CBSE 10th Result 2021: रिजल्‍ट को लेकर सीबीएसई ने उठाया ये बड़ा कदम, छात्र जरूर जानें

CBSE कक्षा 10वीं के परिणाम पर बड़ा अपडेट.

CBSE कक्षा 10वीं के परिणाम पर बड़ा अपडेट.

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने हाल ही में सीबीएसई 10वीं बोर्ड परीक्षा 2021 के लिए अंक सारणीकरण नीति (tabulation policy) की घोषणा की है.

  • Share this:

CBSE Class 10 Board Exam 2021 Result. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने हाल ही में सीबीएसई कक्षा 10 बोर्ड परीक्षा 2021 के लिए अंक सारणीकरण नीति (Tabulation policy) की घोषणा की है. CBSE ने 10वीं बोर्ड परीक्षा 2021 को रद्द कर दिया था और CBSE 10वीं बोर्ड परीक्षा 2021 छात्रों के मूल्यांकन के लिए एक मानकीकृत और निष्पक्ष तरीके से मूल्यांकन मानदंड तैयार किया है. छात्र आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर लॉग इन करके मूल्यांकन नीति का विवरण देख सकते हैं.

CBSE संबद्ध स्कूलों को 10वीं बोर्ड परीक्षा 2021 की परिणाम प्रक्रिया पूरी करने के लिये 5 जून तक छात्रों के अंक, CBSE के साथ साझा करने होंगे और फाइनल परिणाम की घोषणा 20 जून को किए जाने हैं. परिणामों की गणना के लिए प्रक्रिया जारी है और समिति के सदस्यों को सीबीएसई कक्षा 10वीं बोर्ड परीक्षा 2021 परिणामों के बारे में चर्चा करने के लिए ऑनलाइन बैठक करने का निर्देश दिया गया है.

इस बात पर गौर करें कि बोर्ड ने सीबीएसई से मान्यता प्राप्त स्कूलों से कहा है कि वे परिणाम को अंतिम रूप देने के लिए प्रिंसिपल और सात शिक्षकों से मिलकर एक परिणाम समिति बनाएं. इस समिति में स्कूल के पांच शिक्षक गणित, सामाजिक विज्ञान, विज्ञान और दो भाषाओं से होने चाहिए. इसके साथ ही पड़ोसी स्कूलों के दो शिक्षकों को समिति के एक्‍सटर्नल मेम्‍बर्स के रूप में स्कूल द्वारा चुना जाना चाहिए.

अपनी अधिसूचना में, सीबीएसई ने बताया है कि सीबीएसई 10वीं बोर्ड परीक्षा 2021 के प्रत्येक विषय के लिए अधिकतम 100 अंकों का मूल्यांकन किया जाएगा. इसमें 20 अंक आंतरिक मूल्यांकन के लिए और 80 अंक साल के अंत में बोर्ड परीक्षा के लिए आवंटित किए जाएंगे. अब तक, अधिकांश स्कूलों ने आंतरिक मूल्यांकन किया है और अधिकांश स्कूलों ने पहले ही सीबीएसई पोर्टल पर अपना डेटा अपलोड कर दिया है.
ऐसे में जब वर्ष के आखिरी में परीक्षा का आयोजन नहीं हुआ है तो स्‍कूलों को रिजल्‍ट तैयार करने के लिये वर्ष के दौरान स्कूल द्वारा आयोजित विभिन्न परीक्षणों/ परीक्षाओं में उम्मीदवार द्वारा प्राप्त अंकों का इस्‍तेमाल करना होगा. स्कूल-आधारित मूल्यांकन और वेटेज के लिए जिन परीक्षाओं का उपयोग किया जाएगा, उनमें पीरियोडिक टेस्ट या यूनिट टेस्ट (10 अंक), अर्धवार्षिक या मध्यावधि परीक्षा (30 अंक) और प्री-बोर्ड परीक्षा (40 अंक) शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- 

UKPSC Answer Key: पर्सनल असिस्‍टेंट एग्‍जाम की आंसर की जारी, डायरेक्‍ट लिंक पर चेक करें



REET 2021 परीक्षा फिर स्थगित, 20 जून को नहीं होगी परीक्षा

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज