होम /न्यूज /education /Career In Fine Arts: ड्रॉइंग पेंटिंग जैसे सब्जेक्ट्स में इंटरेस्ट है तो फाइन आर्ट फील्ड में बनाएं करियर, जानें सबकुछ

Career In Fine Arts: ड्रॉइंग पेंटिंग जैसे सब्जेक्ट्स में इंटरेस्ट है तो फाइन आर्ट फील्ड में बनाएं करियर, जानें सबकुछ

Bachelor of Fine Arts: बीएफए कोर्स में एडमिशन लेने के लिए बारहवीं में 50 से 60 प्रतिशत नंबरों से पास होना चाहिए.

Bachelor of Fine Arts: बीएफए कोर्स में एडमिशन लेने के लिए बारहवीं में 50 से 60 प्रतिशत नंबरों से पास होना चाहिए.

Career In Fine Arts: बीएफए कोर्स (Bachelor of Fine Arts) करने के बाद भारत में नौकरी के भरपूर मौके मिलते हैं.जो आपके इंट ...अधिक पढ़ें

    हाइलाइट्स

    फाइन आर्ट्स के लिए स्केचिंग, ड्रॉइंग, पेंटिंग, राइटिंग स्किल्स हैं जरूरी.
    बीएफए (Bachelor of Fine Arts) कोर्स करने के बाद भारत में नौकरी के हैं भरपूर मौके.
    Career In Fine Arts: आर्ट, ड्रॉइंग और पेंटिंग जैसे विषयों में रूचि है तो बारहवीं के बाद फाइन आर्ट फील्ड बेहतर विकल्प हो सकता है. किसी भी विषय के प्रतिभागी इस क्षेत्र में स्नातक कर सकते है. इस कोर्स में ड्रॉइंग, पेंटिंग, मूर्तिकला, फोटोग्राफी, डिजाइनिंग जैसे विषयों की पढ़ाई कराई जाती है. नौकरी के अलावा स्वरोजगार के मौके भी खूब मिलेंगे.  जानते हैं फाइन आर्ट कोर्स के बारे में.

    क्या होनी चाहिए योग्यता
    बीएफए कोर्स में एडमिशन लेने के लिए बारहवीं में 50 से 60 प्रतिशत नंबरों से पास होना चाहिए. अगर आपके मार्क्स 50 परसेंट से कम हैं तो आपको प्राइवेट कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन मिलना मुश्किल होगा. ऐसे में आपके लिए राष्ट्र और राज्य स्तर पर होने वाले एंट्रेंस एग्जाम का प्रावधान है. एंट्रेंस एग्जाम में अच्छे मार्क्स से पास होने के बाद मेरिट के आधार पर आपको फाइन आर्ट से जुड़े कोर्स में एडमिशन मिलेगा.

    कौन से कॉलेज कराते हैं यह कोर्स
    भारत में कई ऐसे गवर्नमेंट और प्राइवेट संस्थान हैं जो फाइन आर्ट की पढ़ाई कराई जाती है यह कॉलेज पढ़ाई के साथ ही साथ स्टूडेंट्स में कई तरह की स्किल्स डेवलप करने पर भी जोर देते हैं. आइये जानते हैं कौन से है वो कॉलेज जहां से आप  यह कोर्स कर सकते हैं.
    बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी,दिल्ली यूनिवर्सिटी, श्री संकराचार्य यूनिवर्सिटी ऑफ संस्कृत एर्नाकुलम, जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी,जामिया मिलिया इस्लामिया दिल्ली,बैंगलोर यूनिवर्सिटी,विश्व भारती यूनिवर्सिटी, हैदराबाद यूनिवर्सिटी,इलाहाबाद यूनिवर्सिटी,अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, सर जे जे स्कूल ऑफ आर्ट मुंबई, मुंबई यूनिवर्सिटी, रविन्द्र भारती यूनिवर्सिटी कलकत्ता, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी आदि मुख्य यूनिवर्सिटी हैं जहां से आप यह कोर्स कर सकते हैं.
    बीएफए कोर्स की जरूरी स्किल्स

    बीएफए कोर्स करने के लिए पढ़ाई के साथ आपमें में कुछ ऐसी बेसिक स्किल्स भी होनी चाहिये जो इस फील्ड के स्टूडेंट्स के लिए मददगार साबित होंगी. आइये जानते हैं कौन सी हैं वे स्किल्स.

    फाइन आर्ट्स के लिए स्केचिंग, ड्राइंग, पेंटिंग, राइटिंग जैसी स्किल्स तो जरूरी हैं ही इसके अलावा आपकी सोच काफी क्रिएटिव होनी ताकि किसी भी असाइनमेंट को आप बेहतर तरह से प्रस्तुत कर सकें. इसके साथ ही अगर आपकी इमेजिनेशन पावर अच्छी होगी तो खुद से नए आइडियाज पर काम कर पाना आपके लिए बेहद आसान  होगा. बातों को तुरंत समझ पाने की शक्ति भी बेहतर होनी चाहिए ताकि खुद के काम को लोगों के सामने बेहतर तरह से रख पाये.

    बीएफए के बाद नौकरी के मौके
    बीएफए कोर्स करने के बाद भारत में नौकरी के भरपूर मौके मिलते हैं.जो आपके इंट्रेस्ट से जुड़े होते हैं. आइये जानते हैं की कौन से ऐसे प्लेटफार्म है जो आपको नौकरी के अवसर देते हैं.
    फ़िल्म इंडस्ट्री में आर्ट डायरेक्टर, फिल्म सेट डिज़ाइनर,फैशन डिज़ाइनर, कार्टूनिस्ट, ग्राफ़िक डिज़ाइनर, एनिमेटर, एलेस्टर, UX डिज़ाइनर, टेक्सटाइल डिज़ाइनर, पेंटर,फोटोग्राफ़र, प्रोडक्ट डिज़ाइनर, इंटीरियर डिज़ाइनर, इंडस्ट्रियल डिज़ाइनर, कोरियोग्राफर, डांस टीचर, टेक्निकल डिज़ाइनर, थिएटर आर्टिस्ट, आर्ट टीचर, आर्ट कंजरवेटर, फाइन आर्टिस्ट के तौर पर भी करियर संवार सकते हैं.
    ये भी पढ़ें-

    Tags: Career, Job business and earning

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें