होम /न्यूज /धर्म /

शनिदेव के प्रकोप से बचने के लिए शनिवार के दिन इन 4 चीजों का सेवन भूलकर भी ना करें

शनिदेव के प्रकोप से बचने के लिए शनिवार के दिन इन 4 चीजों का सेवन भूलकर भी ना करें

शनि देव अध्यात्म और सत्य को बढ़ाने वाले ग्रह हैं. (Image-Shutterstock)

शनि देव अध्यात्म और सत्य को बढ़ाने वाले ग्रह हैं. (Image-Shutterstock)

शनिदेव हर व्यक्ति को उसके कर्मों के अनुसार फल देते हैं. यही कारण है कि उन्हें न्याय का देवता भी कहा जाता है. शनिवार के दिन कई चीजें खाना वर्जित होता है. खास तौर पर उन्हें जिनकी राशि में शनि की ढैय्या या साढ़ेसाती चल रही हो अन्यथा शनिदेव नाराज़ हो जाते हैं.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

शनिवार के दिन मदिरापान, मांस या नशीली चीजों का सेवन करने से शनि देव की कुदृष्टि
शनिवार के दिन लाल मिर्च का सेवन करना आपको मुश्किल में डाल सकता है.

Shaniwar ke Upay : हिंदू धर्म में शनिदेव को न्याय के देवता के रूप में पूजा जाता है. नवग्रहों में शनि सबसे क्रूर ग्रह माने गए हैं. ऐसा माना जाता है कि जिन लोगों पर शनि देव कृपा करते हैं, उन्हें राज सुख की प्राप्ति होती है. वहीं, अगर किसी व्यक्ति पर शनिदेव अपनी वक्र दृष्टि डालते हैं तो उस व्यक्ति का जीवन तबाह हो जाता है. ऐसे लोगों के जीवन में कई तरह की परेशानियां आने लगती हैं. शनिदेव की वक्र दृष्टि कई कारणों से किसी व्यक्ति के ऊपर पड़ सकती है. उनमें से एक कारण है शनिवार के दिन कुछ ऐसी चीजों का सेवन करना जिनसे शनिदेव रुष्ट हो जाते हैं. इस विषय में हमें बता रहे हैं भोपाल के रहने वाले ज्योतिषी एवं पंडित हितेंद्र कुमार शर्मा. आपको कौन-सी चीजें शनिवार के दिन सेवन करने से बचना चाहिए, जानें.

न खाएं लाल मिर्च 
धर्म शास्त्रों में ऐसा माना जाता है कि शनि देव उग्र स्वभाव के हैं, इसलिए शनिदेव को शीतल पदार्थ पसंद है. ऐसे में शनिवार के दिन लाल मिर्च का सेवन करना आप को मुश्किल में डाल सकता है. यदि आप शनिदेव के क्रोध से बचना चाहते हैं तो शनिवार को लाल मिर्च का सेवन नहीं करना चाहिए.

यह भी पढ़ें – Sawan 2022: सावन में सही विधि से करें महामृत्युंजय मंत्र का जाप, भूलकर भी न करें ये गलतियां 

दूध 
ज्योतिष शास्त्र में ऐसा बताया गया है कि दूध का संबंध शुक्र ग्रह से होता है. पंडित जी के अनुसार, शुक्र ग्रह यौन इच्छाओं का कारक ग्रह है. इसके अलावा शनिदेव अध्यात्म और सत्य को बढ़ाने वाले ग्रह हैं, इसलिए शनिवार को दूध का सेवन करने से व्यक्ति को बचना चाहिए. ऐसा माना जाता है कि शनिवार के दिन दूध का सेवन करने से भी बचना चाहिए.

न करें मांस-मदिरा का सेवन 
शनिदेव व्यक्ति को सत्य के मार्ग पर चलाने के साथ अध्यात्म की तरफ ले जाते हैं, इसलिए शनिवार के दिन मदिरापान, मांस या नशीली चीजों का सेवन करने से शनिदेव की कुदृष्टि का सामना करना पड़ सकता है. खासतौर पर जिन लोगों की राशि में शनि की ढैया या साढ़ेसाती चल रही हो उन्हें शनिवार के दिन भूलकर भी इन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए.

यह भी पढ़ें – Sawan Somvar Vrat 2022: आ रहा है सावन का पहला सोमवार व्रत, नोट कर लें पूजा सामग्री और विधि 

मसूर की दाल 
ज्योतिष शास्त्र में ऐसा माना जाता है कि मसूर का रंग लाल होने के कारण इसका संबंध मंगल ग्रह से है. मंगल और शनि दोनों ग्रह का स्वभाव क्रोधी है, इसलिए यदि शनिवार को मसूर की दाल का सेवन किया जाए तो व्यक्ति के क्रोध में बढ़ोतरी हो सकती है.

Tags: Dharma Aastha, Religion

अगली ख़बर