होम /न्यूज /धर्म /Hanuman Mantra: बजरंगबली के ये प्रभावशाली मंत्र करेंगे सभी कष्ट दूर, हर मनोकामना होगी पूरी

Hanuman Mantra: बजरंगबली के ये प्रभावशाली मंत्र करेंगे सभी कष्ट दूर, हर मनोकामना होगी पूरी

हनुमान जी के मंत्रों का उच्चारण करने से भय दूर होता है. Image- Canva

हनुमान जी के मंत्रों का उच्चारण करने से भय दूर होता है. Image- Canva

जो भी भक्त हनुमान जी की सच्ची श्रद्धा से पूजा करता है, उसके सभी कष्टों का निवारण होता है. शास्त्रों में बजरंगबली के प्र ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भगवान महावीर तेज, यश, शक्ति व साहस के प्रतीक हैं.
हनुमान जी की पूजा से मनचाहा फल प्राप्त होता है.

Hanuman Mantra: हिंदू धर्म में संकटमोचन हनुमान जी का विशेष स्थान है. हनुमान जी को भगवान शिव का रूद्र अवतार माना जाता है. हनुमान जी की पूजा से मनचाहा फल प्राप्त होता है. हनुमान जी को संकटमोचन भी कहते हैं, इसलिए जो भी भक्त नियमित रूप से बजरंगबली की पूजा करता है, उसके सभी कष्टों का निवारण होता है. पंडित इंद्रमणि घनस्याल बताते हैं कि भगवान महावीर तेज, यश, शक्ति व साहस के प्रतीक हैं. अगर हनुमान जी की नियमित पूजा में मंत्रों का उच्चारण करते हैं तो इसका दोगुना फल प्राप्त होता है. शास्त्रों में बजरंगबली के प्रभावशाली मंत्रों के बारे में बताया गया है.

हनुमान जी के मंत्रों का महत्व
शास्त्रों में बजरंगबली के मंत्रों का महत्व बताया गया है. हनुमानजी को बजरंगबली कहते हैं,  जिसका अर्थ है हीरे और वज्र जैसा शरीर, जिसे ना कोई तोड़ सकता है, ना ही कोई पराजित कर सकता है. हनुमानजी के पास ऐसी अलौकिक शक्तियां हैं, जो अन्य देवताओं के पास नहीं है, इसलिए हनुमान जी को महाबली भी कहते हैं. हनुमान जी का नाम लेने मात्र से भूत-पिशाच दूर भाग जाते हैं. हनुमान जी के मंत्रों से भय, लोभ से मुक्ति मिलती है और मन शांत रहता है. घर में सुख-समृद्धि के लिए नियमित हनुमान चालीसा का पाठ और मंत्रों का उच्चारण करना चाहिए.

हनुमान जी के प्रभावशाली मंत्र
सर्व ग्रह भय दूर करने के लिए
ॐ ह्रां ह्रीं ह्रूं ह्रैं ह्रौं ह्रः॥ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट्। ओम हं हनुमंताय नम:.

ॐ हं हनुमंते नम:

ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट।

महाबलाय वीराय चिरंजिवीन उद्दते। हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये।।

सभी बाधाओं से मुक्ति के लिए मंत्र
आदिदेव नमस्तुभ्यं सप्तसप्ते दिवाकर।
त्वं रवे तारय स्वास्मानस्मात्संसार सागरात।

अतुलितबलधामं हेमशैलाभदेहं, दनुजवनकृशानुं ज्ञानिनामग्रगण्यम्।।
सकलगुणनिधानं वानराणामधीशं, रघुपतिप्रियभक्तं वातजातं नमामि ।।

ये भी पढ़ें: हर घर में होता है पञ्चसूना पाप, इन उपायों से दूर करें दोष

ये भी पढ़ें: कब है मार्गशीर्ष का दूसरा प्रदोष व्रत? जानें शिव पूजा मुहूर्त और महत्व

संकटों से छुटकारा के लिए मंत्र
आदिदेव नमस्तुभ्यं सप्तसप्ते दिवाकर! त्वं रवे तारय स्वास्मानस्मात्संसार सागरात!!

सभी तरह के संकट दूर करने के लिए मंत्र
ॐ नमो हनुमते रुद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा!

कर्ज से मुक्ति के लिए मंत्र
ॐ नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा।

Tags: Dharma Culture, Lord Hanuman

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें