Home /News /dharm /

Mauni Amavasya 2022: मौनी अमावस्या पर आज कालसर्प दोष से मुक्ति के लिए करें ये 4 उपाय

Mauni Amavasya 2022: मौनी अमावस्या पर आज कालसर्प दोष से मुक्ति के लिए करें ये 4 उपाय

मौनी अमावस्या 2022 कालसर्प दोष निवारण उपाय

मौनी अमावस्या 2022 कालसर्प दोष निवारण उपाय

Mauni Amavasya 2022: इस साल मौनी अमावस्या आज 01 फरवरी को है. मंगलवार दिन होने के कारण यह भौमवती अमावस्या (Bhaumvati Amavasya) भी है. आइए जानते हैं कि मौनी अमावस्या पर किन ज्योतिष उपायों (Astrology Tips) से कालसर्प दोष से मुक्ति पाया जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...

Mauni Amavasya 2022: इस साल मौनी अमावस्या आज 01 फरवरी को है. मंगलवार दिन होने के कारण यह भौमवती अमावस्या (Bhaumvati Amavasya) भी है. मौनी अमावस्या के दिन कालसर्प दोष (Kaal Sarp Dosh) से मुक्ति के उपाय किए जाते हैं. इस दिन आप कुछ ज्योतिष उपायों को करके इससे मुक्त हो सकते हैं. कालसर्प दोष कुंडली में तब होता है, जब राहु-केतु 180 डिग्री पर आमने-सामने हों और बाकी 7 ग्रह इनके दूसरी ओर हो जाएं. ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार, जिन लोगों को सपने सांप दिखते हैं, कार्य में सफलता नहीं मिलती, अर्निणय ​की स्थिति बनी रहती है, पारिवारिक जीवन अशांत होता है, ऐसे कुछ लक्षण कालसर्प दोष के बताए गए हैं. आइए जानते हैं कि मौनी अमावस्या पर किन ज्योतिष उपायों (Astrology Tips) से कालसर्प दोष से मुक्ति पाया जा सकता है.

मौनी अमावस्या 2022 कालसर्प दोष निवारण उपाय

मौनी अमावस्या का दिन पावन है. इस दिन गंगा स्नान करने से सभी पाप और ग्रह दोष मिट जाते हैं क्योंकि इस दिन देवी-देवताओं का वास गंगा नदी में माना जाता है.

1. कालसर्प दोष से मुक्ति के लिए आप मौनी अमावस्या के दिन चांदी के नाग और नागिन का जोड़ा बनाकर उनकी पूजा करें. फिर उनको बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें. ऐसा करने से कालसर्प दोष से मुक्ति मिलती है.

यह भी पढ़ें: जानें मौनी अमावस्या पर स्नान-दान और व्रत के 6 प्रमुख नियम, मिटेंगे कष्ट-पाप

2. मौनी अमावस्या पर प्रयागराज में पितरों के लिए तर्पण, पिंडदान, श्राद्धकर्म आदि करने से भी कालसर्प दोष से मुक्ति मिलती है. ऐसा करने से पितृ दोष भी दूर होता है.

3. मौनी अमावस्या को स्नान के बाद मसूर की दाल एवं कुछ रुपये किसी सफाईकर्मी को दान कर दें. इससे भी कालसर्प दोष का निवारण होता है.

यह भी पढ़ें: मौनी अमावस्या पर पा सकते हैं पितृ दोष से मुक्ति, करें ये 5 आसान उपाय

4. मौनी अमावस्या पर स्नान और दान के बाद भगवान शिव की पूजा करें और शिव तांडव स्तोत्र का पाठ करें. शिव कृपा से कालसर्प दोष मिट जाएगा.

यदि आपकी कुंडली में कालसर्प दोष है, तो आपको नित्य भगवान शिव को जल अर्पित करना चाहिए और विधिपूर्वक पूजा करनी चाहिए. भगवान शिव की कृपा से सभी प्रकार के दोष और भय दूर हो जाते हैं.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Astrology, Dharma Aastha

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर