Home /News /education /

career tips bachelor in visual communication fees offbeat career options after 12th

Career Tips: 12वीं के बाद करें विजुअल कम्युनिकेशन का कोर्स, जानें योग्यता और फीस

Career Tips: 12वीं के बाद मेरिट या एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर कॉलेज में दाखिला मिलता है

Career Tips: 12वीं के बाद मेरिट या एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर कॉलेज में दाखिला मिलता है

Career Tips, Bachelor In Visual Communication, Career Options After 12th: 12वीं के बाद ऑफबीट करियर ऑप्शंस की डिमांड काफी बढ़ गई है. बैचलर इन विजुअल कम्युनिकेशन (BA in Visual Communication) कोर्स किसी भी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स कर सकते हैं. इसमें कैंडिडेट चाहें तो डुअल डिग्री भी ले सकते हैं. इस फील्ड में पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद रिसर्च के अलावा सरकारी या प्राइवेट संस्थानों में काम करने का विकल्प भी मौजूद रहता है. यह कोर्स करने के बाद आप औसत सैलरी लगभग 2,00,000 लाख से 7,00,000 लाख रुपये सालाना तक कमा सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

ऑफबीट करियर ऑप्शन के तौर पर उभर रहा है विजुअल कम्युनिकेशन
इसमें डुअल डिग्री का ऑप्शन भी मिलता है
एडमिशन के लिए 12वीं में 50 प्रतिशत अंकों से पास होना जरूरी है

नई दिल्ली (Career Tips, Bachelor In Visual Communication). अब 12वीं के बाद ऑफबीट कोर्स की डिमांड बढ़ गई है (Offbeat Career Options after 12th). बैचलर इन विजुअल कम्युनिकेशन ग्राफिक डिजाइनिंग के क्षेत्र से थोड़ा अलग है. इसमें प्रिंट या पब्लिकेशन यूनिट, टीवी इंडस्ट्री या अन्य मीडिया इंडस्ट्री में सूचना के प्रसारण से जुड़े बेसिक्स सीखते हैं.

देश के टॉप संस्थानों सेबीए इन विजुअल कम्युनिकेशन (BA in Visual Communication) में तीन साल की बैचलर डिग्री और दो साल की मास्टर्स डिग्री के कोर्स किए जा सकते हैं. यह कोर्स करने के बाद औसत सैलरी 2 लाख से 7 लाख रुपये तक सालाना हो सकती है. वहीं, कोर्स की औसत फीस 30,000 से लेकर 3 लाख रुपये सालाना तक हो सकती है.

जानें कोर्स की योग्यता
1- बैचलर इन विजुअल कम्युनिकेशन कोर्स में स्नातक करने के लिए किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से 12वीं में 50 प्रतिशत अंकों से पास होना जरूरी है .
2- रिज़र्व कैटेगरी के स्टूडेंट्स के लिए 12वीं में कम से कम 45 प्रतिशत अंक होने अनिवार्य हैं.

बीए इन विजुअल कम्युनिकेशन में प्रवेश प्रक्रिया
विजुअल कम्युनिकेशन में बैचलर्स का कोर्स दो तरह से किया जा सकता है- प्रवेश परीक्षा के आधार पर और डायरेक्ट एडमिशन के जरिए.
1- डायरेक्ट एडमिशन के लिए 12वीं में टॉप मार्क्स होने चाहिए. हर कॉलेज में दाखिले के लिए कट ऑफ लिस्ट तैयार की जाती है. मेरिट लिस्ट में पहली बार में नंबर आ गया तो दाखिला मिलना आसान होता है .
2- दाखिले की दूसरी प्रक्रिया प्रवेश परीक्षा के आधार पर होती है. संबंधित यूनिवर्सिटी परीक्षा का आयोजन करती है. अगर परीक्षा में अच्छे नंबर आए तो काउंसलिंग के जरिए मनपसंद संस्थान में एडमिशन मिल सकता है.

इन संस्थानों से करें बीए इन विजुअल कम्युनिकेशन कोर्स
विजुअल कम्युनिकेशन उभरता हुआ करियर ऑप्शन है, जिसका भविष्य में काफी स्कोप है. इसको देखते हुए देश के इन संस्थानों ने इस कोर्स को अपने पाठ्यक्रम में शामिल किया है-
1. बिशप वैली मेमोरियल क्रॉस होली क्रॉस, कोटियाम- मेरिट बेस्ड
2. महात्मा गांधी विश्वविद्यालय, कोट्टायम- एंट्रेंस बेस्ड
3. GITAM, हैदराबाद- एंट्रेंस बेस्ड
4. मजलिस आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज, पुरमन्नूर- मेरिट बेस्ड
5. सेंट थॉमस कॉलेज, थिसूर- मेरिट बेस्ड

इस प्रोफाइल पर कर सकते हैं काम
विजुअल कम्युनिकेशन का कोर्स करने के बाद कई प्रोफाइल पर काम कर सकते हैं. इनमें ग्राफ़िक आर्टिस्ट डेस्कटॉप पब्लिकेशन, डिजिटल फोटोग्राफर, विजुलाइजर, मार्केटिंग एक्सपर्ट जैसे प्रोफाइल शामिल हैं. मीडिया हाउस, कॉलेज और विश्वविद्यालय, फोटो जर्नलिज्म, प्रिंट और प्रोडक्शन हाउस, फिल्म प्रोडक्शन, विज्ञापन एजेंसियों, बिजनेस डिजाइनिंग, विज्ञापन फर्म आदि में नौकरी कर सकते हैं.

विजुअल कम्युनिकेशन में सैलरी
विजुअल कम्युनिकेशन कोर्स करने के बाद आप फ्रीलांसर के तौर पर भी करियर बना सकते हैं. सभी प्रोफाइल के लिए शुरुआती दौर से ही बढ़िया सैलरी निर्धारित है (Visual Communication Salary). इस इंडस्ट्री में अन्य सेक्टर की तुलना में सैलरी जल्दी बढ़ती है. प्रोफाइल, इंडस्ट्री और वर्क एक्सपीरियंस के आधार पर सैलरी बढ़ती जाएगी.

ये भी पढ़ें:
वारिस को अंग्रेजी में क्या कहते हैं? रिश्तों की इस लिस्ट से दूर करें अपना कंफ्यूजन
सिर्फ 1 साल की थी तैयारी, 22 साल की उम्र में IAS बनीं अनन्या सिंह

Tags: Career, Career Guidance, Job and growth

अगली ख़बर