लाइव टीवी

Shattila Ekadashi 2020: इस तारीख को है षटतिला एकादशी, जानें पूजा करने की विधि

News18Hindi
Updated: January 18, 2020, 8:12 AM IST
Shattila Ekadashi 2020: इस तारीख को है षटतिला एकादशी, जानें पूजा करने की विधि
जानें कब है षटतिला एकादशी, जानें पूजा करने की विधि

षटतिला एकादशी 2020 (Shattila Ekadashi 2020): षटतिला एकादशी को स्नान, खाने, प्रसाद, दान और तर्पण में तिल का प्रयोग किया जाता है. इस दिन पीले कपड़े पहनकर पूजा करें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2020, 8:12 AM IST
  • Share this:
षटतिला एकादशी 2020 (Shattila Ekadashi 2020): हिन्दू पंचांग के अनुसार, षटतिला एकादशी 20 जनवरी को पड़ रही है. यह एकादशी माघ मास के कृष्ण पक्ष में पड़ती है. हिंदू धर्म शास्त्रों में, षटतिला एकादशी को काफी अहम माना गया है. इस दिन विश्व के पालनहार भगवान विष्णु की विधि विधान से आराधना की जाती है. षटतिला एकादशी को स्नान, खाने, प्रसाद, दान और तर्पण में तिल का प्रयोग किया जाता है. इस दिन पीले कपड़े पहनकर पूजा करें. पूजा में भगवान विष्णु को तिल अर्पित करना ना भूलें. आइए जानते हैं इस व्रत से जुड़ी मान्यताएं...

व्रत से जुड़ी मान्यताएं:

षटतिला एकादशी को लेकर ऐसी मान्यता प्रचलित है कि इस दिन लोग जितना ज्यादा तिल इस्तेमाल करेंगे उनकी उम्र उतनी ही ज्यादा लंबी हो जाती है.

षटतिला एकादशी के दिन सुबह नित्यकर्म निपटाने के बाद कुश के आसन पर बैठ कर ॐ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए.

पूरे दिन व्रत रखने के बाद शाम के समय पंडित जी से कथा सुननी चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः Shubh Vivah Muhurat 2020: साल 2020 में सिर्फ 53 दिन ही हो सकेंगी शादियां और शुभ कार्य

इस दिन विष्णु भगवान की कृपा पाने के लिए सुबह उठकर पूरे शरीर में तिल का उबटन मलें.पानी में तिल डालकर रख दें, थोड़ी देर बाद इस पानी ने नहा लें. नहा कर पीले रंग के कपड़े पहनें. अब पूर्व की दिशा की तरफ मुंह करके तिल से 108 बार ॐ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र के साथ अग्निकुंड में आहुति दें.

अब दक्षिण की तरफ मुंह करके अपने पूर्वजों को तिल मिले जल और दूध की धार से अपने पूर्वजों को तर्पण दें.

इस दिन तिल से बने मिष्ठान किसी गरीब को दान करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है.

पूजा के समय नारायण कवच का 3 बार पाठ करें ऐसा करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कल्चर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 8:11 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर