होम /न्यूज /धर्म /किस देवता के सामने कौन सा दीपक जलाना होता है शुभ? जीवन में सफलता पाने के लिए ध्यान रखें ये बातें

किस देवता के सामने कौन सा दीपक जलाना होता है शुभ? जीवन में सफलता पाने के लिए ध्यान रखें ये बातें

दीपक सकारात्मकता और शुभता का प्रतीक है.

दीपक सकारात्मकता और शुभता का प्रतीक है.

जिस प्रकार देवताओं की पूजा का विधान अलग-अलग होता है, उसी तरह प्रत्येक देवता के दीपक जलाने का महत्व भी अलग-अलग होता है. ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

प्रत्येक देवता के दीपक जलाने का महत्व अलग-अलग होता है.
दीपक सकारात्मकता और शुभता का प्रतीक है.

Worshipping rules: हिंदू धर्म में सभी देवताओं का अपना महत्व है. सभी देवताओं की पूजा-विधि भी अलग-अलग है. किसी भी शुभ कार्य में दीपक जलाया जाता है. भगवान की पूजा में भी दीपक का खास महत्व होता है. दीपक सकारात्मकता और शुभता का प्रतीक है. ज्योतिषियों के अनुसार, जिस प्रकार देवताओं की पूजा का विधान अलग-अलग होता है, उसी तरह प्रत्येक देवता के दीपक जलाने का महत्व भी अलग-अलग होता है.

पंडित इंद्रमणि घनस्याल बताते हैं कि देवताओं की पूजा करने के दौरान दीपक जलाने से जुड़ी महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना चाहिए.

प्रत्येक दीपक का अपना महत्व

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, प्रथम पूजनीय देवता श्री गणेश की पूजा में तीन बत्तियों वाला घी का दीपक जलाना शुभ होता है. इससे भगवान श्री गणेश प्रसन्न होते हैं और उनका आशीर्वाद परिवार पर बना रहता है.

-मान्यता है कि मां लक्ष्मी की पूजा में सात मुखी दीपक जलाना चाहिए. इससे मां लक्ष्मी प्रसन्न रहती हैं और सभी तरह की आर्थिक परेशानियां दूर होती हैं.

-हनुमानजी की पूजा में तीन कोनों वाला दीपक जलाना शुभ माना गया है. इससे सभी तरह के संकटों का नाश होता है. घर परिवार में सुख-समृद्धि का वास होता है.

यह भी पढ़ेंः मोर पंख को लेकर क्या कहता है वास्तु शास्त्र, किस दिशा में रखना होता है लाभकारी

यह भी पढ़ेंः जल, फल और गुड़ जैसी इन वस्तुओं का गुप्त दान माना जाता है महादान, पूरे होते हैं मनोरथ

-ज्योतिषियों के अनुसार, भगवान सूर्य को सरसों के तेल का दीपक जलाना अच्छा रहता है. इससे सूर्य की तरह सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है.

-भगवान विष्णु को सात, सोलह बत्तियों का दीपक जलाना शुभ माना गया है. इसी तरह दो मुखी दीपक से मां दुर्गा प्रसन्न रहती हैं. भगवान कार्तिकेय की पूजा के लिए पंचमुखी दीपक का उपयोग किया जाता है.

इन बातों का रखें ध्यान
शास्त्रों के अनुसार, देवताओं को गाय का शुद्ध घी का दीपक जलाना चाहिए. वहीं, शनिदेव को तेल का दीपक जलाना शुभ माना गया है. ज्योतिषियों का कहना है कि धार्मिक मान्यताओं के अनुसार ही भगवान के दीपक करना चाहिए. इससे भगवान की कृपा बनी रहती है और सभी तरह के संकट दूर होते हैं.

Tags: Dharma Aastha, Religion

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें