Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    UP के इन शहरों में बनेंगे 13 मेडिकल कॉलेज, 15 Dec से पहले काम शुरू करने का आदेश

    मुख्यमंत्री ने  कहा कि गोरखपुर में राज्य आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास 25 जनवरी 2021 से पूर्व कराकर निर्माण कार्य प्रारम्भ कराया जाए.
    मुख्यमंत्री ने  कहा कि गोरखपुर में राज्य आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास 25 जनवरी 2021 से पूर्व कराकर निर्माण कार्य प्रारम्भ कराया जाए.

    मुख्यमंत्री ने  कहा कि गोरखपुर में राज्य आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास 25 जनवरी 2021 से पूर्व कराकर निर्माण कार्य प्रारम्भ कराया जाए.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 21, 2020, 2:16 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के 13 जिलों में स्वीकृत मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य 15 दिसम्बर 2020 से पहले प्रारम्भ कराए जाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा है कि इसके लिए समयबद्ध ढंग से कार्रवाई की जाए.

    मेडिकल कॉलेजों, राज्य आयुष विश्वविद्यालय गोरखपुर 
    मुख्‍यमंत्री शुक्रवार को यहां अपने सरकारी आवास पर स्वीकृत मेडिकल कॉलेजों, राज्य आयुष विश्वविद्यालय गोरखपुर तथा पशु चिकित्सा विज्ञान महाविद्यालय गोरखपुर आदि परियोजनाओं के निर्माण कार्यों की समीक्षा कर रहे थे.

    इन शहरों में मेडिकल कालेज स्वीकृत किए गए हैं
    राज्‍य सरकार द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार सुलतानपुर, चन्दौली, बुलंदशहर, पीलीभीत, औरैया, बिजनौर, कानपुर देहात, कुशीनगर, गोंडा, कौशाम्बी, सोनभद्र, ललितपुर व लखीमपुर खीरी में मेडिकल कालेज स्वीकृत किए गए हैं.



    निर्माण  कार्यों के प्रारम्भ के साथ ही पूर्ण होने की तारीख भी तय
    मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी निर्माण  कार्यों के प्रारम्भ के साथ ही उनके पूर्ण होने की तारीख भी निर्धारित होनी चाहिए. उन्‍होंने कहा कि मेडिकल कॉलेजों के निर्माण में किसी प्रकार की शिथिलता न बरती जाए.

    ये भी पढ़ें-
    School Re-Open: मुंबई में स्कूल 31 दिसम्बर तक बंद रहेंगे, बीएमसी ने की घोषणा
    जवाहर नवोदय विद्यालयों में छठीं कक्षा में दाखिले के लिए 15 दिसंबर तक करें आवेदन

    आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास 25 जनवरी 2021 से पूर्व 
    मुख्यमंत्री ने  कहा कि गोरखपुर में राज्य आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास 25 जनवरी 2021 से पूर्व कराकर निर्माण कार्य प्रारम्भ कराया जाए.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज