लाइव टीवी

Navratri Sixth Day 2019: अधूरी रह जाएगी मां कत्यायनी की, अगर नहीं पढ़ी ये आरती

News18Hindi
Updated: October 4, 2019, 11:02 AM IST
Navratri Sixth Day 2019: अधूरी रह जाएगी मां कत्यायनी की, अगर नहीं पढ़ी ये आरती
Navratri Sixth Day 2019: मां कत्यायनी की पूजा रह जाएगी अधूरी अगर नहीं पढ़ी ये आरती

नवरात्रि २०१९ (Shardiya Navratri 2019 Sixth day): मां कत्यायनी की पूजा करने वाले साधक अपनी कामनाओं को वश में कर सकते हैं. पढ़िए मां की महिमा...

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 4, 2019, 11:02 AM IST
  • Share this:
नवरात्रि २०१९ (Shardiya Navratri 2019 Sixth Day : आज नवरात्रि के छठे दिन मां नव दुर्गा के छठे रूप मां कत्यायनी की पूजा अर्चना की जाती है. आज भक्त पूरे दिन व्रत रखेंगे और पूजा पाठ करेंगे.हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार, मां कत्यायनी मन की शक्ति को बढ़ाने वाली देवी हैं. सच्चे मन से उनकी करने वाले साधक अपनी इंद्रियों और इच्छाओं को वश में करने की सिद्धि प्राप्त कर सकता है. यह भी माना जाता है कि जिस लोगों के विवाह में अड़चन आ रही है वो अगर इस दिन पूजा एचना करें तो उन्हें योग्य और मनचाहा जीवनसाथी प्राप्त होता है और उस जातक पर ब्रहस्पति भगवान की भी कृपा बनी रहती है. मां कत्यायनी की पूजा के बाद ये आरती पढ़नी चाहिए...

इसे भी पढ़ेंः  Navratri 2019: करणी माता मंदिर का जरूर करें दर्शन, मिलता है चूहों का जूठा प्रसाद

मां कात्‍यायनी की आरती:
जय-जय अम्बे जय कात्यायनी

जय जगमाता जग की महारानी
बैजनाथ स्थान तुम्हारा
वहा वरदाती नाम पुकारा
Loading...

कई नाम है कई धाम है
यह स्थान भी तो सुखधाम है
हर मंदिर में ज्योत तुम्हारी
कही योगेश्वरी महिमा न्यारी
हर जगह उत्सव होते रहते
हर मंदिर में भगत हैं कहते
कत्यानी रक्षक काया की
ग्रंथि काटे मोह माया की
झूठे मोह से छुडाने वाली
अपना नाम जपाने वाली
बृहस्‍पतिवार को पूजा करिए
ध्यान कात्यायनी का धरिए
हर संकट को दूर करेगी
भंडारे भरपूर करेगी
जो भी मां को 'चमन' पुकारे
कात्यायनी सब कष्ट निवारे

इसे भी पढ़ेंः नवरात्र: इस मंदिर में मां के श्रृंगार के लिए दक्षिण भारत से मंगाए जाते हैं फूल

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्म से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 4, 2019, 8:05 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...