लाइव टीवी

Valmiki Jayanti: वाल्मीकि जयंती पर करीबियों को भेजें ये SMS, Whatsapp, Facebook Messages, Images

News18Hindi
Updated: October 13, 2019, 11:41 AM IST
Valmiki Jayanti: वाल्मीकि जयंती पर करीबियों को भेजें ये SMS, Whatsapp, Facebook Messages, Images
वाल्मीकि जयंती पर करीबियों को भेजें ये SMS

वाल्मीकि जयंती (Valmiki Jayanti): महर्षि वाल्मीकि का जन्म आश्विन मास के शुक्‍ल पक्ष की पूर्णिमा के दिन हुआ था. शरद पूर्णिमा भी इसी दिन पड़ती है. इसीलिए शरद पूर्णिमा वाले दिन ही महर्षि वाल्मीकि का जन्मदिन भी मनाया जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2019, 11:41 AM IST
  • Share this:
वाल्मीकि जयंती (Valmiki Jayanti): आज वाल्मीकि जयंती है. महर्षि वाल्मीकि ने ही संस्कृत भाषा के पहले महाकाव्य रामायण (Ramayan) की रचना की थी. हर साल जिस दिन शरद पूर्णिमा (Sharad Purnima) पड़ती है उसी दिन वाल्मीकि जयंती (Valmiki Jayanti) भी मनाई जाती है. दरअसल, महर्षि वाल्मीकि का जन्म आश्विन मास के शुक्‍ल पक्ष की पूर्णिमा के दिन हुआ था. शरद पूर्णिमा भी इसी दिन पड़ती है. इसीलिए शरद पूर्णिमा वाले दिन ही महर्षि वाल्मीकि का जन्मदिन भी मनाया जाता है. आज महर्षि वाल्मीकि जयंती के मौके पर देश में कई जगहों पर उनकी पूजा अर्चना और आरती की जाएगी. इसके साथ कुछ जगहों पर वाल्मीकि समाज वाल्मीकि शोभा यात्रा (Valmiki Jayanti Yatra) भी निकालेगा. आइए आपको बताते हैं वाल्मीकि जयंती (Valmiki Jayanti) पर कुछ ऐसे शुभकामना सन्देश जो आप अपने करीबियों, दोस्तों और रिश्तेदारों को भेजकर उन्हें वाल्मीकि जयंती की शुभकामनाएं दे सकते हैं...

1. लिख दी जिसने कथा पवित्र सीता-राम की
साथ ही बताई भक्ति रामभक्त हनुमान की
प्रेम भाई भरत और लक्ष्मण का अनूठा

कैसे मां कौशल्या दशरथ से भाग्य रूठा
वाल्मीकि जयंती की शुभकामनाएं.

इसे भी पढ़ें: Sharad Purnima Recipe: शरद पूर्णिमा पर ऐसे बनाएं केसरिया खीर का अमृत प्रसाद, खाकर उंगलियां चाटेंगे लोग
Loading...

2. गुरु होता सबसे महान
जो देता है सबको ज्ञान
आओ इस वाल्मीकि जयंती पर
करें अपने गुरु को प्रणाम
3. दर्शन देख देख मैं जीवा.. चरण धोए धोए मैं पीवा..

वाल्मीकि प्रभु सबसे ऊंचे..मैं सबना तो नीवा !! जय वाल्मीकि

इसे भी पढ़ें: शरद पूर्णिमा 2019: जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजा की विधि, खीर का करें सेवन

4. जैसे पके हुए फलों को गिरने के सिवा कोई भय नहीं,

वैसे ही पैदा हुए मनुष्य को मृत्यु के सिवा कोई भय नहीं.

जय महर्षि वाल्मीकि जी

हम तो वो बादल है, जो सिर्फ बरसते है.

गरजे जो हमारे आगे. वो घर को भागे.

जय वाल्मीकि भगवान...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कल्चर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 10:07 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...