लाइव टीवी

Laxmi Puja 2019: शरद पूर्णिमा को पूजा के बाद पढ़ें मां लक्ष्मी के ये आरती, भरा रहेगा धन धान्य!

News18Hindi
Updated: October 13, 2019, 3:09 PM IST
Laxmi Puja 2019: शरद पूर्णिमा को पूजा के बाद पढ़ें मां लक्ष्मी के ये आरती, भरा रहेगा धन धान्य!
Laxmi Puja 2019: शरद पूर्णिमा को पूजा के बाद पढ़ें मां लक्ष्मी के ये आरती, भरा रहेगा धन धान्य!

Sharad Purnima, Laxmi Puja 2019: शरद पूर्णिमा को कोजागरी पूर्णिमा भी कहा जाता है. इस दिन पूजा पाठ करने से जीवन में खुशहाली आती है और कंगाली दूर भागती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2019, 3:09 PM IST
  • Share this:
Sharad Purnima, Laxmi Puja 2019: आज 13 अक्टूबर को शरद पूर्णिमा है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, मां लक्ष्मी का जन्म शरद पूर्णिमा के दिन ही हुआ था. इस दिन मां लक्ष्मी पृथ्वीलोक का भ्रमण करती हैं. यही कारण है कि शरद पूर्णिमा के दिन भक्त पूरे विधि विधान के साथ मां लक्ष्मी की पूजा अर्चना करते हैं. यह भी माना जाता है कि इस दिन जो लोग मां का ध्यान और भजन करते हुए रात्रि जागरण करते हैं मां लक्ष्मी उनके घर में आती हैं. ऐसे में जब वो अपने भक्तों को पूजा पाठ में खोया हुआ देखती हैं तो उनपर (भक्तों पर) कृपा बरसाती है. मां लक्ष्मी धन की देवी है. उनकी पूजा करने वाले भक्त को धन धान्य की कमी नहीं रहती है. शरद पूर्णिमा को कोजागरी पूर्णिमा भी कहा जाता है. इस दिन पूजा पाठ करने से जीवन में खुशहाली आती है और कंगाली दूर भागती है. शरद पूर्णिमा के दिन शाम के वक्त मां लक्ष्मी की पूजा करने के बाद पढ़ें ये आरती....

मां लक्ष्मी की आरती

ॐ जय लक्ष्मी माता,
मैया जय लक्ष्मी माता ।

तुमको निसदिन सेवत,
हर विष्णु विधाता ॥

इसे भी पढ़ें: Sharad Purnima Recipe: शरद पूर्णिमा पर ऐसे बनाएं केसरिया खीर का अमृत प्रसाद, खाकर उंगलियां चाटेंगे लोग
Loading...

उमा, रमा, ब्रम्हाणी,
तुम ही जग माता ।
सूर्य चद्रंमा ध्यावत,
नारद ऋषि गाता ॥
॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥

दुर्गा रुप निरंजनि,
सुख-संपत्ति दाता ।
जो कोई तुमको ध्याता,
ऋद्धि-सिद्धि धन पाता ॥
॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥

तुम ही पाताल निवासनी,
तुम ही शुभदाता ।
कर्म-प्रभाव-प्रकाशनी,
भव निधि की त्राता ॥
॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥

जिस घर तुम रहती हो,
ताँहि में हैं सद्गुण आता ।
सब सभंव हो जाता,
मन नहीं घबराता ॥
॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥

तुम बिन यज्ञ ना होता,
वस्त्र न कोई पाता ।
खान पान का वैभव,
सब तुमसे आता ॥
॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥

शुभ गुण मंदिर सुंदर,
क्षीरोदधि जाता ।
रत्न चतुर्दश तुम बिन,
कोई नहीं पाता ॥
॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥

महालक्ष्मी जी की आरती,
जो कोई नर गाता ।
उँर आंनद समाता,
पाप उतर जाता ॥
॥ॐ जय लक्ष्मी माता...॥

ॐ जय लक्ष्मी माता,
मैया जय लक्ष्मी माता ।
तुमको निसदिन सेवत,
हर विष्णु विधाता ॥

इसे भी पढ़ें: Karva Chauth 2019: इस तारीख को है करवा चौथ, अभी से कर लें तैयारी पत्नी के गिफ्ट की

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कल्चर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 2:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...