Home /News /education /

CBSE Term 1 Exam: थोड़ा मुश्किल रहेगा 10वीं साइंस का पेपर, इस तरह से बनाएं अपनी स्ट्रैटेजी

CBSE Term 1 Exam: थोड़ा मुश्किल रहेगा 10वीं साइंस का पेपर, इस तरह से बनाएं अपनी स्ट्रैटेजी

सीबीएसई 10वीं साइंस एग्जाम पैटर्न

सीबीएसई 10वीं साइंस एग्जाम पैटर्न

CBSE, CBSE Term 1 Exam, CBSE Science Class 10: सीबीएसी बोर्ड 10वीं की मेजर विषयों की परीक्षा 30 नवंबर से शुरू होनी तय हैं (CSBE Board Class 10 Exam). इस बार परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में आयोजित होने की वजह से छात्र काफी चिंतित हैं. अगर आप या आपका कोई जानने वाला भी 10वीं बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाला है तो जानिए कैसे करें साइंस पेपर की तैयारी (CBSE Science Class 10). कई छात्र साइंस विषय यानी विज्ञान से काफी घबराते हैं. लेकिन परीक्षा के समय घबराने के बजाय एक खास स्ट्रैटेजी बनाकर उसकी तैयारी करना जरूरी है (Board Exam Preparation Tips).

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली (CBSE, CBSE Science Class 10). सीबीएसई बोर्ड 10वीं की माइनर विषयों की परीक्षा शुरू हो चुकी है, जबकि मेजर विषयों की बोर्ड परीक्षा 30 नवंबर 2021 से शुरू होंगी (CSBE Board 10th Exam). इस साल भी ज्यादातर छात्रों ने अपनी पढ़ाई ऑनलाइन मोड में की थी. स्कूल जाकर पढ़ाई करने और ऑनलाइन मीडियम से पढ़ाई करने में काफी अंतर होता है (Online Education). अगर आप कक्षा 10वीं के साइंस पेपर को लेकर टेंशन में हैं तो जानिए उसमें अच्छे मार्क्स हासिल करने की स्ट्रैटेजी (CBSE Science Class 10).

    अगर हर विषय के लिए सही तरीके से प्लानिंग कर ली जाए तो मुश्किल विषय भी आसान लगने लग जाता है. अब सीबीएसई टर्म 1 बोर्ड परीक्षा को ज्यादा समय नहीं बचा है (CBSE Board Exam Preparation Tips). ऐसे में लास्ट मिनट प्रिपरेशन बहुत ध्यान से करनी होगी. जानिए कैसे करें 10वीं साइंस विषय की परीक्षा की बेस्ट तैयारी (CBSE Science Class 10).

    CBSE 10th एग्जाम का पैटर्न (CBSE 10th Exam Pattern)
    सीबीएसई बोर्ड परीक्षा की तैयारी करने से पहले उसके एग्जाम पैटर्न (CBSE 10th Exam Pattern) को समझना ज्यादा जरूरी है. जानिए सीबीएसई 10वीं साइंस विषय का एग्जाम पैटर्न (CBSE Science Class 10).
    1- CBSE 10वीं परीक्षा में साइंस का पेपर 40 नंबरों का होगा.
    2- पेपर में कुल 60 प्रश्न होंगे, जिनमें से 50 प्रश्नों को हल करना होगा.
    3- एग्जाम में माइनस मार्किंग नहीं होगी.
    4- पेपर में तीन सेक्शन रहेंगे.
    5- पेपर 90 मिनट का रहेगा.
    6- एग्जाम शुरू होने के 20 मिनट पहले स्टूडेंट्स को पेपर दे दिया जाएगा.

    तीन सेक्शन में डिवाइड होगा पेपर (CBSE Paper Division)
    10वीं साइंस पेपर में छात्रों को इस बात का ध्यान रखना होगा कि फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी, तीनों ही टॉपिक के प्रश्न तीनों सेक्शन में रहेंगे (CBSE Science Class 10). किसी भी टॉपिक को सेक्शन वाइज डिवाइड नहीं किया गया है.

    सेक्शन ए
    1- इसमें 24 प्रश्न रहेंगे, जिनमें से 20 प्रश्नों के उत्तर देने होंगे. इस सेक्शन में केमिस्ट्री के प्रश्न इक्वेशन, डायग्राम, केमिकल कॉम्बिनेशन, ग्राफ, लैब प्रैक्टिकल और स्टेटमेंट पर आधारित होंगे.
    2- बायोलॉजी के प्रश्न डायग्राम पर आधारित होंगे. इसमें 5 से 7 प्रश्न रहेंगे, स्टूडेंट्स को पिक्चर देख कर बॉडी पार्ट को पहचानना होगा.
    3- फिजिक्स के प्रश्नों में भी डायग्राम रहेंगे. स्टूडेंट्स को पिक्चर देख कर लेंस पहचानने, मेजरमेंट करने जैसे प्रश्नों के उत्तर देने होंगे.

    सेक्शन बी
    इसमें 24 प्रश्न पूछे जाएंगे, जिनमें से 20 प्रश्नों के उत्तर देने होंगे. इस सेक्शन में 7-8 डायरेक्ट प्रश्न रहेंगे. इस सेक्शन में डाटा एनालिसिस और Assertion & Reason के प्रश्न भी रहेंगे. डाटा एनालिसिस में टेबल के मिसिंग एलिमेंट आइडेंटिफाई करने जैसे प्रश्न रहेंगे.

    सेक्शन सी
    इसमें 2 केस स्टडी के प्रश्न होंगे. इनके 12 प्रश्नों में से 10 के उत्तर देने होंगे. फिजिक्स में किसी इंस्ट्रूमेंट के बनने की केस स्टडी जैसे प्रश्न पूछे जा सकते हैं. स्टूडेंट्स सैंपल पेपर की मदद से इसके प्रश्नों की तैयारी कर सकते हैं.

    ये भी पढ़ें:
    CBSE Term 1 Exam: ऐसे सॉल्व करें केमिस्ट्री का पेपर, बन जाएंगे 12वीं के टॉपर
    Exam Tips: क्या आप परीक्षा में जवाब भूल जाते हैं? इन टिप्स से हैंडल करें प्रेशर

    परीक्षा में इन बातों का रखें ख्याल
    अब लास्ट मिनट प्रिपरेशन को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है. साइंस एग्जाम के दौरान इन बातों का खास ख्याल रखें (CBSE Science Class 10).

    1- शुरुआत के 20 मिनट में पेपर को अच्छी तरह से पढ़ें और इसी समय डिसाइड कर लें कि कौन से प्रश्न पहले करने हैं. प्लान बनाकर पूरे कॉन्फिडेंस के साथ पेपर सॉल्व करें.
    2- शुरुआती 20 मिनट में डायग्राम के प्रश्न पढ़ लें.
    3- NCERT की किताबों पर फोकस करें.
    4- अपनी किताबें पूरी तरह पढ़कर कॉन्सेप्ट क्लियर करें और फिर सैंपल पेपर पढ़ने पर ध्यान दें.
    5- केस स्टडी और डायग्राम को पहले सॉल्व करें. फिर डायरेक्ट प्रश्नों की तरफ बढ़ें.

    Tags: Cbse

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर