मां का नशा बच्चों के लिए साबित हुआ जानलेवा, तीन मासूम भाई-बहनों की मौत

मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में एक नशे में चूर महिला अपने बच्चों के साथ नदी में कूद गई. इस घटना में महिला को तो बचा लिया गया, लेकिन उसके तीनों बच्चों की मौत हो गई.

मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में एक नशे में चूर महिला अपने बच्चों के साथ नदी में कूद गई. इस घटना में महिला को तो बचा लिया गया, लेकिन उसके तीनों बच्चों की मौत हो गई.

मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में एक नशे में चूर महिला अपने बच्चों के साथ नदी में कूद गई. इस घटना में महिला को तो बचा लिया गया, लेकिन उसके तीनों बच्चों की मौत हो गई.

  • Share this:

मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में एक नशे में चूर महिला अपने बच्चों के साथ नदी में कूद गई. इस घटना में महिला को तो बचा लिया गया, लेकिन उसके तीनों बच्चों की मौत हो गई.

जानकारी के मुताबिक, हिराटोला घुलघुली निवासी रजनी बैगा नामक महिला अपने बच्चों सनी, संजय और साक्षी को करकेली के करहीटोला गांव में अपने मायके लेकर जा रही थी. रादस्ते में वो नौरोजाबाद में जोहिला नदी के सिद्ध घाट के पास रुक गई और वहां घंटों तक बैठी रही.

इस दौरान रजनी नशे में धुत्त थी. थोड़ी ही देर बाद महिला ने अपने तीनों बच्चों को साथ में लेकर छलांग लगा दी. ये नजारा देख घाट पर मौजूद लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया. कुछ लोगों ने हिम्मत दिखाते हुए नदी में कूदकर महीला की जान बचा ली, लेकिन बच्चों तक जब तक पहुंचा जाता तब तक उन्होंने दम तोड़ दिया.



मृतक बच्चों में से सनी और साक्षी का शव बरामद हो गया है, जबकि 8 साल के बड़े बेटे संजय के शव को ढूंढने के लिए गोताखोरों को काफी मशक्कत करनी पड़ी.
सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेते हुए महिला को अस्तपाल रवाना किया गया. बताया जा रहा है कि महिला नशे में इतनी चूर थी कि वो किसी बात का जवाब भी नहीं दे पा रही थी, जिस वजह से मामले में उसके बयान नहीं लिए जा सके हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज