Unlock 5: कोरोना काल में यूपी में सजेंगे दुर्गा पूजा पंडाल, लेकिन ध्यान में रखें ये गाइडलाइंस

कोरोना काल में यूपी में सजेंगे दुर्गा पूजा पंडाल
कोरोना काल में यूपी में सजेंगे दुर्गा पूजा पंडाल

नवरात्रि २०२० (Navratri 2020): शासन के मुताबिक़,नवरात्रि में दुर्गा पूजा (Durga Puja) को लेकर अलग से विस्तृत गाइड लाइन अलग से जारी की जाएगी. कोरोना वायरस (Covid 19) के कहर के कारण सरकार ने अनलॉक (Unlock 5) के नए प्रावधान लागू किए हैं...

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 5:30 PM IST
  • Share this:
नवरात्रि २०२० (Navratri 2020): नवरात्रि इस बार 17 अक्टूबर को पड़ रही है. नवरात्रि पर हर साल जोर शोर से दुर्गा पूजा पांडाल सजाए जाते हैं. इन दुर्गा पूजा पंडालों में काफी भीड़ भी उमड़ती है. लेकिन इस बार कोरोना वायरस के कहर के कारण सरकार ने अनलॉक के नए प्रावधान लागू किए हैं. हालांकि शासन के मुताबिक़,नवरात्रि में दुर्गा पूजा को लेकर अलग से विस्तृत गाइड लाइन अलग से जारी की जाएगी. ताकि किसी जगह बहुत बड़ी संख्या या समूह में लोगों के इकट्ठा होने पर उचित पाबंदी लगाई जा सके.

Mahabharat Katha: कृष्ण ने मोहिनी रूप धर किन्नरों के देवता अरावन से किया था विवाह, जानें पौराणिक कहानी

यूपी सरकार के नियमों के अनुसार, उत्तर प्रदेश में 15 अक्टूबर से प्रदेश में लगभग सारी गतिविधियां एक बार फिर से 'अनलॉक' हो जाएंगी. यूपी सरकार की गाइडलाइन में स्कूल-कॉलेज, सिनेमा हॉल खोलने की परमिशन दे दी गई है. इस सिलसिले में गत गुरुवार मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने कहा कि धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रम भी सोशल डिस्टेंसिंग और बचाव के प्रोटोकॉल के साथ किए जा सकेंगे. इससे दुर्गा पूजा के पंडाल, रामलीला के आयोजन को लेकर भी स्थिति स्पष्ट हो गई है.



Navratri 2020 Bhajan's: नवरात्रि पर मां दुर्गा के नॉन-स्टॉप भजन से बहेगी भक्ति की गंगा
धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजन को लेकर अपर मुख्य सचिव गृह व सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने जानकारी दी कि 15 अक्टूबर से सभी धार्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों की अनुमति दे दी गई है और इसमें 100 तक की संख्या का प्रतिबंध हटा लिया गया है. अगर दुर्गा पूजा बंद स्थान, हाल या कमरे में है तो उसकी कुल क्षमता के 50% जो कि अधिकतम 200 व्यक्तियों तक हो सकते हैं. पूजा के दौरान पंडाल में लोगों को कोरोना से बचान के लिए फेस मास्क लगाना , सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना, थर्मल स्कैनिंग और सैनिटाइजर साथ में रखना बेहद जरूरी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज