Home /News /dharm /

Paush Purnima 2022: आज है पौष पूर्णिमा, जानें सही तिथि, चंद्रोदय समय और महत्व

Paush Purnima 2022: आज है पौष पूर्णिमा, जानें सही तिथि, चंद्रोदय समय और महत्व

पौष पूर्णिमा 2022

पौष पूर्णिमा 2022

Paush Purnima 2022: पंचांग (Panchang) के अनुसार पौष मास (Paush Month) के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को पौष पूर्णिमा होता है. पौष पूर्णिमा के दिन व्रत रखने, चंद्रमा (Chandrama) और माता लक्ष्मी (Mata Lakshmi) की पूजा का विधान है.

Paush Purnima 2022: पंचांग (Panchang) के अनुसार पौष मास (Paush Month) के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को पौष पूर्णिमा होता है. पौष पूर्णिमा के दिन व्रत रखने, चंद्रमा (Chandrama) और माता लक्ष्मी (Mata Lakshmi) की पूजा करने का विधान है. पूर्णिमा के दिन चंद्रमा और माता लक्ष्मी की पूजा से धन, दौलत और सुख में वृद्धि होती है. इस दिन सत्यनारायण भगवान की कथा और पूजा होती है. इससे शुभता और सौभाग्य बढ़ता है. सत्यनारायण भगवान को श्रीहरि विष्णु का अवतार मानते हैं. आइए जानते हैं कि पौष पूर्णिमा कब है, तिथि क्या है और चंद्रोदय कब होगा?

पौष पूर्णिमा 2022 तिथि एवं चांद निकलने का समय

हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, पौष मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि का प्रारंभ आज 17 जनवरी दिन सोमवार को तड़के 03 बजकर 18 मिनट पर हुआ है. पूर्णिमा तिथि 18 जनवरी दिन मंगलवार को प्रात: 05 बजकर 17 मिनट तक है. पूर्णिमा के चंद्रमा का उदय 17 जनवरी को होगा, इसलिए पौष पूर्णिमा आज 17 जनवरी को है. इस दिन पूर्णिमा व्रत भी रखा जाएगा.

यह भी पढ़ें: इस साल सौभाग्य योग में है सकट चौथ, जानें पूजा का मुहूर्त एवं महत्व

पौष पूर्णिमा 2022 चंद्रोदय समय
पौष पूर्णिमा के दिन आज चंद्रमा के उदय का समय शाम को 05 बजकर 10 मिनट पर है. इस दिन चंद्रास्त का समय ज्ञात नहीं है. इस दिन का शुभ मुहूर्त दोपहर 12:10 बजे से दोपहर 12:52 बजे तक है.

यह भी पढ़ें: नए साल 2022 में कब-कब है पूर्णिमा व्रत? सबसे पहले देखें यहां

सर्वार्थ सिद्धि योग में पौष पूर्णिमा
पौष पूर्णिमा आज सर्वार्थ सिद्धि योग में है. इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग प्रात: 04:37 बजे से अगले दिन 18 जनवरी को प्रात: 07:15 बजे तक है. पूर्णिमा को पूर्णमासी भी कहते हैं, इसलिए इस दिन के चांद को पूर्णमासी का चांद कहते हैं. पूर्णमासी का अर्थ उस मास के पूर्ण होने से है. पंचांग में पूर्णिमा के बाद से नए माह का प्रारंभ होता है.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Dharma Aastha, धर्म

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर