ब‍िहार मैट्रिक र‍िजल्‍ट: टॉप 3 में 11 में से 7 लड़क‍ियां, जानें क‍िस मामले में लड़कों से प‍िछड़ी

बिहार बोर्ड के मैट्रि‍क के र‍िजल्‍ट में इस साल टॉपर्स की संख्‍या बड़ी है और  टॉप 3 में कुल 11 छात्र शाम‍िल हुए है जिनमें से 7 केवल छात्राएं हैं

बिहार बोर्ड के मैट्रि‍क के र‍िजल्‍ट में इस साल टॉपर्स की संख्‍या बड़ी है और टॉप 3 में कुल 11 छात्र शाम‍िल हुए है जिनमें से 7 केवल छात्राएं हैं

bihar result: ब‍िहार बोर्ड की मैट्रिक की परीक्षा में 16 लाख से ज्‍यादा छात्र परीक्षा में बैठे थे, ज‍िनमें से कुल 12 लाख 93 हजार 54 पास हुए. इनमें से छह लाख 76 हजार 518 छात्र इस साल पास हुए जबक‍ि छह लाख 16 हजार 536 छात्राएं पास हुईं.

  • Share this:

BSEB 10th result 2021: बिहार बोर्ड के मैट्रि‍क के र‍िजल्‍ट में इस साल टॉपर्स की संख्‍या बड़ी है और टॉप 3 में कुल 11 छात्र शाम‍िल हुए है जिनमें से 7 केवल छात्राएं हैं. पर इस पर ब‍िहार के सिमुलतला आवासीय विद्यालय की पूजा कुमारी ने टॉप क‍िया है और उनके साथ शुभदर्शिनी और बलदेव हाई स्कूल दिनारा, रोहतास के संदीप कुमार ने संयुक्त रूप से पहले स्थान पर कब्जा जमाया है. इन तीनों ने के 500 में 484 अंक यानी 96.80 प्रत‍िशत मार्क्‍स आए हैं. वहीं इस बार ब‍िहार की लड़क‍ियों का पास प्रत‍िशत लड़कों से बेहतर नहीं रहा है. ब‍िहार मैट्रिक के र‍िजल्‍ट में इस बार छात्राओं की अपेक्षा छात्र अधिक पास हुए हैं.

ब‍िहार बोर्ड की मैट्रिक की परीक्षा में 16 लाख से ज्‍यादा छात्र परीक्षा में बैठे थे, ज‍िनमें से कुल 12 लाख 93 हजार 54 पास हुए. इनमें से छह लाख 76 हजार 518 छात्र इस साल पास हुए जबक‍ि छह लाख 16 हजार 536 छात्राएं पास हुईं. मैट्रिक के नतीजों में इस साल तीन लाख 60 हजार 655 परीक्षार्थी फेल हुए हैं. फर्स्‍ट डि‍व‍िजन से चार लाख 13 हजार 87 पास हुए हैं. वहीं सेकेंड ड‍िवि‍जन से 5 लाख 615 और थर्ड ड‍िव‍िजन से तीन लाख 78 हजार 980 परीक्षार्थियों को सफलता मिली है.

फर्स्‍ट और सेकेंड से छात्र और थर्ड डिव‍िजन से सबसे ज्‍यादा छात्राएं हुई पास

वहीं ब‍िहार बोर्ड के अनुसार, इस साल फर्स्‍ट ड‍िव‍िजन में 4 लाख 13 हजार और 87 परीक्षार्थियों शाम‍िल हुए हैं. जिनमें से सबसे ज्‍यादा दो लाख 47 हजार और 496 केवल छात्र हैं. वहीं सेकेंड ड‍िव‍िजन की बात करें तो इस साल सबसे ज्‍यादा परीक्षार्थी इसमें ही पास हुए हैं. इसमें भी सबसे ज्‍यादा संख्‍या छात्रों की है. वहीं थर्ड ड‍िविजन में इस साल सबसे कम रही है. इस साल 3 लाख 78 हजार और 980 परीक्षार्थी थर्ड ड‍िव‍िजन से पास हुए हैं. इनमें सबसे अध‍िक छात्रा रहीं. थर्ड ड‍िव‍िजन से दो लाख आठ हजार और 848 छात्रा और एक लाख 70 हजार 132 छात्र सफल हुए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज