Kamda Saptami 2021: कब है कामदा सप्तमी? जानें तिथि, महत्व और पूजा विधि

कामदा सप्तमी व्रत सूर्य भगवान को समर्पित है.

कामदा सप्तमी व्रत सूर्य भगवान को समर्पित है.

Kamda Saptami 2021 Date Significance Puja Vidhi-कामदा सप्तमी का व्रत हर शुक्ल सप्तमी को करना चाहिए और हर चौमासे यानी कि चार माह में व्रत का पारण करना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 2:16 PM IST
  • Share this:
Kamda Saptami 2021 Date Significance Puja Vidhi- हिंदू धर्म में कामदा सप्तमी की विशेष महिमा बतायी गई है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, कामदा सप्तमी का व्रत भक्त मनोकामनाओं की पूर्ति हेतु करते हैं. कामदा सप्तमी का व्रत इस बार 20 मार्च शनिवार को रखा जाएगा. इस व्रत को सालभर तक रखा जाता है. हर शुक्ल सप्तमी के दिन कामदा सप्तमी का व्रत रखा जाता है. कामदा सप्तमी व्रत की महिमा स्वयं ब्रह्मा जी ने अपने श्रीमुख से भगवान विष्णु को बतायी थी. इस व्रत को करने से संतान सुखी रहती है, धन, संपत्ति में वृद्धि होती है. कामदा सप्तमी का व्रत हर शुक्ल सप्तमी को करना चाहिए और हर चौमासे यानी कि चार माह में व्रत का पारण करना चाहिए. आइए जानते हैं कामदा सप्तमी का महत्व और पूजा विधि...

कामदा सप्तमी का महत्व:

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, जिन जातकों की कुण्डली में सूर्य नीच का होता है उनके जीवन में काफी परेशानियां आती हैं. ऐसे में यदि जातक कामदा सप्तमी का व्रत करता है तो उसे इन परेशानियों से निजात मिलती है. ऐसे जातकों का सूर्य बलवान हो जाता है और जीवन में सकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है.

इसे भी पढ़ें: Kharmas 2021 Date: खरमास शुरू, कथा से जानें विवाह-मुंडन, गृह प्रवेश पर क्यों लग जाती है रोक
कामदा सप्तमी पूजा विधि:

कामदा सप्तमी से एक दिन पूर्व यानी किषष्ठी को एक समय भोजन करके सप्तमी को निराहार रहकर, 'खरखोल्काय नमः ' मन्त्र से सूर्य भगवान की पूजा की जाती है और अष्टमी को अर्क (आक ) के पत्तों का सेवन करना चाहिए. प्रातः स्नानादि के बाद सूर्य भगवान् की पूजा की जाती है सारा दिन "सूर्याय नमः" मन्त्र से भगवान् का स्मरण किया जाता है. अष्टमी को स्नान करके सूर्य देव का हवन पूजन किया जाता है. सूर्य भगवान् का पूजन करके आज घी , गुड़ इत्यादि का दान किया जाता है तथा दूसरे दिन ब्राह्मणों का पूजन करके खीर खिलाने का विधान है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज