होम /न्यूज /धर्म /Sharad Purnima 2022: शरद पूर्णिमा पर भगवान श्रीकृष्ण के इस मंत्र का करें जाप, पूरी होंगी मनोकामनाएं

Sharad Purnima 2022: शरद पूर्णिमा पर भगवान श्रीकृष्ण के इस मंत्र का करें जाप, पूरी होंगी मनोकामनाएं

शरद पूर्णिमा के दिन चंद्र देव की विशेष उपासना होती है.

शरद पूर्णिमा के दिन चंद्र देव की विशेष उपासना होती है.

इस बार 9 अक्टूबर 2022 को शरद पूर्णिमा है. शरद पूर्णिमा के दिन भगवान श्रीकृष्ण के विशेष मंत्र के जाप से सभी मनोकामनाएं प ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

इस बार 09 अक्टूबर 2022 को शरद पूर्णिमा है.
शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा अपनी संपूर्ण सोलह कलाओं से परिपूर्ण होता है.

Sharad Purnima 2022: हिंदू धर्म में शरद पूर्णिमा का बड़ा महत्व है. कहते हैं साल में शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा अपनी संपूर्ण सोलह कलाओं के साथ निकलता है, इसलिए शरद पूर्णिमा के दिन भगवान चंद्र देव की विशेष उपासना का विधान है. इस दिन महिलाएं उपवास रख अपने परिवार की सुख-समृद्धि की कामना करती हैं. पंचांग के अनुसार, इस बार 09 अक्टूबर 2022 को शरद पूर्णिमा है.

पंडित इंद्रमणि घनस्याल बताते हैं कि भगवान श्रीकृष्ण सोलह कलाओं के साथ जन्मे थे, इसलिए शरद पूर्णिमा के दिन भगवान श्रीकृष्ण के विशेष मंत्र के जाप से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं. आइये जानते हैं शरद पूर्णिमा पर श्रीकृष्ण के इस मंत्र का महत्व क्या है.

शरद पूर्णिमा का महत्व
पौराणिक कथाओं के अनुसार, शरद पूर्णिमा के दिन धन की देवी मां लक्ष्मी धरती पर विचरण करने आती हैं. मान्यता है कि इस दिन मां लक्ष्मी का जन्म हुआ था. ऐसे में शरण पूर्णिमा पर मां लक्ष्मी की आराधना करने से मनचाहा वरदान प्राप्त होता है. लक्ष्मी जी की पूजा से घर में सुख-समृद्धि और शांति का वास होता है. कहते हैं शरद पूर्णिमा को चंद्रमा की चांदनी से अमृत की वर्षा होती है. इस दिन रात्रि में खीर खुले आसमान में रखने से चंद्रमा के अमृत की प्राप्ति होती है.

यह भी पढ़ें: कुंडली में गुरु की खराब स्थिति से आती है गरीबी, इन उपायों से करें समाधान

यह भी पढ़ें: सूर्य देव को जल चढ़ाते समय इन बातों का रखें ध्यान, मिलेगा दोगुना लाभ

श्रीकृष्ण के मंत्र का महत्व
शरद पूर्णिमा पर भगवान श्रीकृष्ण की पूजा करना भी उत्तम है. मान्यता है कि शरद पूर्णिमा की रात भगवान श्रीकृष्ण गोपियों संग रास रचाते हैं. शरद पूर्णिमा पर भगवान श्रीकृष्ण का निम्न मंत्र का जाप करना चाहिए. इससे धन-संपदा, सुख-समृद्धि, शांति प्राप्त की जा सकती है. इस मंत्र के जाप से हर मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं और घर में खुशियों का माहौल बना रहता है.

श्रीकृष्ण का मंत्र:
ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्रीकृष्णाय गोविंदाय गोपीजन वल्लभाय श्रीं श्रीं श्री’

इस मंत्र को रात्रि के समय सच्ची श्रद्धा से जाप करें और भगवान से सुख, सौभाग्य और शांति के लिए प्रार्थना करें.

Tags: Dharma Aastha, Dharma Culture, Religious

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें