अपना शहर चुनें

States

Paush Purnima 2021 Date: कब है पौष पूर्णिमा? जानें तारीख, शुभ मुहूर्त और महत्व

पौष पूर्णिमा का धार्मिक महत्व जानें
पौष पूर्णिमा का धार्मिक महत्व जानें

पौष पूर्णिमा २०२१ (Paush purnima 2021 Date): पौष पूर्णिमा के दिन ही प्रयागराज, काशी और हरिद्वार में गंगा स्नान के लिए श्रद्धालुओं का मेला जैसा लगता है. आइए जानते हैं इस पौष पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त और धार्मिक महत्व...

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2021, 5:25 PM IST
  • Share this:
पौष पूर्णिमा २०२१ (Paush purnima 2021 Date): पौष पूर्णिमा 28 जनवरी 2021, गुरुवार को है. हिंदू धर्म में पौष माह में पड़ने वाली पूर्णिमा तिथि का काफी धार्मिक महत्व है. मान्यता है कि इस दिन व्रत और गंगा स्नान करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं और जातक जन्म-मरण के बंधन से छूट जाता है. इससे अलावा इस दिन जरूरतमंद लोगों को दान देने और सूर्य देव को अर्घ्य देने का ख़ास महत्व है.

पौष पूर्णिमा (Paush Purnima 2021 ) के दिन ही प्रयागराज (Prayagraj), काशी (Kashi) और हरिद्वार (Haridwar) में गंगा स्नान (Ganga Bath) के लिए श्रद्धालुओं का मेला जैसा लगता है. आइए जानते हैं इस पौष पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त और धार्मिक महत्व...

इसे भी पढ़ें: Gupt Navratri 2021: कौन हैं देवी शाकम्भरी? गुप्त नवरात्रि में इस मंत्र से करें मां को प्रसन्न



पौष पूर्णिमा की तारीख और शुभ मुहूर्त:
पौष पूर्णिमा की शुरुआत 28 जनवरी 2021 गुरुवार को 01 बजकर 18 मिनट से हो जाएगी.
पूर्णिमा का समापन शुक्रवार की रात 12 बजकर 47 मिनट पर होगा.

पौष पूर्णिमा का धार्मिक महत्व:
हिंदू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, पौष माह को सूर्य देव का महीना कहा जाता है. और पूर्णिमा की तिथि चंद्र देव की प्रिय मानी जाती है. माना जाता है कि इस माह में जो जातक सूर्य देव की विधिवत पूजा अर्चना करते हैं वो जन्म मरण के बंधन से मुक्त हो जाते हैं और उन्हें मोक्ष की प्राप्ति होती है. यही वजह है कि पौष पूर्णिमा के दिन कई लोग गंगा में स्नान करते हैं और अंजलि से सूर्य देव को अर्घ्य देते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज