घर में शांति और पैसों की कमी दूर करने के लिए बुधवार को ऐसे करें भगवान गणेश की पूजा

गणेश जी को दुर्वा या दूब अर्पित करें. मान्‍यता है कि ऐसा करने से धन-सम्‍मान में वृद्धि होती है.

गणेश जी को दुर्वा या दूब अर्पित करें. मान्‍यता है कि ऐसा करने से धन-सम्‍मान में वृद्धि होती है.

Lord Ganesha Puja: बुधवार (Wednesday) के दिन गणपति बप्पा (Ganapati Bappa) का कुछ खास तरीके से किया गया पूजन विशेष फलदायी होता है और इसका अपना अलग महत्व है.

  • Share this:
Lord Ganesha Puja: बुधवार (Wednesday) को पूरे विधि विधान के साथ भगवान गणेश (Lord Ganesha) की पूजा की जाती है. भगवान गणेश भक्तों पर प्रसन्न होकर उनके दुखों को हरते हैं और सभी की मनोकामनाएं पूरी करते हैं. हिंदू मान्यताओं के अनुसार कोई भी शुभ कार्य करने से पहले भगवान गणेश की पूजा की जानी जरूरी है. भगवान गणेश सभी लोगों के दुखों को हरते हैं. कहा जाता है कि प्रथम पूजनीय गणेश जी का श्रद्धा भाव से पूजन करने से घर में सुख समृद्धि तो आती है और घर धन धान्य से पूर्ण हो जाता है. गणपति का पूजन वैसे तो नियमित रूप से किया जाता है लेकिन बुधवार के दिन को विशेष रूप से गणपति को समर्पित माना गया है. मान्यतानुसार बुधवार के दिन गणपति का कुछ खास तरीके से किया गया पूजन विशेष फलदायी होता है और इसका अपना अलग महत्व है.

एक पौराणिक कथा के अनुसार, माता पार्वती ने अपने शरीर के उबटन से भगवान गणपति की उत्पति की थी और उनकी उत्पत्ति कैलाश पर्वत पर की गई थी. माता पार्वती के द्वारा गणेश जी की उत्पत्ति के समय बुध देव भी वहां उपस्थित थे. इसलिए तभी से बुध को गणेशजी का प्रमुख वार माना जाने लगा और इसी दिन गणपति बप्पा की पूजा की जाने लगी. कहा जाता है कि गणेशजी का पूजन करने से सभी मनोकामनाओं की पूर्ति होती है और सभी कष्टों से मुक्ति मिलती है. वहीं जिन लोगों का बुध कमजोर हो, उनके लिए गणपति की आराधना करना बहुत शुभ होता है. आइए आपको बताते हैं कैसे आप बुधवार को भगवान गणेश की पूजा कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ेंः भगवान गणेश की पूजा में रखें इन बातों का ध्‍यान, पूरी होगी हर मनोकामना

कैसे करें बुधवार को गणपति पूजन
पूजा स्थान को साफ करें

बुधवार के दिन गणपति पूजन करने के लिए सबसे पहले सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और साफ वस्त्र धारण करें. इसके बाद पूजा के स्थान को साफ करें और गणपति जी की मूर्ति को एक चौकी में लाल कपड़ा बिछाकर स्थापित करें.

21 दूर्वा चढ़ाएं



गणपति को दूर्वा घास बहुत पसंद है और बुधवार के दिन गणपति को दूर्वा चढ़ाना फलदायी होता है. दूर्वा की एक जड़ में से अनेक जड़ निकलती हैं, उसी प्रकार वंश की वृद्धि होते रहने की वजह से गणेश जी को दुर्वा चढ़ाया जाता है. इस दिन 21 दूर्वा की गांठें लगाकर गणपति को चढ़ाएं. ऐसा करने से पूजा का विशेष फल प्राप्त होता है.

मोदक और गुड़ का लगाएं भोग

गणपति बप्पा को मोदक और गुड़ बहुत पसंद हैं. बुधवार को उनकी पूजा के दौरान मोदक और गुड़ का भोग लगाना चाहिए. पूजा के बाद इसे प्रसाद के रूप में वितरित कर दें. मोदक न मिलने पर बूंदी या बेसन के लड्डू का भोग भी लगाया जा सकता है.

लाल सिंदूर चढ़ाएं

घर में चल रहे विवाद से मुक्ति और दाम्पत्य जीवन में आ रही परेशानियों को दूर करने के लिए बुधवार के दिन गणपति बप्पा को लाल सिन्दूर अर्पित करें. गणेश जी को लाल सिंदूर अत्यंत प्रिय है इसलिए पूजा के दौरान लाल सिन्दूर अर्पित करना विशेष फलदायी माना जाता है.

गणेश स्त्रोत का पाठ करें

बुधवार के दिन आर्थिक तंगी से उबरने के लिए गणेश जी की पूजा के साथ साथ गणेश स्त्रोत का पाठ भी करना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः Lord Ganesha Puja: घर में इस तरह करें भगवान गणेश की पूजा, जीवन से दूर होंगी बाधाएं

हरे रंग का वस्त्र शुभ

जिन लोगों पर बुध भारी हो उन्हें बुधवार के दिन हरे वस्त्र पहनने चाहिए और गाय को हरा चारा खिलाना चाहिए. वहीं इस दिन गरीबों को दान करना भी शुभ माना जाता है. ऐसा करने से बुध मजबूत होता है और उनका मान-सम्मान और धन संकट दूर होता है. बुधवार के दिन पहले गणपति जी की पूजा करें, फिर उनकी आरती करें और फिर गणेश चालीसा पढ़ने के बाद भोग लगाएं.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज