लाइव टीवी

Navratri Seventh Day 2019: शत्रुओं का करनी है विजय और चाहिए गुप्त शक्तियां तो पूजा के बाद पढ़ें ये आरती

News18Hindi
Updated: October 5, 2019, 8:18 AM IST
Navratri Seventh Day 2019: शत्रुओं का करनी है विजय और चाहिए गुप्त शक्तियां तो पूजा के बाद पढ़ें ये आरती
नवरात्रि सप्तमी मां कालरात्रि की आरती पढ़ें

नवरात्रि २०१९ (Shardiya Navratri 2019 Seventh Day) : तांत्रिकों के लिए मां कालरात्रि विशेष फल देने वाली हैं...

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 5, 2019, 8:18 AM IST
  • Share this:
नवरात्रि २०१९ (Shardiya Navratri 2019 Seventh Day) : आज नवरात्रि के सातवें दिन मां नव दुर्गा के सातवें स्वरुप मां कालरात्रि की पूजा अर्चना की जाती है. आज भक्त पूरे दिन व्रत रखेंगे और पूजा पाठ करेंगे.हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार, मां कालरात्रि दुष्टों और शत्रुओं का विनाश करने वाली हैं. तांत्रिक गुप्त शक्तियों की प्राप्ति के लिए अर्द्ध रात्रि में मां कालरात्रि की पूजा अर्चना करते हैं. वो भक्तों पर आई हर बाधा को हर लेने वाली हैं. नवरात्रि की सप्तमी तिथि के दिन मां कालरात्रि की पूजा करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है. कोई भी पूजा आरती के बिना अधूरी होती हैं. इसलिए आज मां कालरात्रि की पूजा के बाद पढ़ें ये आरती...

इसे भी पढ़ेंः  Navratri 2019: करणी माता मंदिर का जरूर करें दर्शन, मिलता है चूहों का जूठा प्रसाद

मां कालरात्रि की आरती
कालरात्रि जय-जय-महाकाली।

काल के मुह से बचाने वाली॥

दुष्ट संघारक नाम तुम्हारा।
महाचंडी तेरा अवतार॥
Loading...

पृथ्वी और आकाश पे सारा।
महाकाली है तेरा पसारा॥

खडग खप्पर रखने वाली।
दुष्टों का लहू चखने वाली॥

कलकत्ता स्थान तुम्हारा।
सब जगह देखूं तेरा नजारा॥

सभी देवता सब नर-नारी।
गावें स्तुति सभी तुम्हारी॥

रक्तदंता और अन्नपूर्णा।
कृपा करे तो कोई भी दुःख ना॥

ना कोई चिंता रहे बीमारी।
ना कोई गम ना संकट भारी॥

उस पर कभी कष्ट ना आवें।
महाकाली माँ जिसे बचाबे॥

तू भी भक्त प्रेम से कह।
कालरात्रि माँ तेरी जय॥

इसे भी पढ़ेंः नवरात्र: इस मंदिर में मां के श्रृंगार के लिए दक्षिण भारत से मंगाए जाते हैं फूल

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्म से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 8:13 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...