होम /न्यूज /धर्म /Palmistry: हाथों की ये रेखाएं बताती हैं आपके पूर्व जन्म का राज, जानें और भी महत्वपूर्ण बातें

Palmistry: हाथों की ये रेखाएं बताती हैं आपके पूर्व जन्म का राज, जानें और भी महत्वपूर्ण बातें

हाथ की लकीरों से व्यक्ति के स्वभाव, आचरण, आयु, धन और उसके सौभाग्य के बारे में पता लगाया जा सकता है.

हाथ की लकीरों से व्यक्ति के स्वभाव, आचरण, आयु, धन और उसके सौभाग्य के बारे में पता लगाया जा सकता है.

हाथ की लकीरों से व्यक्ति के स्वभाव, आचरण, आयु, धन और उसके सौभाग्य के बारे में पता लगाया जा सकता है. ना सिर्फ भविष्य, बल ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

हाथ की लकीरों से व्यक्ति का ​भविष्य देख सकते हैं.
हाथ की रेखाएं पूर्व जन्म के राज भी खोलती हैं.
व्यक्ति के दाएं और बाएं हाथ में दो-दो रेखाएं होती हैं, जो आपके पूर्व जन्म के बारे में बताती हैं.

Palmistry: अक्सर आपने देखा होगा कि लोग अपना भविष्य जानने के लिए ज्योतिषाचार्य को हाथ दिखाते हैं. ज्योतिषाचार्य हथेली की रेखाओं के माध्यम से व्यक्ति से जुड़ी कई बातें बताते हैं. हस्तरेखा के अनुसार, हाथ की लकीरों से व्यक्ति के स्वभाव, आचरण, आयु, धन और उसके सौभाग्य के बारे में पता लगाया जा सकता है. ना सिर्फ भविष्य, बल्कि हाथ की रेखाएं पूर्व जन्म के भी राज खोलती हैं. पंडित इंद्रमणि घनस्याल बताते हैं कि हथेली में चार ऐसी रेखाएं होती हैं, जो आपके पूर्व जन्म के बारे में बताती हैं तो चलिए जानते हैं इन रेखाओं को विस्तार से.

ये रेखाएं बताती हैं पूर्व जन्म का राज
ज्योतिषियों के अनुसार, व्यक्ति के दाएं और बाएं हाथ में दो-दो रेखाएं होती हैं, जो आपके पूर्व जन्म के बारे में बताती हैं. यह रेखाएं हथेली के केतु क्षेत्र में स्थित होती हैं. हाथ की कलाई और हथेली के जुड़ने वाले भाग को केतु क्षेत्र कहते हैं. यहां दो रेखाएं हथेली से शुरू होकर कलाई की ओर खुलती हैं. ये रेखाएं आपके पूर्व जन्म के काम, अर्थ और मोक्ष की प्राप्ति को दर्शाती हैं.

यह भी पढ़ें: इस फूल को खिलता हुआ देख लिया तो बदल सकती है आपकी किस्मत, जानें इसकी विशेषताएं

यह भी पढ़ें: ये हैं मां दुर्गा के 5 प्रसिद्ध मंदिर, जहां नवरात्रि में लगता है भक्तों का तांता

हस्तरेखा के अनुसार, अगर केतु क्षेत्र की दोनों रेखाएं अगर बृहस्पति की तरफ जाती हैं तो यह दर्शाता है कि आप पूर्व जन्म में राजा या नेतृत्व करने वाले व्यक्ति रहे होंगे. वहीं अगर ये रेखाएं शनि पक्ष की तरफ जाती हैं तो ये आपके किसान, मंत्री होने का संकेत होता है.

ज्योतिषियों के अनुसार, अगर पूर्व जन्म की कुछ इच्छाएं अधूरी रह जाती हैं तो उससे जुड़े सपने अधिक आते हैं. उसके हाव-भाव से भी उसके पूर्व जन्म का पता लगाया जा सकता है. जैसे छोटा बच्चा अगर किसी काम में समय से पहले माहिर हो जाता है तो वह पूर्व जन्म में उससे जुड़ा व्यक्ति रहा होगा.

ज्योतिषियों के अनुसार, अगर पूर्व जन्म के कर्म से परेशान होने की दशा में भगवान शिवजी की पूजा करनी चाहिए और ईश्वर से माफी मांगनी चाहिए.

Tags: Dharma Aastha, Dharma Culture, Religious

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें