मंगलवार को इस विधि से करें हनुमान जी की पूजा, सारे कष्‍ट होंगे दूर

मंगलवार के दिन पवनपुत्र हनुमान की पूजा की जाती है.

मंगलवार का व्रत (Vrat) हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है. मान्यता है कि इस दिन हनुमान जी (Hanuman JI) की पूजा करने से भक्‍तों के कष्ट दूर होते हैं और मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं.

  • Share this:
    मंगलवार को बजरंग बली यानी हनुमान जी (Bajrang Bali/ Hanuman JI) का दिन माना जाता है. आज के दिन भक्त मंगलवार का व्रत (Vrat) रखते हैं और बजरंग बली की पूजा अर्चना करते हैं. मंगलवार का व्रत भगवान हनुमान को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है. कोई पारिवारिक समस्या हो या फिर कोई अन्‍य शारीरिक कष्‍ट, बजरंगबली की पूजा करने से शांति मिलती है और भक्‍तों के कष्ट दूर होते हैं. हनुमान जी की पूजा करते समय पवित्रता का विशेष ध्यान रखना अनिवार्य है. जब भी पूजा करें, तब मन और तन से पवित्रता हो. पूजन के दौरान गलत विचारों की ओर मन को भटकने न दें. हिंदू धर्मिक मान्यताओं के अनुसार मंगलवार का दिन हनुमान जी का विशेष दिन होता है. जो लोग हनुमान जी के आराधक हैं या जो मंगलवार का व्रत करते है उन्हें हनुमान जी की पूजा जरूर करनी चाहिए. आइए जानें मंगलवार को हनुमान जी की पूजा की सही विधि.

    इन बातों का रखें ध्‍यान
    मंगलवार को हनुमान जी की पूजा के लिए सूर्योदय से पहले ही उठना चाहिए. इसे बाद नित्यक्रिया और स्नान के बाद स्वच्छ होकर पूजा घर में जाकर बजरंगबली को प्रणाम करें. इसके बाद हनुमानजी को लाल फूल, सिंदूर, वस्त्र, जनेऊ आदि चढ़ाएं.

    ये भी पढ़ें - Saraswati Puja 2021: बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा का है विशेष महत्‍व

    पीले या लाल फूल हैं प्रिय
    शाम को हनुमान जी के मंदिर या घर में बने हनुमान जी की मूर्ति के सामने साफ आसन पर बैठें. सरसों के तेल का दीपक जलाएं. इसके अलावा उन्‍हें पुष्प अर्पित करें. हनुमान जी को पीले या लाल फूल विशेष प्रिय होते हैं. पूजा आदि करने के बाद आप हनुमान चालीसा का पाठ जरूर करें. मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा पढ़ने का विशेष महत्व है.

    पूजास्थल को रखें साफ
    हनुमान जी को सिंदूर, वस्त्र आदि चढ़ाने के बाद पूजास्थल की ठीक से एक बार और सफाई करें और अगरबत्ती, धूप चढ़ाएं. उसके बाद हनुमान जी को गेंदे की फूल की माला चढ़ाएं और पुष्प के साथ गुड़ चने का भोग लगाएं.

    ये भी पढ़ें - Saraswati Puja 2021: बसंत पंचमी को क्‍यों की जाती है मां सरस्‍वती की पूजा

    सभी मनोकामनाएं होंगी पूरी
    माना जाता है कि सूर्योदय के बाद हनुमान जी की पूजा करने से वह जल्द प्रसन्न होते है. मंगलवार को मंगल ग्रह का दिन भी माना जाता है. इस दिन हनुमान जी की विधि विधान से पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.