Sawan Somvar 2020: व्रत के दौरान रखें इन बातों का ख्याल, जानें क्या खाएं और क्या नहीं

Sawan Somvar 2020: व्रत के दौरान रखें इन बातों का ख्याल, जानें क्या खाएं और क्या नहीं
आप कितना कठोर व्रत रख सकते हैं यह व्यक्ति की दृढ़ता और आस्था के साथ-साथ उसकी सेहत पर भी निर्भर करता है.

सावन सोमवार (Sawan Somvar) भगवान शिव (Lord Shiva) का दिन माना जाता है और इस दिन व्रत (Fast) और उपवास रखने का खास महत्व है.

  • Share this:
व्रत (Fast) रखना न सिर्फ धार्मिक रूप से अच्छा होता है बल्कि यह शरीर को भी स्वस्थ रखता है. व्रत से शरीर के डाइजेशन सिस्टम (Digestion System) को आराम मिलता है और बॉडी का मेटाबॉलिक रेट (Metabolic Rate) बढ़ जाता है. हालांकि इस दौरान कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है वरना इसका उल्टा प्रभाव भी आपके शरीर पर पड़ सकता है. सावन का पहला सोमवार (Sawan Somvar) आगामी 6 जुलाई से शुरू होने वाला है. इस दिन लोग भगवान शिव (Lord Shiva) की पूजा करेंगे. हालांकि कोरोना महामारी के चलते इस बार लोग अपने घरों में ही भोले बाबा को जल चढ़ाएंगे और उनकी अराधना करेंगे. सावन सोमवार भगवान शिव का दिन माना जाता है और इस दिन व्रत और उपवास रखने का खास महत्व है. ऐसे में अगर आप भी सावन के सोमवार के दिन व्रत रखने जा रहे हैं तो आइए आपको बताते हैं कि व्रत और उपवास के दौरान कैसे आप सेहतमंद भी रह सकते हैं. सावन सोमवार व्रत में आप क्या खाएं और क्या नहीं.

आप कितना कठोर व्रत रख सकते हैं यह व्यक्ति की दृढ़ता और आस्था के साथ-साथ उसकी सेहत पर भी निर्भर करता है. कुछ लोग पूरे दिन भूखे रहकर सिर्फ शाम के वक्त हल्का-फुल्के फलाहार का सेवन करते हैं. वहीं कुछ लोग अनाज और नॉर्मल खाने की जगह व्रत के दौरान फल, दूध और व्रत से जुड़ी दूसरी चीजें खाते हैं. वहीं कुछ लोग दिन भर भूखे रहकर रात में सिर्फ एक वक्त खाना खाते हैं और वह भी बिना नमक के. ऐसे में अपनी सेहत को ध्यान में रखते हुए ही आपको व्रत करने का तरीका चुनना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः Kanwar Yatra 2020: सावन के महीने में क्यों की जाती है कांवड़ यात्रा, कोरोना के चलते कैसे करें भगवान शिव का जलाभिषेक



व्रत के समय इन बातों का रखें ख्याल
व्रत के दौरान शरीर में पानी की कमी नहीं होनी चाहिए. प्रतिदिन 6 से 8 गिलास पानी जरूर पिएं.

व्रत के समय डाइट में ऐसे फल शामिल करें जिसमें पानी की मात्रा अधिक हो जैसे-अंगूर, लीची, संतरा, मौसमी.

पेट खाली रहने से एसिडिटी हो सकती है. ऐसे में थोड़े-थोड़े अंतराल पर कुछ न कुछ फलाहार करते रहें.

व्रत में ड्राई फ्रूट्स खा सकते हैं. इससे शरीर को एनर्जी मिलेगी और कमजोरी महसूस नहीं होगी.

व्रत में क्या खाएं
ब्रेकफास्ट में आप स्किम्ड मिल्क के साथ फल का सेवन कर सकते हैं या फिर दूध के साथ भीगे बादाम भी खा सकते हैं.

लंच में सेंधा नमक डालकर साबूदाने से बना कोई भी व्यंजन जरूर खाएं. इसे आप दही के साथ ले सकते हैं या फिर कुट्टू के आटे से बनी पूरी और आलू की सब्जी के साथ दही ले सकते हैं.

अगर आप नमक का सेवन नहीं करते हैं तो दही खा सकते हैं, दूध पी सकते हैं, दूध से बनी किसी मीठी चीज का भी सेवन कर सकते हैं.

वहीं शाम के समय सूखे मेवे आपको फिट रखेंगे या फिर सादी चाय के साथ व्रत के चिप्स या रोस्टेड मखाना ले सकते हैं.

व्रत में इन चीजों से करें परहेज
व्रत के दौरान अधिक तला-भुना नहीं खाना चाहिए. इससे शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ती है. प्रोटीन, फैट, कार्बोहाइड्रेट, विटमिन और मिनरल्स के साथ-साथ सभी जरूरी पोषक तत्वों का सेवन जरूर करें.

कुट्टू के आटे और आलू का अधिक सेवन करने से बचें.

व्रत के दौरान सुस्ती से बचने के लिए पनीर और फुलक्रीम दूध का सेवन न करें. इसकी जगह पर ताजे फलों के जूस का सेवन करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज