• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • 12TH BOARD EXAM 2021 DEMAND FOR CANCELLATION OF 12TH EXAM CBSE ICSE HEARING POSTPONED IN SUPREME COURT

CBSE, ICSE 12th Board Exam: CBSE, ICSE की 12वीं की परीक्षा रद्द करने की मांग, सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई टली

CBSE Board Exam 2021: सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को मामले की सुनवाई होगी.

CBSE, ICSE 12th Board Exam: कोविड-19 की स्थिति को ध्यान में रखते हुए सीबीएसई और सीआईएससीई 12वीं कक्षा की लंबित बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में विभिन्न विकल्पों पर विचार कर रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार की तरफ से अटार्नी जनरल ने कहा कि सरकार परीक्षा को लेकर अगले दो दिन में फैसला लेगी. सुप्रीम कोर्ट में आज मामले की सुनवाई टल गई है. सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को मामले की सुनवाई होगी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आप एक निर्णय ले सकते हैं यदि आप पिछले साल नीति से अलग कर रहे हैं, तो आपको अच्छे कारणों को देना चाहिए.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि याचिकाकर्ताओं की आशा है कि पिछले साल अपनाई गई नीति का इस साल भी पालन किया जाना चाहिए, इसलिए अगर आप उससे अलग कर रहे हैं तो आपको अच्छे कारणों को देना चाहिए.

परीक्षाएं रद्द करना और वैकल्पिक मूल्यांकन पद्धति अपनाने पर विचार
इससे पहले की खबर ये थी कि कोविड-19 की स्थिति को ध्यान में रखते हुए सीबीएसई और सीआईएससीई 12वीं कक्षा की लंबित बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में विभिन्न विकल्पों पर विचार कर रहा है. इनमें परीक्षाएं रद्द करना और वैकल्पिक मूल्यांकन पद्धति अपनाना या संक्षिप्त प्रारूप में परीक्षा कराना शामिल है.

कई विकल्पों पर अभी भी विचार
एक सूत्र ने बताया, 'अधिकतर राज्यों ने अगस्त में प्रमुख विषयों के लिए छोटी अवधि की परीक्षाओं के बारे में सीबीएसई द्वारा प्रस्तावित विकल्प का समर्थन किया है. कोविड-19 स्थिति की अभी भी समीक्षा की जा रही है और परीक्षा रद्द करना और पिछली परीक्षाओं के आधार पर छात्रों को अंक देने समेत कई विकल्पों पर अभी भी विचार किया जा रहा है.'

12वीं के छात्रों द्वारा प्राप्त औसत अंक जमा करने को कहा
इस बीच, सीआईसीएसई बोर्ड ने अपने संबद्ध स्कूलों से कक्षा 11 में और इस सत्र के दौरान कक्षा 12वीं के छात्रों द्वारा प्राप्त औसत अंक जमा करने को कहा है. हालांकि, बोर्ड की ओर से यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि क्या परीक्षा रद्द होने की संभावना है. वहीं, स्कूलों ने बोर्ड द्वारा निर्धारित सात जून की समय सीमा को पूरा करने के लिए काम करना शुरू कर दिया है.

एक जून तक अंतिम निर्णय की घोषणा
हालांकि, शिक्षा मंत्रालय ने कहा, 'अभी तक कुछ भी तय नहीं किया गया है और एक जून तक अंतिम निर्णय की घोषणा की जाएगी. मंत्री पहले ही जोर देकर कह चुके हैं कि छात्रों की सुरक्षा प्राथमिकता है लेकिन ये परीक्षाएं भी महत्वपूर्ण हैं.'

परीक्षाओं को रद्द करने के निर्देश देने के अनुरोध वाली याचिका 
उच्चतम न्यायालय देश में कोविड-19 के मामले बढ़ने के मद्देनजर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) और काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) की 12वीं कक्षा की परीक्षाओं को रद्द करने के निर्देश देने के अनुरोध वाली याचिका पर आज यानी 31 मई को सुनवाई कर रहा था.

ये भी पढ़ें-
KIITEE 2021 Phase 1 Result declared: KIITEE 2021 के फेज 1 का रिजल्ट जारी, ऐसे करें चेक
कोरोना से पेरेंट्स को खोने वाले स्टूडेंट्स के लिए केंद्र सरकार के ऐलान, पढ़ें डिटेल


न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी की पीठ ने शुक्रवार को एक सुनवाई में याचिकाकर्ता से कहा था, 'आशावादी रहें. सोमवार (31 मई) तक कुछ समाधान हो सकता है.'

छात्रों और अभिभावकों के एक बड़े वर्ग द्वारा परीक्षा रद्द करने की मांग के बीच, मंत्रालय ने पिछले रविवार को इस मुद्दे पर विचार करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई थी जिसमें राज्य के शिक्षा मंत्री और शिक्षा सचिव भी शामिल हुए थे. (भाषा के इनपुट के साथ)