुसार, इन्हीं देवी ने महिषासुर का मर्दन किया था. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज