बोर्ड ने लिया अहम फैसला, कोविड संक्रमित परीक्षार्थियों की बाद में होगी परीक्षा

स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉक्टर सुरेश कुमार सोनी ने कहा कि छात्रों की सुरक्षा को देखते हुए परीक्षा केंद्र पर सभी छात्रों की थर्मल स्कैनिंग की जाएगी और उनका रिकॉर्ड मेंटेन किया जाएगा.

स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉक्टर सुरेश कुमार सोनी ने कहा कि छात्रों की सुरक्षा को देखते हुए परीक्षा केंद्र पर सभी छात्रों की थर्मल स्कैनिंग की जाएगी और उनका रिकॉर्ड मेंटेन किया जाएगा.

स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉक्टर सुरेश कुमार सोनी ने कहा कि छात्रों की सुरक्षा को देखते हुए परीक्षा केंद्र पर सभी छात्रों की थर्मल स्कैनिंग की जाएगी और उनका रिकॉर्ड मेंटेन किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2021, 12:54 PM IST
  • Share this:
धर्मशाला. कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के बीच हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की 10वीं और 12वीं की वार्षिक परीक्षाएं 13 अप्रैल से शुरू हो रही हैं. ऐसे में बोर्ड ने परीक्षार्थियों को राहत देते हुए कोविड-19 संक्रमित परीक्षार्थियों के बारे में लिए गए निर्णय में बदलाव किया है. स्कूल शिक्षा बोर्ड ने परीक्षार्थियों को बड़ी राहत देते हुए कहा कि जो भी परीक्षार्थी कोरोना संक्रमित होगा, उसकी वार्षिक परीक्षाएं बाद में ली जाएगी.

हालांकि इससे पहले बोर्ड ने कोरोना संक्रमित परीक्षार्थियों की वार्षिक परीक्षा उसी दिन अलग कक्ष में करवाने की बात कही थी लेकिन अब सुरक्षा के मध्यनजर कोरोना संक्रमित परीक्षार्थियों की परीक्षा उनके स्वस्थ होने व 13 अप्रैल से शुरु होने वाली वार्षिक परीक्षाओं के समाप्त होने के बाद आयोजित की जाएंगी. इन परीक्षार्थियों के लिए स्कूल शिक्षा बोर्ड फिर से डेटशीट बनाएगा तथा दोबारा उनके प्रश्न पत्र तैयार किए जाएंगे.

बोर्ड द्वारा परीक्षाओं के सफलतापूर्वक संचालन में सहयोग के लिए डी.सी., सी.एम.ओ. सहित पुलिस विभाग को भी पत्र लिख दिया है. परीक्षार्थी का तापमान अधिक पाया जाता है या फिर उसमें कोरोना के लक्षण दिखाई देते हैं तो उस परीक्षार्थी के कोरोना टैस्ट के लिए स्वास्थ्य विभाग से सहयोग लिया जाएगा. परीक्षा के दौरान किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पुलिस कर्मियों की भी सहायता ली जाएगी.

कंटेनमेंट जोन से आने वाले परीक्षार्थी भी परीक्षा में भाग ले सकेंगे. वहीं यदि किसी परीक्षार्थी के परिवार के लोग कोरोना पॉजीटव हैं तो भी परीक्षार्थी परीक्षा में भाग लेगा, बर्शते परीक्षार्थी की कोरोना रिपोर्ट नैगटिव होनी चाहिए.
स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉक्टर सुरेश कुमार सोनी ने कहा कि छात्रों की सुरक्षा को देखते हुए परीक्षा केंद्र पर सभी छात्रों की थर्मल स्कैनिंग की जाएगी और उनका रिकॉर्ड मेंटेन किया जाएगा. साथ ही परीक्षा में ड्यूटी देने वाले अध्यापकों की भी थर्मल स्कैनिंग की जाएगी. उन्होंने कहा कि अध्यापकों से कोविड टेस्ट करवाने का आग्रह किया गया है और कोविड-19 फ्री अध्यापकों की ड्यूटी ही परीक्षा के दौरान लगाई जाएगी.

ये भी पढ़ें- 

GK Top-10 Questions : किस ग्रंथ से लिया गया है 'सत्यमेव जयते' वाक्य ?



Top-10 GK Questions : कौन थे आरबीआई के पहले गवर्नर ? पढ़ें ऐसे 10 जरूरी सवाल

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज