होम /न्यूज /धर्म /Chaitra Navratri Vastu Tips: चैत्र नवरात्रि पर अपनाएं वास्तु के ये आसान टिप्स, जीवन से दूर होंगे सारे कष्ट

Chaitra Navratri Vastu Tips: चैत्र नवरात्रि पर अपनाएं वास्तु के ये आसान टिप्स, जीवन से दूर होंगे सारे कष्ट

कलश को ईशान कोण यानी उत्तर पूर्व की तरफ स्थापित करना चाहिए.

कलश को ईशान कोण यानी उत्तर पूर्व की तरफ स्थापित करना चाहिए.

Vastu Tips in Chaitra Navratri 2022: चैत्र नवरात्रि के इन 9 दिनों को माता दुर्गा की पूजा (Puja) आराधना के लिए सबसे शुभ ...अधिक पढ़ें

Vastu Tips in Chaitra Navratri 2022: चैत्र नवरात्रि की शुरुआत हो चुकी है. नवरात्रि के इन 9 दिनों को माता दुर्गा की पूजा (Puja) आराधना के लिए सबसे शुभ दिन माना गया है. वैसे तो यदि भक्त भगवती की सच्चे मन से पूजा और आराधना करे तो भी उसे सुख समृद्धि और मां दुर्गा का आशीर्वाद प्राप्त हो सकता है. फिर भी कई लोग मां दुर्गा (Maa Durga) को प्रसन्न करने के लिए कई तरह के उपाय करते हैं. नवरात्रि के ये 9 दिन वास्तु के लिहाज से भी बहुत अहम माने गए हैं. आज हम आपको वास्तु के कुछ टिप्स (Vastu Tips) बताने जा रहे हैं. जिनसे इस नवरात्रि में आप अपने घर व जीवन में मां दुर्गा की कृपा पा सकते हैं.

वास्तु उपाय-

– नवरात्रों के दौरान घट स्थापना के समय कलश को ईशान कोण यानी उत्तर पूर्व की तरफ स्थापित करना चाहिए. वास्तु शास्त्र के अनुसार ईशान कोण पूजा पाठ के लिए सबसे शुद्ध और उत्तम दिशा मानी गई है. इस प्रकार से घट स्थापना करने से घर में सुख समृद्धि आती है.

यह भी पढें – जानें मकड़ी का शरीर पर चढ़ना किस बात का संकेत माना जाता है

– यदि आप भी मां दुर्गा के लिए अखंड ज्योत प्रज्वलित करते हैं तो वास्तु शास्त्र के अनुसार इस ज्योत को आग्नेय दिशा मतलब दक्षिण पूर्व दिशा की तरफ रखें. वास्तु शास्त्र के अनुसार इससे घर के सभी दोष दूर होते हैं साथ ही घर के सदस्यों की बीमारियां भी ठीक होती हैं, और शत्रु पर विजय मिलती है.

– नवरात्रों के दौरान अपने घर के मुख्य दरवाजे पर माता लक्ष्मी के चरण घर के अंदर की तरफ आते हुए कुमकुम से बनाने चाहिए. ऐसा करने से माता लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और घर में धन वैभव की कभी कमी नहीं होती.

यह भी पढें – 7 Asan Upay: सप्ताह के सातों दिन करें ये 7 उपाय, नहीं होगी धन की कमी

– नवरात्रि के 9 दिन पूर्ण होते ही हर व्यक्ति को जिसने अपने घर में घट स्थापना की हुई है. उसे कन्या भोजन अवश्य कराना चाहिए. साथ ही कन्याओं को सम्मान पूर्वक भोजन कराकर सामर्थ्य के अनुसार दक्षिणा देनी चाहिए. ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से घर के सभी वास्तु दोष दूर होते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Chaitra Navratri, Dharma Aastha, Religion, Vastu, Vastu tips

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें