Navratri Second Day: यहां पढ़ें मां ब्रह्मचारिणी की आरती

Navratri Second Day: यहां पढ़ें मां ब्रह्मचारिणी की आरती
मां ब्रह्मचारिणी की आरती

मां ब्रह्मचारिणी का स्वरुप तेजोमंडल से युक्त है. मां ने बाएं हाथ में कमंडल धारण किया है और दाएं हाथ में स्फटिक की माला है. मां ब्रह्मचारिणी ने सफ़ेद रंग की लाल किनारे वाली साड़ी धारण की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2020, 7:55 AM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नवरात्रि २०२०, नवरात्रि दूसरा दिन (Navratri 2020): आज नवरात्रि के दूसरे दिन मां नवदुर्गा के दूसरे स्वरुप 'मां ब्रह्मचारिणी' की पूजा अर्चना हो रही है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, जो साधक मां ब्रह्मचारिणी की पूजा अर्चना करता है उसकी कुण्डलिनी शक्ति और आज्ञा चक्र जाग्रत हो जाग्रत हो जाता है. कोई भी पूजा बिना आरती के अधूरी है. अगर आप जल्दबाजी में मां ब्रह्मचारिणी की आरती की किताब नहीं खरीद पाए हैं या आपको आरती याद नहीं है. तो आप मां ब्रह्मचारिणी की आरती यहां पढ़ सकते हैं....

मां ब्रह्मचारिणी की आरती:


जय अंबे ब्रह्माचारिणी माता.
जय चतुरानन प्रिय सुख दाता.



ब्रह्मा जी के मन भाती हो.
ज्ञान सभी को सिखलाती हो.
ब्रह्मा मंत्र है जाप तुम्हारा.


जिसको जपे सकल संसारा.
जय गायत्री वेद की माता.
जो मन निस दिन तुम्हें ध्याता.
कमी कोई रहने न पाए.
कोई भी दुख सहने न पाए.
उसकी विरति रहे ठिकाने.
जो ​तेरी महिमा को जाने.
रुद्राक्ष की माला ले कर.
जपे जो मंत्र श्रद्धा दे कर.
आलस छोड़ करे गुणगाना.
मां तुम उसको सुख पहुंचाना.
ब्रह्माचारिणी तेरो नाम.
पूर्ण करो सब मेरे काम.
भक्त तेरे चरणों का पुजारी.
रखना लाज मेरी महतारी.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
First published: March 26, 2020, 7:50 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading