BSEB Bihar Board 10th Result 2021: कोव‍िड के समय में मैट्र‍िक र‍िजल्‍ट को लेकर ब‍िहार बोर्ड ने क‍िया यह बड़ा बदलाव

इस साल ब‍िहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में 16 लाख 84 हजार 466 परीक्षार्थी शामिल हुए थे.इनमें से 8 लाख 37 हजार 803 छात्राएं और 8 लाख 46 हजार 663 छात्र थे.

bseb 10th result bihar board Webinar: बि‍हार बोर्ड के नतीजों को जारी करने के ल‍िए इस बार प्रेस कॉन्‍फ्रेंस का आयोजन नहीं क‍िया गया है. इस साल बोर्ड वेबनायर के जरि‍ए र‍िजल्‍ट जारी कर रहा है

  • Share this:
    Bihar Board Matric Result: बि‍हार बोर्ड ने कोरोना काल में 12वीं  के बाद समय पर 10वीं यानी मैट्रि‍क का र‍िजल्‍ट जारी कर एक र‍िकॉर्ड बनाया है. वहीं कोरोना काल में बोर्ड ने एग्‍जाम की कॉप‍ियां चेक करने से लेकर र‍िजल्‍ट जारी करने तक कई ऐहति‍यातें बरती हैं. बोर्ड ने सोमवार को 10वीं के नतीजों को जारी करने के ल‍िए वेबनायर क‍िया है. इसके ज‍र‍िए बोर्ड बच्‍चों की र‍िजल्‍ट मीड‍िया के सामने रखेगा.  इस बार बि‍हार के श‍िक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी सोमवार यानी आज दोपहर साढ़े तीन बजे मैट्रिक पर‍िणाम जारी करेंगे. इसकी जानकारी प्रेस र‍िलीज के जर‍िए सबको इसकी सूचना दी जाएगी.

    10वीं बोर्ड के नतीजे का हर अपडेट जानने के ल‍िए इस ल‍िंक पर क्‍लि‍क  करें   

    सोमवार को 10वीं के नतीजे जारी होने के साथ ही 16 लाख से अधिक परीक्षार्थियों का इंतजार खत्म हो गया. इस बार 10वीं की बोर्ड परीक्षा में 16 लाख 84 हजार 466 परीक्षार्थी शामिल हुए थे, जिसमें से 8 लाख 46 हजार 663 छात्र और 8 लाख 37 हजार 803 छात्राएं रहीं. परीक्षा का आयोजन 17 फरवरी 2021 से 24 फरवरी 2021 तक किया गया था.
    इस साल बिहार 10वीं बोर्ड की परीक्षा का 17 फरवरी से शुरू हुई थी. इस साल ब‍िहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में 16 लाख 84 हजार 466 परीक्षार्थी शामिल हुए थे.इनमें से 8 लाख 37 हजार 803 छात्राएं और 8 लाख 46 हजार 663 छात्र थे.
    बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (बिहार बोर्ड या बीएसईबी) ने 20 मार्च को 10वीं की 'आंसर की' जारी कर दी थी और इस पर अगर किसी छात्र को कोई आपत्‍त‍ि थी तो उसे 22 मार्च तक का समय दिया गया था.
    10वीं की परीक्षा में पास होने के ल‍िए हर व‍िषय में छात्र को 30 फीसदी नंबर लाना जरूरी है. वहीं एक या दो विषय में कम नंबरों से फेल होने वाले विद्यार्थियों को बोर्ड की ओर से ग्रेस अंक देकर पास कर दिया जाएगा. पिछली बार 10वीं की परीक्षा में बोर्ड की ओर से करीब 1,41,677 विद्यार्थियों को ग्रेस अंक देकर पास किए गए थे.
    अगर कोई छात्र बिहार बोर्ड 10वीं की परीक्षा में कंपल्सरी विषय में फेल होता है, तो उसे चुने गए अतिरिक्त विषय के नंबरों के जरिए पास किया जाएगा. वहीं विद्यार्थी को अंग्रेजी के विषय में पास होना जरूरी है. इसके अलावा विद्यार्थी को सामाजिक विज्ञान और विज्ञान के प्रैक्टिल, लिखित और इंटरनल असेसमेंट में पास होना अनिवार्य है.
    पिछली बार की तुलना में इस बार 10वीं बोर्ड परीक्षा में एक लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल हुए. पिछली बार 10 मैट्रिक परीक्षा में कुल 14,94,071 विद्यार्थी शामिल हुए थे, जिनमें 729213 छात्र और 7,64,858 छात्राएं शामिल थीं.
    पिछले बार मैट्रिक परीक्षा में 80.59 फीसदी विद्यार्थी पास हुए थे. परीक्षा परिणाम 26 मई को जारी किया गया था. बोर्ड के अनुसार, पिछले साल 10वीं की बोर्ड परीक्षा में 4,03,392 विद्यार्थी फर्स्ट डिवीजन, 524217 सेकेंड डिवीजन और 2,75,402 विद्यार्थी थर्ड डिवीजन से पास हुए थे.
    इस बार 10वीं की बोर्ड परीक्षा प्रदेश के कुल 1525 केंद्र पर संपन्न हुई थी. सबसे ज्यादा परीक्षा केंद्र पटना में बनाए गए थे. वहीं बोर्ड की ओर से परीक्षा के सफल संचालन के लिए कंट्रोल रुम भी बनाया गया था और नंबर भी जारी किए गए थे.परीक्षा का आयोजन कोरोना प्रोटोकाल के तहत किया गया था. वहीं केंद्र के 200 मीटर के दायरे में धारा 144 लागू की गई थी.
    परीक्षा परिणाम बीएसईबी की अधिकारिक वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in पर जारी किए जाएंगे.
    छात्र बोर्ड की अधिकारिक वेबसाइट और hindi.news18.com पर भी अपने नतीजे देख सकते हैं. इसके अलावा परीक्षार्थी हमारी वेबसाइट hindi.news18.com पर रजिस्ट्रेशन करके भी देख सकते हैं. hindi.news18.com से रिजल्ट पाने के लिए ऐसे करें रजिस्ट्रेशन.
    आपको बता दें क‍ि ब‍िहार बोर्ड ने 10वी के टॉपर का वेरिफिकेशन और मेर‍िट ल‍िस्‍ट का काम रव‍िवार को ही पूरा कर ल‍िया था. बताया जा रहा है क‍ि छात्रों के मार्क्‍स को कंप्‍यूटर में फीड क‍िया जा चुका है और टॉपर्स की कॉप‍ियों को भी री-चेक करवाया जा चुका है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.