होम /न्यूज /धर्म /पहली रोटी गाय और आखिरी रोटी कुत्ते के लिए क्यों बनाई जाती है? जान लीजिए वजह

पहली रोटी गाय और आखिरी रोटी कुत्ते के लिए क्यों बनाई जाती है? जान लीजिए वजह

किसी की कुंडली में शनि या राहु केतु का दोष है तो उसे हर रोज रात को अंत में बनाई जाने वाली रोटी कुत्ते को खिलानी चाहिए. (Image-Canva)

किसी की कुंडली में शनि या राहु केतु का दोष है तो उसे हर रोज रात को अंत में बनाई जाने वाली रोटी कुत्ते को खिलानी चाहिए. (Image-Canva)

Pehli aur Akhiri Roti: हमारे यहां अधिकतर घरों में सुबह की पहली रोटी गाय (Cow) को खिलाई जाती है. यह परंपरा हमारे यहां सद ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

हिंदू धर्म में गाय को माता का दर्जा दिया जाता है.
हिंदू शास्त्रों में गाय को देव तुल्य भी माना गया है.

Pehli aur Akhiri Roti: हिंदू धर्म (Hinduism) में गाय को गौ माता कहकर संबोधित किया जाता है. प्राचीन काल से ही ऋषि मुनि से लेकर बड़े-बड़े राजा (King) महाराजाओं के यहां भी गायों को पाला जाता रहा है. हिंदू शास्त्रों (Hindu Shastra) के अनुसार गायों की सेवा करने से पुण्य की प्राप्ति होती है. हमारे यहां अधिकतर घरों में सुबह की पहली रोटी गाय (Cow) को खिलाई जाती है. यह परंपरा हमारे यहां सदियों से चली आ रही है. शायद आपके घर में भी सुबह पहली रोटी गाय को और आखरी रोटी कुत्ते को खिलाने के लिए बनती होगी, लेकिन क्या आपको पता है कि ऐसा क्यों किया जाता है अगर नहीं पता तो चलिए जानते हैं भोपाल निवासी ज्योतिषी एवं पंडित हितेंद्र कुमार शर्मा.

जान लीजिए वजह

हिंदू धर्म में गाय को माता का दर्जा दिया जाता है. इसके अलावा गाय को देव तुल्य भी माना गया है. शास्त्रों में ऐसा बताया गया है कि गाय के शरीर में सभी देवी देवताओं का वास होता है और जब हम पहली रोटी गाय को खिलाते हैं तो सभी देवी देवताओं को भोग लग जाता है. ऐसा करने से सभी देवी देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है. धर्म शास्त्रों में ऐसा माना गया है कि आप भगवान को भोग लगाएं या गाय माता को पहली रोटी खिलाएं दोनों का फल एक समान ही होता है.

यह भी पढ़ें – सप्ताह के सातों दिन करें ये 7 उपाय, नहीं होगी धन की कमी

– ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि किसी की कुंडली में शनि या राहु केतु का दोष है तो उसे हर रोज रात को अंत में बनाई जाने वाली रोटी कुत्ते को खिलाना चाहिए. ऐसा करने से आपकी कुंडली में जो दोष है वह खत्म हो जाते हैं.

– ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि यदि किसी के घर में सुख शांति का अभाव है और उस घर में थोड़ी-थोड़ी बात पर कलह होती रहती है, तो ऐसे व्यक्ति को रोज सुबह बनाई गई पहली रोटी गाय को और आखिर में बनाई गई रोटी कुत्ते को खिलाना चाहिए. ऐसा करन से घर में शांति आती है.

यह भी पढ़ें – क्या शिव और शंकर अलग-अलग हैं? जानें दोनों में क्या है अंतर

– ज्योतिष शास्त्र में ऐसा भी बताया गया है कि यदि आप गरीबी और आर्थिक परेशानी से जूझ रहे हैं तो आपके घर में सुबह बनने वाली पहली रोटी के चार टुकड़े करके पहला टुकड़ा गाय को, दूसरा टुकड़ा कुत्ते को, तीसरा टुकड़ा कौओं को और चौथा टुकड़ा किसी चौराहे पर रख देना चाहिए. ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से आपको घर की सभी आर्थिक समस्याओं से छुटकारा मिल जाता है.

Tags: Dharma Aastha, Religion

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें