CBSE ने जारी किया निर्देश, स्‍कूलों को अपनी वेबसाइट पर देनी होगी फीस से परिणाम तक की जानकारी

सीबीएसई ने सभी स्‍कूलों के ल‍िये नये निर्देश जारी किए हैं.

सीबीएसई ने सभी स्‍कूलों के ल‍िये नये निर्देश जारी किए हैं.

सीबीएसई एफिलिएटेड सभी स्‍कूलों को बोर्ड की ओर से निर्देश जारी किया गया है. स्‍कूलों को छात्रों की फीस से लेकर उनके परीक्षा परिणाम तक की सारी जानकारी देनी होगी.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. सीबीएसई एफिलिएटेड सभी स्‍कूलों को बोर्ड की तरफ से नये निर्देश जारी किए गए हैं. नये निर्देश के अनुसार स्‍कूलों को अपनी वेबसाइट पर परीक्षा परिणाम से लेकर छात्रों से ली जा रही फीस तक की पूरी जानकारी अपलोड करनी होगी. CBSE के इस फैसले से अभिभावक खुश हैं. इससे सीधा फायदा अभिभावकों को होगा. इससे यह स्‍पष्‍ट हो सकेगा कि कौन सा स्‍कूल कितनी फीस ले रहा है. इसके अलावा छात्रों के एडमिशन में भी मदद मिल सकेगी. जिन स्कूलों ने आधी-अधूरी जानकारियां अपलोड की हैं, उन्हें भी पूरी जानकारी अपलोड करनी होगी. इससे पहले स्‍कूल अपनी फीस की जानकारी वेबसाइट पर नहीं दिया करते थे.

पारदर्श‍िता नहीं होने पर कार्रवाई:

सीबीएसई के नये नियमों के तहत स्‍कूल यदि अपनी फीस और अपने परिणामों की जानकारी वेबसाइट पर नहीं देते हैं, तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है. यहां तक कि स्‍कूल की मान्‍यता रद्द की जा सकती है.

सीबीएसई ने कहा कि बोर्ड यह कदम पारदर्शिता के लिये उठा रहा है. इस कदम के बाद, अभिभावकों और स्‍कूल के बीच अब पारदर्शिता रहेगी. नये निर्देशों के बाद छात्रों और अभिभावकों को स्‍कूल की वेबसाइट पर 10वीं और 12वीं के परिणाम भी प्राप्‍त होंगे. 10वीं और 12वीं के परिणाम ना केवल वर्तमान वर्ष के, बल्‍क‍ि पिछले तीन वर्ष के परिणाम देने होंगे. इसके अलावा स्‍कूल के प्रिंसिपल और इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर से जुड़ी जानकारी भी स्‍कूलों को देनी होगी.
अनिवार्य होंगी ये जानकारियां

1. प्रिंसिपल का नाम और शैक्षणिक योग्यता

2. 10वीं व 12वीं के पिछले तीन साल का रिजल्‍ट



3. स्‍कूल का फोन नंबर, ई-मेल आइडी, मान्यता प्रमाण पत्र

4. स्‍कूल में सैनिटाइजेशन की क्‍या व्‍यवस्‍था है और इसके लिये प्रमाण पत्र, स्कूल परिसर का क्षेत्र, कक्षा की संख्या व आकार

5. स्कूल फीस

6. सोसायटी पंजीकरण और भवन सुरक्षा प्रमाणपत्र

7. स्कूल प्रबंध समिति की सूची, अभिभावक-शिक्षक संगठन के सदस्यों की सूची

8. कंप्यूटर लैब, प्रैक्‍ट‍िक लैब की संख्या और उसका आकार

9. इंटरनेट सुविधा

10 बालक-बालिका शौचालयों की संख्या

ये भी पढ़ें- 

PSPCL Recruitment 2021: क्‍लर्क से लेकर जेई तक के 2,632 पदों पर वैकेंसी, ग्रेजुएट्स फटाफट करें आवेदन

Success Story: पिता था कॉन्स्टेबल, बेटा पांचवे प्रयास में बना PCS

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज