Lord Shiva Puja: वैशाख माह के हर सोमवार को जरूर करें शिव पूजा, मिलता है विशेष लाभ

अगर सोमवार को भगवान शिव की सच्चे मन से पूजा की जाए तो सारे कष्टों से मुक्ति मिलती है और सभी मनोकामना पूरी होती है.

अगर सोमवार को भगवान शिव की सच्चे मन से पूजा की जाए तो सारे कष्टों से मुक्ति मिलती है और सभी मनोकामना पूरी होती है.

Lord Shiva Puja: कहते हैं कि विवाह परेशानियों (Marriage Problems) से छुटकारा पाने के लिए वैशाख माह के सोमवार को जल में केसर मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाना चाहिए.

  • Share this:
Lord Shiva Puja: सोमवार (Monday) का दिन भगवान शिव (Lord Shiva) को समर्पित है. ऐसे में कहा जाता है कि अगर सोमवार को भगवान शिव की सच्चे मन से पूजा की जाए तो सारे कष्टों से मुक्ति मिलती है और सभी मनोकामना पूरी होती है. शिव सदा अपने भक्तों पर कृपा बरसाते हैं. भगवान विष्णु का अतिप्रिय वैशाख/बैसाख माह भगवान शिव की पूजा के लिए भी विशेष माना गया है. माना जाता है कि इस महीने में भगवान शिव की पूजा करने से वह जल्द खुश होकर अपने भक्तों को मनचाहा वर देते हैं. वैसे तो शिव पूजा सावन और कार्तिक महीने के सोमवार को करना भी विशेष माना गया है लेकिन वैशाख माह के सोमवार में भगवान शिव को प्रसन्न करना काफी आसान माना जाता है. इस बार 28 अप्रैल 2021 से वैशाख माह शुरु हो चुका है. ऐसे में अगर आप भी भगवान शिव की कृपा पाना चाहते हैं तो ध्यान रखें इस बार 03 मई 2021 यानी आज वैशाख का पहला सोमवार है. मान्यता है कि इस दौरान कुछ आसान तरीकों से भगवान शिव को खुश कर उनकी कृपा प्राप्त की जा सकती है.

वैशाख/बैसाख माह में भगवान शिव की पूजन विधि

-इस माह में भगवान शिव के ऊपर जलधारा की स्थापना करके उन्हें प्रसन्न किया जा सकता है. इसके साथ ही विशेष तरह की परेशानियों में भी इस माह में अलग-अलग पूजन विधि की मदद से छुटकारा पाया जा सकता है.

इसे भी पढ़ेंः शिव विवाह की कथा है बड़ी अनोखी, ऐसे हुआ था भोलेनाथ का माता पार्वती से विवाह
-कहते हैं कि विवाह परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए वैशाख माह के सोमवार को जल में केसर मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाना चाहिए. माना जाता है कि ऐसा करने से विवाह में आ रही परेशानियों के अलावा शादीशुदा जिंदगी से जुड़ी समस्याएं खत्म होती हैं.

-मान्यता है कि इस मास के सोमवार को किसी सुहागिन को साड़ी, चूडियां, कुमकुम आदि सुहाग का सामान देना अत्यंत शुभ होता है. कहते हैं कि ऐसा करने से भी वैवाहिक जीवन की समस्याएं दूर होती हैं.

-समस्याओं से मुक्ति पाने के लिए वैशाख माह में ब्रम्हांड के प्रतीक शिवलिंग पर पानी का कलश या घड़ा स्थापित करना चाहिए. मान्यता है कि ऐसा करने से जिस तरह घड़े से बूंद-बूंद पानी शिवलिंग पर गिरता है, उस हर बूंद के साथ जीवन की समस्याएं भी पानी की तरह बहकर दूर होती जाती हैं.



-कहते हैं कि ग्रह बाधाएं दूर करने के लिए वैशाख माह के हर सोमवार को ब्रह्म मुहूर्त में स्नान करने के बाद भगवान शिव का जल और दूध से अभिषेक करना चाहिए. ऐसा करने से सुख और समृद्धि की भी प्राप्ति होती है.

-मान्यता है कि शारीरिक परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए भगवान शिव का वैशाख माह में जलाभिषेक, दुग्धाभिषेक करने के साथ-साथ उन्हें आक, धतूरा और बेलपत्र आदि अर्पित करना चाहिए. साथ ही चंदन भी चढ़ाएं. इसके अलावा भगवान शिव को मौसमी फलों का भोग अर्पित करें. माना जाता है कि इस माह में घड़ा, सत्तू, तरबूज दान करने से शारीरिक परेशानियों से छुटकारा मिलता है।

-सफलता पाने के लिए हर रोजज घर के मंदिर में स्थापित छोटे से शिवलिंग की पूजा करें. यह पूजा आप वैशाख के सोमवार से शुरू कर सकते हैं. माना जाता है कि ऐसा करने से सफलता मिलने के साथ ही घर की दरिद्रता भी दूर होती है और लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहती है.

-इसके अलावा माना जाता है कि वैशाख के सोमवार से नियमित रूप से आंकड़े के फूलों की माला बनाकर शिवलिंग पर चढ़ाने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

इसे भी पढ़ेंः पांडवों ने किया था भगवान शिव से युद्ध, जानें क्यों हुई थी है घटना

-वहीं बेलपत्र पर चंदन से ओम नम: शिवाय या जय श्रीराम लिखें. इसके बाद इन पत्तों की माला बनाकर शिवलिंग पर चढ़ाएं. माना जाता है इससे हर काम सिद्ध हो जाते हैं. इसके अलावा जल चढ़ाते समय शिवलिंग को हथेलियों से रगड़ना चाहिए. माना जाता है कि इस उपाय से किसी की भी किस्मत बदल सकती है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज