होम /न्यूज /धर्म /Navratri 2022: मां के आगे घी या तेल का दीपक जला रहे हैं तो अखंड ज्योति के इन नियमों का करें पालन

Navratri 2022: मां के आगे घी या तेल का दीपक जला रहे हैं तो अखंड ज्योति के इन नियमों का करें पालन

नवरात्रि के दिनों में अखंड ज्योति जलाना शुभ का प्रतीक माना जाता है. Image-Canva

नवरात्रि के दिनों में अखंड ज्योति जलाना शुभ का प्रतीक माना जाता है. Image-Canva

नवरात्रि के दिनों में अखंड ज्योति जलाना शुभ का प्रतीक माना जाता है. अखंड ज्योति जलाने के कुछ नियम होते हैं. जो भी व्यक् ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

हमेशा कोई एक न एक व्यक्ति उस दीपक के आसपास होना चाहिए.
अखंड ज्योति जलाने के साथ ही आपको दिशा का भी ध्यान देना चाहिए.

नवरात्र में मां की प्रतिमा के सामने अखंड ज्योति को जलाना शुभ माना जाता है. अखंड ज्योति को अग्नि का प्रतीक माना गया है, इसलिए अखंड ज्योति जब भी जलाई जाती है तो उसके कुछ नियम होते हैं, जिन्हें ध्यान रखना होता है. अखंड ज्योति जलाने से सकारात्मक ऊर्जा का सृजन होता है, दरिद्रता का नाश होता है. धर्म शास्त्रों के मुताबिक, घर में सुख शांति की प्राप्ति के लिए और समृद्धि के आगमन के लिए अखंड ज्योति जलाना बेहद ही शुभ माना गया है.
धर्म शास्त्र के मुताबिक, अखंड ज्योति जलाने से भगवान शिव और मां दुर्गा के साथ ही श्रीगणेश का ध्यान सर्वप्रथम करना चाहिए. अखंड ज्योति जलाने के साथ ही “ओम जयंती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोस्तुते” का जाप करना चाहिए. इससे माता प्रसन्न होती हैं. चलिए जानते हैं अखंड ज्योति जलाने के कुछ नियम.

अखंड ज्योति जलाने के नियम

शिवराजपुर (कानपुर) के रहने वाले, पंडित राज नारायण बताते हैं कि जब भी आप अखंड ज्योति जलाएं तो ध्यान रखें कि कभी भी उसे अकेला ना छोड़े. हमेशा कोई एक न एक व्यक्ति उस दीपक के आसपास होना चाहिए.
-इसके साथ ही इस बात पर भी ध्यान दें कि घर में कभी भी ताला बंद करके नहीं जाना चाहिए.
-यदि किसी अनुष्ठान को लेकर आपने ज्योति को जलाया है तो इस अखंड ज्योति को तब तक चलने देना है, जब तक कि आपका अनुष्ठान पूरा ना हो जाए, इसलिए ज्योति के जलने तक आपको उस पर ध्यान देना होगा.

-अखंड ज्योति जलाने के साथ ही आप दिशा का भी ध्यान दें. अगर आपने घी की ज्योति जलाई है तो अखंड ज्योति को दाईं ओर और तेल की जलाई हुई अखंड ज्योति को बाईं ओर रखना चाहिए.
-तो इस तरह अगर आप नियमों का पालन करते हैं तो आपका अनुष्ठान भी पूरा होगा और माता नव दुर्गा की कृपा भी आप पर बरसती रहेगी.

यह भी पढ़ें – भगवान तक अपनी मनोकामना जल्द पहुंचाने के लिए करें पीले चावल के सरल उपाय

यह भी पढ़ें – बिग बी से लेकर किंग खान तक धारण करते हैं ये रत्न, जानिए इनसे होने वाले फायदे

Tags: Dharma Aastha, Navratri, Navratri Celebration, Navratri festival, Religion

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें