Home /News /education /

CBSE Term 1 Exam: आखिरी के कुछ दिनों में ऐसे करें इतिहास की तैयारी, बन जाएंगे एक्सपर्ट

CBSE Term 1 Exam: आखिरी के कुछ दिनों में ऐसे करें इतिहास की तैयारी, बन जाएंगे एक्सपर्ट

सीबीएसई 12वीं हिस्ट्री एग्जाम पैटर्न

सीबीएसई 12वीं हिस्ट्री एग्जाम पैटर्न

CBSE, CBSE Term 1 Exam, History Exam: सीबीएसई बोर्ड 12वीं की टर्म 1 परीक्षाएं 1 दिसंबर 2021 से शुरू हो रही हैं (CBSE Board Term 1 Exam 2021). बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले सभी छात्र इन दिनों अपनी लास्ट मिनट तैयारी में जुटे हुए हैं (Board Exam Preparation Tips). अगर आप इतिहास विषय यानी हिस्ट्री सब्जेक्ट की परीक्षा को लेकर स्ट्रेस में हैं तो ये एग्जाम टिप्स आपके काम आ सकते हैं (CBSE History Class 12). इतिहास परीक्षा की तैयारी करते समय इन टिप्स (Study Tips) का ख्याल रखेंगे तो बोर्ड परीक्षा को पास करना बहुत आसान हो जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली (CBSE, History Exam). सीबीएसई बोर्ड 10वीं की टर्म 1 परीक्षाएं 30 नवंबर से और 12वीं की परीक्षाएं 1 दिसंबर से शुरू होने वाली हैं (CBSE Board Term 1 Exam). ऐसे में बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले ज्यादातर छात्र काफी टेंशन में हैं (Board Exams 2022). कुछ स्टूडेंट्स को इतिहास विषय से खास तौर पर डर लगता है (CBSE History Class 12). अगर आप सीबीएसई बोर्ड 12वीं कक्षा के छात्र हैं तो जानिए हिस्ट्री एग्जाम में बेहतर मार्क्स हासिल करने के कुछ टिप्स (History Exam Tips).

    किसी भी विषय के लिए पूरी तरह से तैयार होने के लिए उसका सिलेबस और परीक्षा पैटर्न (CBSE Board Exam Pattern) की समझ होना बहुत जरूरी होता है. कक्षा 12वीं के छात्रों को लास्ट मिनट पर किसी भी सब्जेक्ट के लिए टेंशन लेने की जरूरत नहीं है (Board Exam Preparation Tips). इतिहास विषय काफी रोचक और स्कोरिंग होता है. अगर आप चाहें तो अब भी अपनी तैयारी को बिल्कुल दुरुस्त कर सकते हैं. जानिए बोर्ड परीक्षा की तैयारी के खास टिप्स (CBSE History Class 12).

    CBSE 12वीं एग्जाम का पैटर्न (CBSE 12th Exam Pattern)
    1- पेपर में कुल 60 प्रश्न पूछे जाएंगे, जिनमें से छात्रों को 50 प्रश्न हल करने होंगे.
    2- एग्जाम में माइनस मार्किंग नहीं होगी.
    3- पेपर में चार सेक्शन रहेंगे.
    4- पेपर 90 मिनट का रहेगा.
    5- एग्जाम शुरू होने के 20 मिनट पहले स्टूडेंट्स को पेपर दे दिया जाएगा.

    हिस्ट्री एग्जाम सेक्शन ए
    इसमें 24 प्रश्नों में से 20 सवालों के जवाब देने होंगे. डायरेक्ट क्वेश्चन पूछे जाएंगे, जिन्हें बुक रीडिंग और ऑब्जर्वेशन के आधार पर सॉल्व किया जा सकता है.

    हिस्ट्री एग्जाम सेक्शन बी
    इसमें 22 प्रश्नों में से 18 सवालों के जवाब देने होंगे. इस सेक्शन में कई वैरायटी के प्रश्न रहेंगे. इमेज आइडेंटिफिकेशन, महाभारत, कॉमन सेंस, पिक्चर देख कर पहचान करना, किताब आधारित प्रश्न आदि रहेंगे.

    हिस्ट्री एग्जाम सेक्शन सी
    इसमें दो केस स्टडी रहेगी. इनके 12 प्रश्नों में से 10 के जवाब देने होंगे. द्रौपदी और कबीर पर आधारित प्रश्नों के साथ ही ऐतिहासिक क्षणों पर आधारित प्रश्न भी होंगे.

    हिस्ट्री एग्जाम सेक्शन डी
    इसमें मैप पर आधारित दो प्रश्न होंगे और दोनों ही सॉल्व करने अनिवार्य हैं. इंद्रप्रस्थ कहां स्थापित है? अशोका का राज किन स्थानों पर नहीं था? इस तरह के प्रश्न पूछे जाएंगे.

    ये भी पढ़ें:
    CBSE Term 1 Exam: ऐसे सॉल्व करें केमिस्ट्री का पेपर, बन जाएंगे 12वीं के टॉपर
    CBSE Term 1 Exam: थोड़ा मुश्किल रहेगा 10वीं साइंस का पेपर, इस तरह से बनाएं अपनी स्ट्रैटेजी

    कैसे सॉल्व करें सीबीएसई कक्षा 12वीं हिस्ट्री का पेपर (CBSE Class 12th History Paper)
    सीबीएसई कक्षा 12वीं का इतिहास विषय का पेपर अटेंप्ट करने और उसमें अच्छे मार्क्स हासिल करने के लिए ये टिप्स आपके काम आ सकते हैं.

    1- शुरुआत के 20 मिनट में पेपर को अच्छी तरह से पढ़ें और इसी समय डिसाइड कर लें कि कौन से प्रश्न पहले करने हैं. प्लान बनाकर एक्शन लें और पूरे कॉन्फिडेंस के साथ पेपर सॉल्व करें.
    2- शुरुआती 20 मिनट में सेक्शन C और D को अच्छी तरह से पढ़ लें. केस स्टडी और नक्शों को समझने के लिए यही समय सबसे सही रहेगा.
    3- पेपर शुरू होते ही सेक्शन C और सेक्शन D को पहले अटेंप्ट करें. फिर सेक्शन A करें और अंत में सेक्शन B सॉल्व करें.
    4- सेक्शन A सॉल्व करने के लिए बुक रीडिंग अच्छी तरह से करें.
    5- सेक्शन B सॉल्व करने के लिए कॉन्संट्रेशन बनाए रखें और ऑब्जर्वेशन के साथ ही ध्यानपूर्वक कैलकुलेशन करें. इस सेक्शन को सॉल्व करने में टाइम लगेगा. इसकी तैयारी सैंपल पेपर के माध्यम से कर सकते हैं.
    6- सैंपल पेपर सॉल्व करने के दौरान अगर आंसर गलत आ रहा है तो भी कॉन्फिडेंस बनाए रखें और ज्यादा से ज्यादा सैंपल पेपर सॉल्व करें.
    7- सेक्शन C सॉल्व करते हुए क्लैरिटी होना बहुत जरूरी है. रिवीजन करते हुए आइडेंटिफाई करना सीखें कि केस स्टडी किस दौर की है.
    8- सेक्शन D की तैयारी के लिए छात्र पुरानी इमारत, महल, राज्यों की राजधानी कहां हैं, जैसे प्रश्नों की तैयारी कर लें. सैंपल पेपर और बुक के साथ ही गूगल की मददभी ले सकते हैं.

    Tags: Cbse

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर