होम /न्यूज /धर्म /Makar Sankranti 2023: 15 जनवरी को क्यों है मकर संक्रांति? रात में होगा सूर्य गोचर, जानें मुहूर्त और महत्व

Makar Sankranti 2023: 15 जनवरी को क्यों है मकर संक्रांति? रात में होगा सूर्य गोचर, जानें मुहूर्त और महत्व

मकर संक्रांति का पर्व बड़े उल्लास के साथ मनाया जाता है., Image- Canva

मकर संक्रांति का पर्व बड़े उल्लास के साथ मनाया जाता है., Image- Canva

Makar Sankranti 2023: नए साल 2023 में मकर संक्रांति 14 जनवरी को न होकर 15 जनवरी को है. इसका सबसे बड़ा कारण है सूर्य के ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने को मकर संक्रांति कहते हैं.
मकर संक्रांति पर सूर्यदेव की विधिवत पूजा की जाती है.

Makar Sankranti 2023: हिंदू धर्म में संक्रांति का बड़ा महत्व है. हर वर्ष 12 संक्रांतियां होती हैं और प्रत्येक संक्रांति का अपना महत्व होता है. किसी एक राशि से सूर्य के दूसरी राशि में गोचर करने को ही संक्रांति कहते हैं. जब सूर्य मकर राशि में प्रवेश करते हैं तो उसे मकर संक्रांति कहते हैं. हिंदू धर्म में मकर संक्रांति पर्व बड़े उल्लास के साथ मनाया जाता है. इस दिन स्नान, दान पुण्य का बड़ा महत्व होता है और इस दिन सूर्यदेव की विधिवत पूजा-अर्चना की जाती है. आइये जानते हैं साल 2023 में मकर संक्रांति कब है और इसका महत्व क्या है. 

ये भी पढ़ें: नंदी कैसे बने भगवान शिव की सवारी? पढ़ें ये रोचक पौराणिक कथा

मकर संक्रांति का महत्व
पंडित इंद्रमणि घनस्याल बताते हैं कि मकर संक्रांति को दान पुण्य का विशेष दिन माना जाता है. इस दिन दान पुण्य करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है. मकर संक्रांति पर अन्न, गुड़, तिल व वस्त्र दान करना शुभ होता है. इस दिन सूर्यदेव की आराधना करने से सभी कष्ट दूर होते हैं और सुख-समृद्धि व आरोग्य का वरदान मिलता है. 

मकर संक्रांति 2023 कब है?
यूं तो हर वर्ष 14 जनवरी को मकर संक्रांति मनाई जाती है. लेकिन इसकी तिथि का भी बड़ा महत्व होता है. ज्योतिषियों के अनुसार, इस बार सूर्यदेव शाम के समय मकर राशि में प्रवेश करेंगे. इस बार सूर्य 14 जनवरी 2023 की रात 08 बजकर 21 मिनट पर मकर राशि में प्रवेश करेंगे. ऐसे में साल 2023 में मकर संक्रांति का पर्व 15 जनवरी को मनाया जाएगा. 

यह भी पढ़ें: भूकंप आने पर जैसे हिल जाते हैं पहाड़, हनुमानजी का थप्‍पड़ खाकर वैसा ही हुआ था रावण का हाल

मकर संक्रांति 2023 शुभ मुहूर्त
ज्योतिषियों के अनुसार, 15 जनवरी 2023 को मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा. इस दिन मकर संक्रांति का पुण्य काल सुबह 07 बजकर 15 मिनट पर शुरू होगा, जो शाम 07 बजकर 46 मिनट पर पूरा होगा. मकर संक्रांति 2023 में एक खास संयोग भी बन रहा है. इस बार 14 जनवरी को सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेंगे और मकर राशि में पहले से ही बुध व शनि ग्रह हैं, ऐसे में इसका राशियों पर भी विशेष प्रभाव पड़ेगा.

Tags: Dharma Culture, Happy Makar Sankranti, Makar Sankranti

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें