Home /News /dharm /

Tilkuta Chauth Moonrise Time: जानें दिल्ली, मुंबई, जयपुर, जोधपुर सहित इन जगहों पर कब निकलेगा तिल कुटा सकट चौथ का चांद

Tilkuta Chauth Moonrise Time: जानें दिल्ली, मुंबई, जयपुर, जोधपुर सहित इन जगहों पर कब निकलेगा तिल कुटा सकट चौथ का चांद

तिल कुटा सकट चौथ का चांद निकलने का समय.

तिल कुटा सकट चौथ का चांद निकलने का समय.

Tilkuta Chauth Moonrise Time: राजस्थान में आज तिलकुटा चौथ का त्यौहार सेलिब्रेट किया जा रहा है. माघ मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को तिलकुटा चौथ के नाम से जाना जाता है. इसे सकट चौथ या संकष्टी चौथ भी कहा जाता है. इस दिन महिलाएं तिल और गुड़ को कूटकर लड्डू तैयार करती हैं. जानें आज किस वक्त तिल कुचा सकट चौथ का चांद निकलेगा.

अधिक पढ़ें ...

Tilkuta Chauth Moonrise Time: तिलकुट चौथ (Tilkuta Chauth) राजस्थान का एक महत्वपूर्ण त्यौहार है. यह हर वर्ष माघ मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को सेलि्ब्रेट किया जाता है. इसे कई जगहों पर सकट चौथ या संकष्टी चतुर्थी के नाम से भी मनाया जाता है. इस त्यौहर के दिन महिलाएं खासतौर पर तिल और गुड़ को कूटकर लड्डू तैयार करती हैं और उम्र में बड़ी महिलाओं को ये लड्डू देकर उनसे सुखी जीवन का आशीर्वाद प्राप्त करती हैं. इस त्यौहार को लेकर मान्यता है कि जो भी महिला इस दिन व्रत रखती है तो उसकी संतान की उम्र लंबी होती है. इस त्यौहार पर मुख्य रुप से भगवान गणेश की विशेष पूजा-अर्चना करने का भी विधान माना गया है. यह व्रत चंद्रमा को अर्घ्य देने के बाद ही पूरा माना जाता है.

इस दिन व्रती महिलाएं विधि-विधान से पूजा अर्चना करती हैं. अगर आपकी ये पहली सकट चौथ है तो हम आपको पूजा के दौरान लगने वाली पूजन सामग्री के बारे में बताने जा रहे हैं. इससे आपको पूजा के दौरान किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना होगा.
सकट चौ​थ 2022 के लिए पूजा सामग्री
1. गणेश स्थापना के लिए लकड़ी की एक छोटी चौकी और उस पर बिछाने के लिए एक पीला वस्त्र रखें.
2. प्रथम आराध्य गणेश जी को अर्पित करने के लिए पीला वस्त्र और एक जनेऊ.
3. गणेश जी के अभिषेक के लिए गंगाजल, लाल और पीले फूल.
4. दूर्वा की 21 गांठ और मोदक.
5. तिल के लड्डू, तिलकुट, लड्डू, तिल का खीर या अन्य पकवान.
6. चंदन, रोली, रक्षासूत्र, धूप, इत्र, अक्षत्, हल्दी, पान का पत्ता, सुपारी, अगरबत्ती, दीपक, गाय का घी, दही आदि.

चांद दिखने का समय

राजस्‍थान
जयपुर – 21:07 बजे.
जोधपुर – 21:20 बजे
अजमेर – 21:13 बजे
कोटा – 21:09 बजे
चुरू – 20:49 बजे
बांसवाड़ा – 21:16 बजे
दौसा – 21:05 बजे
टोंक – 21:08 बजे
सवाईमाधोपुर – 21:06 बजे
पाली – 21:19 बजे
राजसमंद – 21:17 बजे
अलवर – 21:03 बजे
बीकानेर – 21:17 बजे
जैसलमेर – 21:28 बजे
उदयपुर – 21:19 बजे
सीकर – 21:09 बजे
हनुमानगढ़ – 21:11 बजे
चित्तौड़गढ़ – 21:14 बजे

इसे भी पढ़ें: कब है इस साल की पहली कालाष्टमी? जानें तिथि, पूजा मुहूर्त एवं महत्व

दिल्ली- 21:00 बजे
लखनऊ- 20:46 बजे
वाराणसी- 20:39 बजे
गाजियाबाद- 20:59 बजे
गुरुग्राम- 21:01 बजे
फरीदाबाद- 21:00 बजे
सिरसा- 21:08 बजे
मधुबनी- 20:25 बजे
आगरा-20:58 बजे
मेरठ- 20:57 बजे
गया- 20:31 बजे
मुंबई- 21:27 बजे
इंदौर- 21:11 बजे
पुणे- 21:23 बजे
पटना- 20:30 बजे
रांची- 20:31 बजे
बरेली- 20:51 बजे
भागलपुर- 20:23 बजे
प्रयागराज- 20:44 बजे
कानपुर- 20:49 बजे
अमृतसर- 21:06 बजे
चंडीगढ़- 20:59 बजे
जालधंर- 21:04 बजे

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Religion

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर