Home /News /dharm /

vaishakh purnima 2022 chandra grahan lunar eclipse time and sutak kaal kar

कब है वैशाख पूर्णिमा? लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, जानें समय एवं सूतक काल

वैशाख माह की पूर्णिमा ति​थि को साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण लगने वाला है. (Photo: Pixabay)

वैशाख माह की पूर्णिमा ति​थि को साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण लगने वाला है. (Photo: Pixabay)

वैशाख माह की पूर्णिमा ति​थि को साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) लगने वाला है. आइए जानते हैं वैशाख पूर्णिमा तिथि, चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan) के समय एवं सूतक काल के बारे में.

वैशाख माह की पूर्णिमा ति​थि को साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) लगने वाला है. यह चंद्र ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा. वैशाख पूर्णिमा के दिन पवित्र नदियों में स्नान दान किया जाता है, जिससे पुण्य प्राप्त होता है. इस बार वैशाख पूर्णिमा को सुबह ही चंद्र ग्रहण का समय है, लेकिन आप पूर्णिमा का स्नान दान कर सकते हैं क्योंकि यह खग्रास चंद्र ग्रहण है. काशी के ज्योतिषाचार्य चक्रपाणि भट्ट से जानते हैं वैशाख पूर्णिमा तिथि, चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan) के समय के बारे में.

यह भी पढ़ें: कब है गंगा सप्तमी? जानें क्या है पूजा मुहूर्त एवं इसका पौराणिक महत्व

वैशाख पूर्णिमा 2022 तिथि
पंचांग के अनुसार, वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि का प्रारंभ 15 मई दिन रविवार को दोपहर 12 बजकर 45 मिनट से हो रहा है, इस​ तिथि का समापन अगले दिन 16 मई दिन सोमवार को सुबह 09 बजकर 43 मिनट पर होगा. ऐसे में वैशाख पूर्णिमा 16 मई को है.

यह भी पढ़ें: सीता नवमी कब है? जानें जानकी जयंती की तिथि एवं पूजा का शुभ मुहूर्त

साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण
साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण 16 मई को लगने वाला है. इस दिन चंद्र ग्रहण का प्रारंभ सुबह 07 बजकर 58 मिनट से हो रहा है. चंद्र ग्रहण का समापन दिन में 11 बजकर 25 मिनट पर होगा.

कहां दिखाई देगा चंद्र ग्रहण
साल का पहला चंद्र ग्रहण पश्चिमी यूरोप, मध्य-पूर्व भाग, अफ्रीका, उत्तर-दक्षिण अमेरिका, अंटार्कटिका, अटलांटिक महासागर एवं प्रशांत महासागर में दिखाई देगा.

चंद्र ग्रहण 2022 सूतक काल
साल के पहले चंद्र ग्रहण का सूतक काल मान्य नहीं होगा क्योंकि यह भारत में दिखाई नहीं देगा.  भारत में पूर्णत: सूर्य की उपस्थिति के कारण चंद्र ग्रहण दृश्य नहीं होगा, न ही इसकी मान्यता होगी. यहां सूतक काल भी मान्य नहीं होगा.

वैसे चंद्र ग्रहण के समय में 09 घंटे पूर्व से ही सूतक काल प्रारंभ हो जाता है. खग्रास चंद्र ग्रहण होने के कारण सूतक नहीं लगेगा. ऐसे में भारत में सभी धार्मिक कार्य पूर्ववत होते रहेंगे.

वैशाख पूर्णिमा 2022 स्नान दान
उदयातिथि के आधार पर स्नान दान की वैशाख पूर्णिमा 16 मई को है. इस चंद्र ग्रहण का प्रभाव भारत में नहीं होगा. इस आधार पर 16 मई को प्रात:काल से ही पूर्णिमा का स्नान दान किया जाएगा.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Chandra Grahan, Dharma Aastha

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर