Haryana school Board : HTET की परीक्षा में दूसरे को बैठाया तो खैर नहीं, बोर्ड ने लिया बड़ा फैसला

मोबाइल फोन से नकल करते पकड़े जाने पर एक साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया जााएगा.

मोबाइल फोन से नकल करते पकड़े जाने पर एक साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया जााएगा.

BSEH : हरियाणा में शिक्षक पात्रता परीक्षा सहित अन्य परीक्षाओं में नकल और फर्जीवाड़ा करने वालों के खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे. ऐसे अभ्यर्थियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के साथ प्रतिबंधित करने जैसी कार्रवाई की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 7:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा में आयोजित होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा (HTET) में दूसरे को बैठाकर परीक्षा दिलवाने वालों के खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे. हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने कहा कहा है कि जिसके स्थान पर फर्जी परीक्षार्थी बैठेगा, उसे HTET परीक्षा देने से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा.

इसके अलावा बोर्ड की ओर से आयोजित अन्य परीक्षाओं में मोबाइल फोन या अन्य कोई इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के साथ नकल करता पकड़ा जाता है तो उसे एक वर्ष के लिए अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा. बोर्ड ये कदम परीक्षाओं में होने वाली नकल और फर्जीवाड़े को रोकने के लिए उठाए हैं. यह जानकारी बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने दी है.

बैठक में लिया गया फैसला



इस संबंध में गठित विनियम कमेटी के सदस्यों और बोर्ड के अधिकारियों की शुक्रवार को बोर्ड मुख्यालय में एक बैठक हुई. बैठक में फैसला हुआ है फर्जी परीक्षार्थियों से परीक्षा दिलाने के मामले में केंद्र अधीक्षक की तरफ से एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी और उसे अगले तीन साल के लिए अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा. वहीं, मोबाइल फोन या किसी भी इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण के जरिए नकल करते पकड़े जाने पर एक वर्ष का प्रतिबंध लगाया जाएगा.
इसी तरह डीएलएड परीक्षाओं में कोई नकल करता पाया जाता है या अपने स्थान पर किसी दूसरे परीक्षार्थी को परीक्षा में प्रविष्ट करवाता है, तो उसे ‘नोट फिट फॉर डिप्लोमा’ घोषित कर दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि आगामी दो मार्च से शुरू होने वाली डीएलए की परीक्षाओं में भी यही परिवर्तित नियम लागू होंगे.
नकल उन्मूलन निबंध प्रतियोगिता

बता दें कि बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने कुछ सप्ताह पहले परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए नकल उन्मूलन निबंध प्रतियोगिता आयोजित करने का फैसला लिया था. उन्होंने कहा था कि नकल रोकने में शिक्षकों की भी अहम भूमिका है तथा परीक्षाओं को नकल रहित संचालित करवाने में उन्हें पूर्ण कतर्व्यनिष्ठा और ईमानदारी से कार्य करना होगा. वे राष्ट्र निर्माता होने के नाते अपने कतर्व्य से विमुख नहीं हो सकते.



ये भी पढ़ें-

haryana open school: सेकेंडरी और सीनियर सेकेंडरी परीक्षा के लिए आवेदन की तिथि बढ़ी

Maharashtra HSC SSC Board Exams 2021 Date Sheet: महाराष्ट्र बोर्ड ने जारी की 10वीं, 12वीं एवं वोकेशनल परीक्षाओं की डेटशीट, डायरेक्ट लिंक से करें चेक

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज