होम /न्यूज /धर्म /शनि अमावस्या पर लगेगा पहला सूर्य ग्रहण, इन 9 बातों का रखें विशेष ध्यान

शनि अमावस्या पर लगेगा पहला सूर्य ग्रहण, इन 9 बातों का रखें विशेष ध्यान

इस साल शनि अमावस्या पर 30 अप्रैल को सूर्य ग्रहण लग रहा है. (Photo: Pixabay)

इस साल शनि अमावस्या पर 30 अप्रैल को सूर्य ग्रहण लग रहा है. (Photo: Pixabay)

साल 2022 का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल दिन शनिवार को लग रहा है. इस दिन शनि अमावस्या भी है. आइए जानते हैं सूर्य ग्रहण के ...अधिक पढ़ें

साल 2022 का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल दिन शनिवार को लग रहा है. इस दिन शनि अमावस्या भी है. अपने देश में यह एक आंशिक सूर्य ग्रहण होगा. 30 अप्रैल को सूर्य ग्रहण देर रात 12 बजकर 15 मिनट पर शुरु होगा, जो अगली सुबह 04 बजकर 07 मिनट तक रहेगा. यह भारत में दिखाई नहीं देगा, लेकिन अंटार्कटिका, दक्षिण और पश्चिम अमेरिका, प्रशांत महासागर और अटलांटिक मे नजर आएगा. अपने यहां आंशिक सूर्य ग्रहण है, इसलिए सूतक काल नहीं नहीं होगा. हालांकि सूर्य ग्रहण के समय में कुछ बातों का ध्यान रखना होता है. आइए जानते हैं काशी के ज्योतिषाचार्य चक्रपाणि भट्ट से सूर्य ग्रहण के समय ध्यान रखने वाली महत्वपूर्ण बातों के बारे में.

यह भी पढ़ें: मेष राशि में लगेगा वर्ष का पहला सूर्य ग्रहण, इन राशिवालों का चमकेगा भाग्य

सूर्य ग्रहण में ध्यान रखने वाली बातें

1. सूर्य ग्रहण की धार्मिक मान्यता है कि इस समय में देवताओं पर संकट आया होता है, इस वजह से कोई शुभ कार्य नहीं करते हैं.

2. सूर्य ग्रहण के समय में तुलसी, शमी का पौधा या देवी-देवताओं की ​मूर्तियों को छूना वर्जित है.

3. सूतक काल में भोजन करना, खाना बनाना, शयन करना, सब्जी काटने जैसे कार्य वर्जित हैं.

4. सूर्य ग्रहण के समय में गर्भवती महिलाओं को कपड़े की सिलाई, नुकीले या धारदार वस्तुओं के प्रयोग, स्नान आदि से बचना है. धार्मिक मान्यता है कि ऐसा करने से उसके शिशु को हानि होने की आशंका रहती है.

यह भी पढ़ें: 30 अप्रैल को होगा साल का पहला सूर्यग्रहण, जानें सूतक का समय

5. सूर्य ग्रहण के समय में मंदिरों के कपाट बंद कर देने चाहिए. आप घर पर इष्टदेव का ध्यान करके भक्ति भजन करना चाहिए.

6. सूर्य ग्रहण के समापन के बाद स्नान करना चाहिए और पूजा घर की सफाई करनी चाहिए.

7. सूर्य ग्रहण वाले दिन स्नान के बाद साफ वस्त्र पहनने चाहिए. सूर्य ग्रहण के समय जो वस्त्र पहने थे, उसे स्नान के बाद न पहनें.

8. सूर्य ग्रहण के बाद स्नान करके अन्न दान करने की भी परंपरा है.

9. सूर्य ग्रहण के बाद भोजन में गंगाजल और तुलसी का पत्ता डाल देना चाहिए. ऐसी मान्यता है कि इससे भोजन शुद्ध हो जाता है.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Astrology, Dharma Aastha, Surya Grahan

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें